मुख्‍यमंत्री के शुभकामना संदेस : राज्य म मांघी-पुन्‍नी ले मेला-मड़ई सरलग शुरू





मुख्यमंत्री ह राजिम महाकुंभ, शिवरीनारायण मेला, सिरपुर महोत्सव अऊ मैनपाट महोत्सव के शुभारंभ म जनता ल दीन शुभकामना। दामाखेड़ा म संत-समागम के सफल आयोजन खातिर दीन बधाई।


रायपुर 10 फरवरी 2017। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हर कहे हें कि मेला मडई अऊ महोत्सव छत्तीसगढ़ के सांस्कृतिक पहिचान हे। राज्य म आज दस फरवरी ले मांघी पुन्‍नी के अवसर म मेला-मड़ई अऊ महोत्सव के सिलसिला शुरू होवत हे। डॉ. रमन सिंह ह इन प्रमुख धार्मिक अऊ सांस्कृतिक मेला म अवइया जमो श्रद्धालु अऊ सैलानी मन के अभिनंदन करिन। उमन राजिम महाकुंभ अऊ शिवरीनारायण के 15 दिवसीय मेला, दो दिवसीय सिरपुर महोत्सव अऊ तीन दिवसीय मैनपाट महोत्सव के सफलता के कामना करिन। उमन कबीरपंथ के प्रमुख आस्था केन्द्र दामाखेड़ा म माघ शुक्ल दशमी ले संत-समागम के सफल आयोजन बर घलोक लोगन ल बधाई दीन। मुख्यमंत्री आज खुद दामाखेड़ा के ए महत्वपूर्ण आयोजन मं सामिल होइन।


उमन आज इहां जारी शुभकामना संदेश मं कहिन के महानदी, पैरी अऊ सोंढूर नदिया मन के पवित्र संगम म सैकड़ों-हजारों बछर ले आयोजित होवईया माघ पूर्णिमा के पंद्रह दिवसीय परम्परागत मेला ल राज्य सरकार हर ओखर सम्पूर्ण गरिमा के संग राजिम कुंभ के स्वरूप देहे हे। मुख्यमंत्री हर कहिन कि संत-महात्मा अऊ प्रदेशवासी मन के सहयोग ले राजिम कुंभ के बारह साल आज दस फरवरी को पूरा हो गए। ए ऐतिहासिक अवसर ल यादगार बनाए बर राज्य शासन ह ए कुंभ ल महाकुंभ (कल्प) के नाम देहे हे। मुख्यमंत्री ह कहिन के शिवनाथ, जोंक नदी अऊ महानदी के पावन संगम म शिवरीनारायण के प्रसिद्ध माघ मेला ह छत्तीसगढ़ के समृद्ध संस्कृति के चिनहा आए। महानदी के तीर म बौद्ध, जैन, शैव अऊ वैष्णव संस्कृति के संगम स्थल के रूप मं सिरपुर के पहिचान छत्तीसगढ़ के एक मूल्यवान ऐतिहासिक धरोहर के रूप मं हे।






मुख्यमंत्री हर कहिन के प्रदेश सरकार हर पर्यटन ल बढ़ावा दे बर आदिवासी बहुल सरगुजा जिला के मैनपाट के पहाड़ी वादी मन म वार्षिक ’मैनपाट महोत्सव’ के घलोक शुरूआत करे हे। डॉ. रमन सिंह हर आघू कहिन के दामाखेड़ा छत्तीसगढ़ मं कबीर पंथ के प्रमुख आस्था केन्द्र हे, जिहां हर साल माघ शुक्ल दशमी ले छह दिवसीय संत-समागम के आयोजन करे जाथे। उमन संत-समागम मं देश-विदेश ले आए कबीर पंथ के विद्वान अऊ अनुयायी मन के स्वागत करत करत ओ मन ल घलोक अपन शुभकामना दीन। मुख्यमंत्री हर संबंधित अधिकारी मन ल प्रदेश के ए सब्बो धार्मिक-सांस्कृतिक आयोजन मन मं श्रद्धालु, सैलानी अऊ आम नागरिक मन के सुविधा के पूरा ध्यान रखे के निर्देश दीन।





Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment