बृजमोहन अग्रवाल

आंधी-तूफान म अऊ मजबूत होइस राजिम कुंभ के आस्था

धर्मस्व मंत्री बृजमोहन ह करिस गंगा आरती अऊ भगवान राजीव लोचन के पूजा
अचानक आए तूफान ह राजिम कुंभ म मचाइस अफरा-तफरी, कई अस्थाई निर्माण होइस ध्वस्त

रायपुर, 11.02.2018। आज अचानक आए तेज हवा अऊ बरसा के चलत राजिम कुंभ कल्प म बनाए गए कई पंडाल अउ अस्थायी निर्माण धरासायी हो गे। तार बगर गए, बिजली घलोक गोल हो गीस। रायपुर-गरियाबंद सड़क म जाम के स्थिति निर्मित हो गीस। ए अफरा-तफरी के माहौल ल ठीक करे प्रदेश के धर्मस्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ह खुदे मोर्चा सम्हालिस। वायरलेस सेट हाथ मे लेके बरसा म भींजत पैदले कुंभ स्थल म निकल गए। ये बेरा म उमन वायरलेस म सरलग संदेश देवत पुलिस के तैनात जवान मन ल कई ठन स्थान मन म पहुंचे अउ व्यवस्था सही करे के निर्देश देवत रहिन। राजिम के बड़े पुल म जाम के सूचना मिलतेच ओ मन उहां पहुंचिन अऊ ट्रैफिक जाम ल ठीक करावाइन। ओ मन कुंभ म पधारे साधु-संत मन मेर घलो मिलिन अऊ कुशलक्षेम पूछिन अउ उपस्थित कुंभ समिति के सदस्य मन अउ अफसर मन ल सतत संपर्क बनाए रखे के बात कहिन। इतवार होए के सेती हज़ारों के संख्या म श्रद्धालु आज राजिम पहुंचे रहिन, जेकर सेती घलोक व्यवस्था ल जल्दी दुरुस्त करे म कठिनाई होवत रहिस।




श्री अग्रवाल ह बताइस कि इतवार होए के सेती रायपुर म बहुत अकन कार्यक्रम रहिस जेमा ओ मन ल सामिल होना रहिस। उही कार्यक्रम के बेरा जब रायपुर म बरसा के संग तेज हवा चले लगिस त उमन ल राजिम ल लेके कुछ अंदेशा होइस। तेखर बाद उमन तुरते अपन गाड़ी के रुख सीधा राजिम कोति कर दीन। राजिम पहुंचतेच उहां के नजारा वइसनहे रहिस जइसे उमन ल अंदेसा रहिस। अंधियार हो गए रहिस अऊ क्षेत्र के लाइट गोल रहिस। फेर ड्यूटी म तैनात सबो अधिकारी-कर्मचारी,स्वयंसेवी संगठन मन के कार्यकर्ता मन के परिश्रम ले सब ल नियंत्रित कर ले गीस।
बृजमोहन अग्रवाल ह कहिन कि भगवान के कृपा रहिस के अतीक हवा-तूफान के बाद घलोक कोनो बड़े दुर्घटना नइ घटिस। सबो श्रद्धालु अऊ संत सुरक्षित हवंय। उमन कहिन कि ईश्वर हमर आस्था के परीक्षा लेथे, ये घलोक हमर परीक्षा हे। चाहे जइसे परिस्थिति बनय राजिम कुंभ म होवइया धर्म-कर्म के आयोजन मन म आए हर कठिनाई के हम सामना करबोन अऊ नियत समय म सबो आयोजन पूरा होही। ध्वस्त होए गंगा आरती मंच ल तुरते ठीक करे गीस अऊ नियत समय म आरती करिन। राजिम कुंभ के मुख्य मंच जउन टूट गए रहिस उहां भगवान राजीव लोचन ल फेर स्थापित करके उंखर विधि विधान के संग पूजा-अर्चना करे गीस।



मुहाचाही:  बृजमोहन अग्रवाल अउ प्रेमप्रकाश पाण्डेय महाराष्ट्र दौरा म