मेक इन इंडिया के सपना ल साकार करत हे देवांगन समाज : डॉ. रमन सिंह





मुख्यमत्री ह मां परमेश्वरी महोत्सव म संघरिन
देवांगन समाज के भवन के बढ़ोतरी बर 20 लाख रूपया के सहायता के करिन घोषणा


रायपुर, 01 फरवरी 2017। मुख्यमत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन हे कि हाथकरघा बुनकरी के परम्परागत कुटीर उद्योग के संग छत्तीसगढ़ के देवांगन समाज प्रधानमत्री श्री नरेन्द्र मोदी के ’मेक-इन-इंडिया’ के सपना ल साकार करत हे। डॉ. सिंह हर आज जिला मुख्यालय राजनांदगांव स्थित पद्मश्री गोविंद राम निर्मलकर सभागृह म देवांगन समाज कोति ले आयोजित मां परमेश्वरी महोत्सव ल सम्बोधित करत ए आशय के विचार व्यक्त करिन। उमन अड़बड़ झन उपस्थित देवांगन समाज के प्रतिनिधि अऊ लोगन मन ल वसंत पंचमी अऊ मां परमेश्वरी महोत्सव के बधाई अउ शुभकामना दीन।


उमन देवांगन समाज के मांग ल तुरते मानत राजनांदगांव म जिला स्तरीय देवांगन समाज भवन के विस्तार बर 20 लाख रूपए के सहायता के घलोक घोषणा करिन। मुख्यमत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन कि कार्यक्रम म देवांगन समाज के बहिनी मन अड़बड़ झन उपस्थिति हें, ये बात ह समाज म महिला मन के सम्मान अऊ ऊंखर महत्वपूर्ण स्थान ल बतात हे। उमन कहिन कि देवांगन समाज म बहिनी अउ दाई मन के जागरूकताच ह आगू बढ़ने के कारण हे। डॉ. सिंह हर कहिन कि देवांगन समाज हर कपड़ा बुने के संगें-संग प्रशासनिक पद म पहुंचके अऊ अच्छा व्यवसाय स्थापित करके राजनांदगांवच नहीं बल्कि छत्‍तीसगढ़ के घलोक मान देश-विदेश म बढ़ावत हें।






डॉ. सिंह हर कहिन कि 10-12 साल पहिली छत्‍तीसगढ़ म सरकार बने के बाद काम काज के समीक्षा के समय प्रदेश के बुनकर समिति मन के खस्ता हालत के जानकारी मोला मिले रहिस हे। ओ समय प्रदेश के लगभग 80 प्रतिशत बुनकर समिति मन कर्जा के बोझ म लदे रहिन अऊ बैंक मन हर ओ मन ल डिफाल्टर घोषित कर दे रहिन हे। अइसन स्थिति म देवांगन समाज ल आगू बढ़ाए अऊ ऊंखर जीवन यापन बर मजबूत व्यवस्था करे के उद्देश्य ले सरकार हर बुनकर समिति मन के कर्जा ल माफ करे रहिस। उमन कहिन कि सरकार के ए कदम ले प्रदेश के बुनकर समिति मन फेर अपन पांव म खड़े हो गीस अऊ देवांगन समाज के जीवटता अउ मेहनत ले आज छत्‍तीसगढ़ हाथकरघा उद्योग म पूरा देश म विशेष पहिचान रखथे। डॉ. सिंह हर कहिन कि बुनकर समिति मन ल आगू बढ़ाए, युवा पीढी़ ल ए व्यवसाय ले जोड़े राखे अऊ बाजार के प्रतिस्पर्धा ले मुकाबला करे बर घलोक सरकार देवांगन समाज अऊ बुनकर समिति मन ल हर संभव सहायता करे के उदीम करही। युवा बुनकर मन ल कौशल प्रशिक्षण के तहत बुनकरी विधा म निपुण करे खातिर नवां-नवां तकनीक मन के प्रशिक्षण, नवा मशीन मन के जानकारी के संगें-संग समूह बनाके व्यवसाय स्थापित करे बर घलोक सहायता के प्रावधान शासकीय योजना मन म करे गए हे। डॉ. सिंह हर देवांगन समाज ल रेडिमेड कपड़ा निर्माण के काम म घलोक आगू आए के सलाह दीन। उमन स्थानीय बाजार के संगें-संग देश के बड़े प्रतिस्पर्धी बाजार मन अऊ कंपनि मन के जरूरत के हिसाब ले कपड़ा बुने अऊ रेडिमेड कपड़ा बनाए म जोर दीन।


डॉ. सिंह हर कहिन कि देवांगन समाज ह सामुहिक विवाह के प्रथा सुरू करके, अनावश्यक खरचा अउ दहेज जइसे सामाजिक कुप्रथा ल खतम करे के दिशा म कदम बढ़ाए हे। उमन शासन के मुख्यमत्री कन्यादान योजना के घलोक जादा ले जादा लाभ लेहे के बात कहिन। डॉ. सिंह ह समाज के उपस्थित वरिष्ठ मनखे मन ले सामुहिक विवाह ल प्रोत्साहन देहे के घलोक अपील करिन। कार्यक्रम म मुख्यमत्री ह देवांगन समाज के सामूहिक विवाह के तहत दांपत्य बंधन म बंधे दू नवविवाहित जोड़ा किरण- जागृत अऊ पुर्णिमा-योगेश कुमार ल अपन शुभाशीष अऊ भविष्य बर शुभकामना घलोक दीन।


ए अवसर म नगर निगम राजनांदगांव के महापौर श्री मधुसूदन यादव अउ नगर देवांगन समाज के अध्यक्ष श्री नीलेश देवांगन संग बहुत अकन वक्ता मन लोगन ल सम्बोधित करिन। आयोजक मन कोति ले मुख्यमत्री डॉ. रमन सिंह ल स्मृति चिन्ह घलोक भेंट करे गीस। कार्यक्रम म छत्‍तीसगढ़ राज्य भण्डार गृह निगम के अध्यक्ष श्री नीलू शर्मा, छत्‍तीसगढ़ उर्दू अकादमी के अध्यक्ष श्री अकरम कुरैशी, राज्य समाज कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष श्रीमती शोभा सोनी, बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष श्री खूबचंद पारख, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री सचिन बघेल, नागरिक आपूर्ति निगम के पहिली अध्यक्ष श्री लीलाराम भोजवानी, पाठ्य पुस्तक निगम के पहिली अध्यक्ष श्री अशोक शर्मा, राजगामी संपदा न्यास के पहिली अध्यक्ष श्री संतोष अग्रवाल, नगर निगम के सभापति श्री शिव वर्मा संग देवांगन समाज के पदाधिकारी अउ नागरिक मन घलोक उपस्थित रहिन।





Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment