लोक सुराज अभियान 2017 ’’लक्ष्य समाधान का’’

भूमि का कब्जा दिलाने कमिश्नर ने दिये पटवारी को सख्त निर्देश | कमिश्नर श्री महावर अचानक पहुॅचें सूरजपुर और कोरिया जिले के ग्राम पंचायतों में




अम्बिकापुर 27 फरवरी 2017, सरगुजा संभाग के कमिश्नर श्री टी.सी. महावर ‘‘लोक सुराज अभियान 2017 लक्ष्य समाधान का’’ के प्रथम चरण के दूसरे दिन आज कोरिया जिले के जनपद पंचायत बैकुण्ठपुर के ग्राम पंचायत पटना पहुॅचकर ग्रामीणों से उनकी समस्याओं के बारे में पूछताछ की तो एक ग्रामीण रामचरण ने कमिश्नर को बताया कि उसने अपनी पांच डिसमिल जमीन पर दूसरे का कब्जा को हटाने के लिए पिछले वर्ष भी आवेदन दिया था लेकिन अभी तक उन्हें कब्जा नहीं दिलाया गया है। इस पर कमिश्नर ने गहरी नराजगी व्यक्त करते हुए वहां उपस्थित पटवारी प्रीतम बैग को सख्त निर्देश दिये कि वे यथाशीघ्र आवेदक को उसकी भूमि का कब्जा दिलायें तथा की गई कार्यवाही से उन्हें अवगत करायें। उन्होंने पटवारी को सचेत किया कि समय-सीमा में कार्य नहीं करने पर उसके विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी।
कमिश्नर श्री महावर ने लोक सुराज अभियान 2017‘‘ लक्ष्य समाधान का’’ के प्रथम चरण के दूसरे दिन आज सूरजपुर और कोरिया जिले के विभिन्न ग्राम पंचायतों में अचानक पहुॅचकर ग्रामीणों से उनकी समस्याओं के बारे में पूछताछ की। उन्होंने नोडल अधिकारियों से कहा कि जिन आवेदनों का स्थानीय स्तर पर निराकरण हो सकता है, उनका निराकरण भी करायें। उन्होंने कहा कि जिन समस्याओं का स्थानीय स्तर पर निराकरण नहीं हो सकता है उन्हें संबंधित विभाग को भिजवाएं। इसके साथ ही आवेदकों को समाधान शिविर की तिथि और स्थान की भी जानकारी दें ताकि उन्हें उनकी समस्या के निराकरण की जानकारी मिल सके।
कमिश्नर श्री महावर ने आज सूरजपुर जिले के रामानुजनगर जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत देवनगर में आकस्मिक रूप से पहुॅचकर वहां ग्रामीणों से उनकी समस्याओं के बारे में पूछताछ की। उन्होंने नोडल अधिकारी से कहा कि अपनी समस्या के समाधान के लिए आवेदन देने आने वाले सभी ग्रामीणों के आवेदन लेना सुनिश्चित करें। उन्होंने पूछा की किन-किन समस्याओं के ज्यादा आवेदन आ रहे हैं तो इस पर नोडल अधिकारी ने बताया कि आवास, राशनकार्ड में नाम जोड़वाने और सामाजिक सुरक्षा पेंशन आदि के आवेदन प्राप्त हुए हैं।
कमिश्नर श्री महावर ने कोरिया जिले के बैकुण्ठपुर जनपद पंचायत के ग्राम पटना में ग्रामीण गोविन्द धोबी एवं पुरू बाई आदि से पूछा कि उनकी क्या समस्या है। इस पर ग्रामीण गोविन्द धोबी ने बताया कि उसने आवास के लिए आवेदन देने आया है। इसी प्रकार पुरू बाई ने बताया कि सामाजिक सुरक्षा पेंशन के लिए आवेदन देना चाहती है। कमिश्नर ने तहसीलदार से पूछा कि राजस्व संबंधी आवेदन आये हैं या नहीं इस पर तहसीलदार ने बताया कि नामांतरण के एक आवेदन आया है। कमिश्नर ने तहसीलदार को निर्देश दिये कि वे अविवादित नामांतरण एवं बंटवारा आदि के प्रकरणों को प्राथमिकता के आधार पर निराकृत करायें। इसके साथ उन्होंने कहा कि जरूरत मंदों को जाति, निवास आदि प्रमाण पत्र भी उपलब्ध करायें। कमिश्नर ने ग्राम पंचायत पटना में आवेदन दर्ज की जाने वाली पंजी का भी अवलोकन किया। उन्होंने नोडल अधिकारी से कहा कि वे पंजी में कोड सहित आवेदन पत्रों को दर्ज करें। कमिश्नर ने नोडल अधिकारी से कहा कि वे आवेदकों को समाधान शिविर की तिथि और स्थान से भी अवगत करायें, ताकि ग्रामीणजनों को उनकी समस्याओं के समाधान के बारे में जानकारी मिल सकें।


style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">




style="display:block"
data-ad-format="autorelaxed"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="1301493753">

Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment