दिव्यांगजन मन के लइक सामरथ छत्तीसगढ़ बर जम्‍मो के सहभागिता जरूरी: श्री सोनमणि बोरा

रायपुर, 19 मई 2017। समाज कल्याण विभाग के सचिव श्री सोनमणि बोरा हर कहिन कि प्रदेश मं दिव्यांजन मन के के लइक समरथ छत्तीसगढ़ बर जम्‍मो के सहभागिता जरूरी हे। प्रदेश मं दिव्यांगजन मन के लइक समरथ छत्तीसगढ़ के अवधारणा ल मूर्त रूप देहे के संबंध मं आज इहां छत्तीसगढ़ राज्य योजना आयोग भवन मं सामाजिक क्षेत्र के टॉक्स फोर्स समिति के बैठक श्री समीर घोष के अध्यक्षता मं आयोजित करे गीस। बैठक मं श्री बोरा मं कहिन कि सक्षम छत्तीसगढ़ के अवधारणा ल मूर्त रूप देना बहुत जरूरी हे। एखर खातिर जम्‍मो विभाग, स्‍वयं सेवी संगठन अऊ दिव्यांगजन मन के महत्वपूर्ण भूमिका होही। उमन कहिन कि सक्षम छत्तीसगढ़ के अवधारणा ल जीवंत रूप ले प्रदर्शित करइया एक डिस्पले सेंटर राजधानी रायपुर मं स्थापित करे के निर्णय ले गए हे। ए जीवंत प्रदर्शन केन्द्र मं दिव्यांगजन मन के शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक, सांस्कृतिक, खेल-कूद, शिक्षा, स्वास्थ्य, मनोरंजन अऊ दैनिक जीवन ले जुरे सहायक उपकरण अउ तकनीक साफ्टवेयर प्रदर्शित करे जाही। एखर संगें-संग काउसलिंग सेंटर, आधुनिक लाइब्रेरी, सुविधा केन्द्र आदि विकसित करे जाही। एखर बर विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन (डीपीआर) तैयार करे बर राज्य योजना आयोग अऊ सोशल सेक्टर टॉस्क फोर्स समिति के अध्यक्ष श्री समीर घोष से अनुरोध करे गए हे। बैठक मं सामाजिक क्षेत्र मं काम करत विसय विशेषज्ञ मन ह प्रस्तुतीकरण के संग दिव्यांगजन मन के अधिकारी अधिनियम के कई ठन प्रावधान मन के जानकारी दीन। बैठक मं दिव्यांगजन मन ल कौशल प्रशिक्षण, स्वरोजगार बर निःशक्तजन वित्त अउ विकास निगम ले करजा देवाए, सरकारी विभाग मं पद चिन्हित करे संग कई ठन पहलू म चर्चा करे गीस। बैठक मं राज्य योजना के सदस्य श्री पी.पी. सोती, समाज कल्याण विभाग के वरिष्ठ अधिकारी अऊ स्‍वयं सेवी संगठन मन के अड़बड़ झन पदाधिकारी उपस्थित रहिन।