छिन भर म पूरा हो गे कई बछर के जुन्ना मांग

  • मुख्यमंत्री ह करिन घोषणा: रेंगाखार-चिल्फी 60 किलोमीटर सड़क बनही आघू महीना, होही भूमिपूजन
  • समाधान शिविर म करिन कई ठन घोषणा: क्षेत्र के 300 घर ल बिजली कनेक्शन जल्दी
  • सिंचाई जलाशय मरम्मत संग कई ठन मांग तुरंते मंजूर

रायपुर, 19 मई 2017। प्रदेशव्यापी लोक सुराज अभियान के तहत मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज मंझनिया कबीरधाम जिला के ग्राम समनापुर म आयोजित लोक समाधान शिविर म सामिल होइन। उमन गांव वाले मन के कई बरिस जुन्ना मांग म आदिवासी बहुल क्षेत्र के ग्राम रेंगाखार ले समनापुर होत चिल्फी तक के 60 किलोमीटर लम्बा अउ सात मीटर चौड़ा सड़क निर्माण जल्द करवाए के घोषणा करिन। मुख्यमंत्री हर कहिन- आघू महीना एकर भूमिपूजन अउ शिलान्यास करे जाही। गांव वाले मन हर ताली बजाके मुख्यमंत्री के ए घोषणा के स्वागत करत ऊंखर प्रति आभार प्रकट करिन।
डॉ. रमन सिंह हर गांव वाले मन ल शिलान्यास समारोह म सामिल होए के न्यौता दीन। उमन कहिन- ये ए क्षेत्र के लोगन के कई बछर के जुन्ना मांग रहिस। वन क्षेत्र म होए के कारण वन अधिनियम के तहत फारेस्ट क्लियरेंस के इंतजार म निर्माण के काम रूके रहिस, फेर अब एखर खातिर फारेस्ट क्लियरेंस मिल गए हे, काम जल्द शुरू हो जाही। ए सड़क म जंगली जानवर मन के सुरक्षित आए-जाए बर सात जघा म अण्डर ग्राउंड ब्रिज घलोक बनवाएं जाही। समनापुर पहुंचे के बाद मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर ले उतरतेच सबले पहिली उहां तेन्दूपत्ता संग्रहण केन्द्र (फड़) ल देखे गीन। उमन संग्राहक मन ल बताइन कि अब 1500 रूपया के जघा म 1800 रूपया प्रति मानक बोरा के दर ले पारिश्रमिक दे जात हे। संगें-संगसंग्रहण म बोनस घलोक मिलही। समाधान शिविर म समनापुर संग तीर-तार के दस ग्राम पंचायत क्षेत्र के ग्रामीण सामिल होइन। शिविर म बताय गीस कि लोक सुराज अभियान के तहत ए गांव मन ले 2651 आवेदन आए रहिस हे। तेमां ले 2607 के निराकरण करे गीस। मुख्यमंत्री हर समाधान शिविर म समनापुर क्लस्टर के गांव मन म 300 विद्युत विहीन घर मन म एक साल के भीतर बिजली के कनेक्शन देहे, समनापुर म सी.सी.रोड बर दस लाख रूपया मंजूर करे अउ अंजना रोड ले समनापुर तक चार किलोमीटर सड़क निर्माण के घलोक घोषणा करिन।
उमन कहिन-समनापुर सिंचाई जलाशय के नहर मरम्मत के काम मनरेगा के तहत करवाए जाही अउ एखर खातिर पहिली अनुपूरक बजट म तीन करोड़ रूपया के प्रावधान करे जाही। उमन समनापुर म बालक आश्रम विद्यालय शुरू करे के घलोक स्वीकृति प्रदान कर दीन। डॉ. सिंह हर क्षेत्र के ग्राम नयापारा, कुकुरपारा अउ भट्टीपारा म सोलर पम्प ले पेयजल व्यवस्था के घलोक निर्देश दीन। उमन ग्राम आमाखोदरा के छात्र डोमार सिंह मरकाम ल औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आई.टी.आई.) के फीस बर स्वेच्छानुदान राशि जल्दी स्वीकृत करे के आश्वासन दीस।

Chief Minister sanctions Rengakaar-Chilfi 60 km road : Electrification of 300 houses soon : Irrigation reservoir to be repaired

Chief Minister Dr. Raman Singh today participated in ‘Samadhaan Shivir’ as a part of Lok Suraj Mission at village Samnapur in district Kabirdham. He sanctioned 60 kilometer long Rengakaar-Saamnapur road in the Adivasi-dominated region. The laying of seven meter wide road will begin as early as possible. Bhoomipujan will be performed next month. The gathering of villagers were excited at the announcement and welcomed it by clapping of hands. Dr. Raman Singh called upon the villagers to participate in the foundation laying ceremony in huge numbers. The demand had been pending for the past several years. As the area falls under Forest Act the clearance had been pending for some time. Seven under-ground bridges also will be built for smooth movement of animals.
Dr. Raman Singh visited the Tendupatta procurement centre as soon as his helicopter landed at Samnapur. He said that the State Government had hiked the wages to Rs 1800 per Tendu patta bag . Bonus is also given. Villagers from ten gram panchayats’ regions participated in the ‘Samadhaan Shivir’. About 2651 complaints had been received during the Lok Suraj campaign out of which 2607 complaints had been redressed.
Chief Minister instructed the officials to provide electricity to 300 residences in the area within one month at the Samnapur cluster. He sanctioned Rs Ten lakh for laying of roads at the village and announced that a road will be laid from Anjana Road-Samnapur soon. Dr. Raman Singh said that Samnapur Irrigation reservoir’s canal will be repaired at a cost of Rs Three crore. He also sanctioned Boys Asram School at Samnapur. He instructed the officials to install solar energy-based drinking water system at villages Nayapara, Kukurpara and Battipara. Dr. Raman Singh assured a student Mr. Domar Singh Markam of village Aamakhadra that his fees at the I.T.I. will be sanctioned from the Discretionary Funds soon.