Sahitya किताब डॉ. रमन सिंह

मुख्यमंत्री ले लेखक राजीव रंजन प्रसाद करिस सौजन्य मुलाकात

डॉ. रमन सिंह ल दीन अपन नवा पुस्तक के सौजन्य प्रति

रायपुर, 04 मार्च 2018। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ले आज इहां ऊंखर निवास कार्यालय म वरिष्ठ लेखक राजीव रंजन प्रसाद ह सौजन्य मुलाकात करिन। श्री प्रसाद ह मुख्यमंत्री ल प्रदेश के आदिवासी बहुल दंतेवाड़ा (दक्षिण बस्तर) उपर केन्द्रित अपन नवा पुस्तक ’दन्तक्षेत्र-दंतेवाड़ा: थोड़ा जाना थोड़ा अनजाना’ के सौजन्य प्रति भेंट करिन। डॉ. सिंह ह 450 पेज ले जादा के ए पुस्तक के विसय चीज ल काफी महत्वपूर्ण बताइस। उमन पुस्तक लेखन म करे परिश्रम बर श्री प्रसाद के प्रशंसा करिन अऊ उंखर ए नवा कृति के प्रकाशन म ओ मन ल बधाई दीन।
लेखक श्री राजीव रंजन प्रसाद ह मुख्यमंत्री ल बताइस कि पुस्तक म नक्सल हिंसा अऊ आतंक ले पीडि़त दंतेवाड़ा संग सम्पूर्ण बस्तर अंचल के सामाजिक-सांस्कृतिक इतिहास, रियासत कालीन बस्तर के इतिहास अऊ अभी हाल परिदृश्य उपर प्रकाश डाले गए हे। पुस्तक म नक्सल प्रभावित इलाका मन म होवत विकास काम मन के सेती बदलत परिदृश्य के घलोक येमा वरनन करे गए हे। उल्लेखनीय हे कि बस्तर के जनजीवन उपर केन्द्रित श्री राजीव रंजन प्रसाद के उपन्यास ’आमचो बस्तर’, ’ढोलकल’ अऊ ’बस्तर 1857’ घलोक प्रकाशित होए हे। श्री प्रसाद अभी हाल म नई दिल्ली म निवास करत हें। ओ मन मूल रूप ले बचेली (दंतेवाड़ा) के निवासी हें।



मुहाचाही:  नक्सल पीड़ित धौड़ाई इलाका म आइस नवा अंजोर : डॉ. रमन सिंह