सर्वश्रेष्ठ बुनकर पुरस्कार बर आवेदन 25 फरवरी तक

स्व. श्री बिसाहूदास मंहत सर्वश्रेष्ठ बुनकर पुरस्कार योजना साल 2014-15 अउ 2015-16'

रायपुर, 14 फरवरी 2017। राज्य सरकार के ग्रामोद्योग विभाग ले स्वर्गीय श्री बिसाहूदास मंहत सर्वश्रेष्ठ बुनकर पुरस्कार बर प्रविष्टि ए महीना के 25 तारीक तक आमंत्रित करे गए हावय। ये पुरस्कार पाछू वित्तीय साल 2014-15 अउ 2015-16 बर देहे जाही। ए योजना के तहत हर साल चुने गए दो श्रेष्ठ बुनकर ल एक-एक लाख रूपया नगद, चिनहारी, शाल अउ श्रीफल देहे जाथे। योजना के तहत प्रदेश के हाथकरघा कपड़ा बुनकर मन के पारम्परिक अउ आधुनिक डिजाईन म आन-आन रंग के संयोजन या बिना रंग के बुने जम्‍मो प्रकार के कपड़ा ल सामिल करे जाही।


style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="6745940556"
data-ad-format="auto">


पुरस्कार बर प्रविष्टि प्रस्तुत करे बर आवेदक ल छत्तीसगढ़ के मूल निवासी होना चाही। आवेदक के उमर कम से कम 18 साल होना चाही, जादा उम्‍मर के मनखे खातिर उम्‍मर के बंधन नइ हे। आवेदक के हाथकरघा म अपन खुद के द्वारा कपड़ा बुनाई करे गए होना चाही। ए संबंध म निरधारित प्रारूप म शपथ पत्र देना होही। एक आवेदक के एके प्रविष्टि ल स्वीकार करे जाही। पहिली पुरस्कृत प्रविष्टि ए योजना म सामिल नइ हो सकय।
प्रविष्टि प्रस्तुत करे के संबंध म आवेदक ल पचास रूपया के स्टाम्प पेपर म शपथ पत्र देना होही। शासकीय, अर्धशासकीय, सहकारी संस्था अउ संघ के कर्मचारी ए योजना म हिस्सा नइ ले सकय। प्रविष्टि म देहे सबो जानकारी अउ प्रमाण के पूरा जिम्‍मेदारी आवेदक के खुदे के होही। पुरस्कार के चयन के संबंध म कोनो आपत्ति या अपील स्वीकार्य नइ होवय। पुरस्कार बर आवेदन पत्र अउ विस्तृत नियम शर्त जिला हाथकरघा कार्यालय रायपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, जगदलपुर, महासमुंद, बिलासपुर, जांजगीर-चांपा, रायगढ़ अउर अम्बिकापुर ले प्राप्त कर सकत हव। आवेदक अपन प्रविष्टि बंद लिफाफा म संबंधित जिला के कलेक्टर के माध्यम ले या जिला हाथकरघा कार्यालय म या संचालक ग्रामोद्योग हाथकरघा संचालनालय इंद्रवती भवन चतुर्थ तल ब्लाक-ए नवा रायपुर म 15 फरवरी तक जमा कर सकत हें। आवेदक ल लिफाफा के ऊपर 'स्व. श्री बिसाहूदास मंहत सर्वश्रेष्ठ बुनकर पुरस्कार योजना साल 2014-15 अउ 2015-16' संग अपन नाम अउ पूरा पता लिखना अनिवार्य हावय।




style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="6745940556"
data-ad-format="auto">

Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment