मनखे-मनखे एक बरोबर साप्ताहिक पत्रिका के होईस विमोचन

बिलासपुर, 18 दिसम्बर 2016। आज बिलासपुर के लालपुर म आयोजित गुरूघासीदास जयंती समारोह म घलो मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ह शामिल होईन। सभा ल संबोधित करत उमन कहिन के मनखे-मनखे एक समान अउ ऊंच-नीच के भेद भाव मिटाये खातिर बाबा गुरूघासीदास जी ह सामाजिक समरसता के संदेश देहे हें। उंकर संदेश आज घलव प्रासंगिक हे, छोटे-छोटे पंथी गीतों मन म बड़े-बड़े संदेश मिलथे, जउन पोथी पुराण मन म घलव नई मिलय। ये गोठ आज मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह मुंगेली जिला के विकासखण्ड लोरमी के ग्राम लालपुर म आयोजित गुरूघासीदास जयंती समारोह म कहिन। ये अवसर म उमन लालपुर गुरूघासीदास मंदिर परिसर म बड़का मंच अउ मिनी स्टेडियम निर्माण खातिर स्वीकृति प्रदान करिन।
उमन कहिन के ये कोति के जनता, जनप्रतिनिधि अउ सतनामी कल्याण समिति कोति ले हर साल इहां आये खातिर नेंवता मिलथे। मैं पाछू 17 बछर ले लालपुर आवत हंव। मुख्यमंत्री ह मनखे-मनखे एक बरोबर साप्ताहिक पत्रिका अउ चलो गिरौधपुरी कैसेट के विमोचन घलव करिन। ये कार्यक्रम म खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री पुन्नूलाल मोहले, बिलासपुर क्षेत्र के सांसद लखनलाल साहू, संसदीय सचिव तोखन साहू ह घलव सभा ल संबोधित करिन। कार्यक्रम के संचालन रामकुमार पात्रे अउ आभार जिला पंचायत सदस्य रामेश्वर बंजारे ह करिन। ये मौका म नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल, राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र के सांसद अभिषेक सिंह, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती शांति भास्कर, लोरमी जनपद पंचायत अध्यक्ष श्रीमती वर्षा सिंह ठाकुर, नगर पालिका मुंगेली के उपाध्यक्ष प्रकाश जैन, पूर्व विधायक चोवादास खाण्डेकर, कोमल गिरी गोस्वामी, संभागायुक्त श्रीमती निहारिका बारिक, पुलिस महानिरीक्षक विवेकानंद सिन्हा, कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती फरिहा आलम सिद्दिकी, फणेश्वर पाटले, जीवन बंजारा सहित समाज प्रमुख अउ ग्रामीणजन उपस्थित रहिन।



गुरू बाबा घासीदास ह मिटाइस सामाजिक भेदभाव: डॉ. रमन सिंह






राजनांदगांव, 18 दिसम्बर 2016। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह आज संझा जिला मुख्यालय राजनांदगांव के नंदई चौक म आयोजित बाबा गुरू घासीदास जी के 260वां जयंती समारोह ल संबोधित करत कहिन के बाबा ह अपन प्रेरणा दायक विचार के जरिए ओ समें म समाज म व्‍यापे छुआ-छूत, सामाजिक भेदभाव अउ शोषण ल मिटाये के ऐतिहासिक काम करे रहिन। उमन जम्‍मो दुनिया ल समानता के संदेश दीन। डॉ. सिंह ह ये अवसर म गुरू घासीदास मंदिर म पूजा-अर्चना करके आशीर्वाद लीन। उमन नंदई म वाचनालय भवन निर्माण खातिर पांच लाख रूपया देहे के घोषणा घलव करिन। आयोजक मन बड़का फूल माला पहिरा के मुख्यमंत्री के आत्मीय स्वागत करिन।
मुख्य अतिथि के रूप में पधारे डॉ. रमन सिंह ह समारोह ल संबोधित करत कहिन के बाबा गुरू घासीदास के विचार, उपदेश अउ उखंर बताये मारग आज घलो प्रासंगिक हे। बाबा ह मनखे-मनखे एक समान के संदेश दीस। उकर मानना रहिस के करिया अउ गोरिया के आधार म मनुष्य मन के बीच भेदभाव नइ करे जा सकय। उमन सत्य ल ईश्वर अउ ईश्वरेच ल सत्य मानिन। बाबा गुरूघासीदास के अनुयायी मन ए बात ला सरल ढंग ले पंथी नृत्य के माध्यम ले गांव-गांव तक फैलाइन। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ह कहिन के बाबा ह पुरूष अउ महिला मन के बीच भेदभाव के विरोध करिन। उमन पशु बलि प्रथा के घलव विरोध करिन।
मुख्यमंत्री ह कहिन के बाबा गुरूघासीदास के जन्म स्थली गिरौदपुरी के विकास के समाज के लोगन मन जउन सपना देखे रहिन ओकरे अनुरूप बाबा के जन्म स्थली के विकास करे गए हे। छाता पहाड़ मेला स्थल के सौंदर्यीकरण अउ विकास करे गए हे। बाबा गुरूघासी दास के जन्म स्थान शक्ति स्थल हे। गिरौदपुरी म बाबा के आशीर्वाद ले विशाल जैतखंभ के निर्माण कराये गए हे। मुख्यमंत्री ह ऐहू कहिन के अनुसूचित जाति प्राधिकरण के माध्यम ले सामाजिक अउ आर्थिक विकास के योजना क्रियान्वित करे जावत हे। उमन ये अवसर म गुरूघासीदास धर्मशाला के लोकार्पण घलव करिन। मुख्यमंत्री ह लोगन मन ल गुरूघासीदास जयंती के बधाई अउ शुभकामनाएं दीन।
समारोह ल अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष रामजी भारती, विधायक श्रीमती सरोजनी बंजारे घलव संबोधित करिन। कार्यक्रम म लोकसभा सांसद अभिषेक सिंह, नगर निगम राजनांदगांव के महापौर मधुसूदन यादव, बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष खूबचंद पारख, राज्य समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष श्रीमती शोभा सोनी, छत्तीसगढ़ भंडार गृह निगम के अध्यक्ष नीलू शर्मा अउ जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष सचिन बघेल, सहित कई वरिष्ठ जनप्रतिनिधि अउ सतनाम सेवा समिति के पदाधिकारी उपस्थित रहिन।

Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment