बजट 2017-18 : डॉ. रमन सिंह हर फेसबुक म दीस जनता के सवाल मन के जवाब





रायपुर, 07 मार्च 2017। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हर आज इहां विधानसभा परिसर स्थित अपन कार्यालय मं अपन सरकार के नवा वित्तीय साल 2017-18 के बजट उपर फेसबुक के माध्यम ले जनता के सवाल मन के जवाब दीस। डॉ. सिंह ह कहिस कि आप मन ले छत्तीसगढ़ के बजट-2017 उपर गोठ-बात करके बहुत अच्छा लगिस। प्रदेश के युवा मन मोर से छत्तीसगढ़ के विकास के चर्चा करत हे त मोला अड़बड़ खुशी होवत हे। भविष्य मं घलोक आप मन से अइसनहे आन विषय मन म घलोक गोठ-बात करहूं।
फेसबुक प्रश्नोत्तरी के ए कार्यक्रम मं मुख्यमंत्री से श्री जितेन्द्र पारख ह ये जानना चाहिा कि बजट मं नक्सल समस्या के उन्मूलन बर का कदम उठाए गए हे? एखर जवाब म मुख्यमंत्री हर ओ मन ल बताइन कि प्रदेश के सुदूर आदिवासी क्षेत्र मन मं अधोसंरचना उन्नयन हमर सरकार के प्रमुख प्राथमिकता हे। बस्तर अउ सरगुजा क्षेत्र मं 10 हजार करोड़ के लागत ले दू हजार 400 किलोमीटर सड़क मन के निर्माण करे जात हे। संगें-संग वो क्षेत्र मन मं बिजली, संचार अऊ सूचना प्रौद्योगिकी के नेटवर्क के विस्तार करे जात हे। बस्तर अंचल मं अंदाजन 480 गांव मन के विद्युतीकरण करे जात हे। संचार व्यवस्था ल मजबूत बनाए खातिर 146 नवा मोबाइल टावर लगाए जाही अऊ 800 किलोमीटर ऑप्टिकल फाईबर बिछाए जाही।
श्री सौरभ जायवाल ह महिला मन बर बजट प्रावधान के बारे मं जानकारी मांगीस। मुख्यमंत्री हर ओ मन ल बताइस कि निर्धन बालिका मन बर कॉलेज स्तर तक निःशुल्क शिक्षा के व्यवस्था करे गए हे। एखर संगें-संग प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत नौ लाख महिला मन ल दू सौ रूपए के पंजीयन म डबल बर्नर गैस चूल्हा अऊ सिलेण्डर दे जात हे। उमन कहिन कि महिला मन के सुरक्षा सुनिश्चित करे खातिर पुलिस हेल्पलाईन नम्बर 112 के शुरूआत के गए हे।
श्री प्रवीण शर्मा के बजट मं तेन्दूपत्ता समर्थन के बारे मं पूछे गए प्रावधान मन के जवाब म मुख्यमंत्री हर बताइस कि तेन्दूपता संग्रहण के पारिश्रमिक दर 1500 रूपया ले बढ़ाके 1800 रूपया प्रति मानक बोरा कर देहे गए हे। एखर ले प्रदेश के अंदाजन 12 लाख 55 हजार तेन्दूपत्ता संग्राहक कुटुंब मन लाभान्वित होही। अऊ कई नागरिक मन ह मुख्यमंत्री ले कई सवाल करिन, जेखर डॉ. सिंह हर सिलसिलेवार विस्तार ले उत्तर दीन। ए अवसर म वित्त विभाग के सचिव श्री अमिताभ जैन अऊ जनसम्पर्क विभाग के सचिव श्री संतोष मिश्रा उपस्थित रहिन।







BUDGET 2017-18 : Dr Raman Singh answers questions on Facebook


Chief Minister Dr Raman Singh today answered questions asked by people on Facebook regarding state government's budget for fiscal year 2017-18, from his office in Vidhan Sabha premise. Dr Singh said- It feels great to discuss Chhattisgarh's Budget for 2017-18 with you all. It is very reassuring to see youngsters concerned about development of their state- Chhattisgarh. I look forward to have such discussions with you on more subjects in future.

During this question hour on facebook, Mr. Jitendra Parakh asked Chief Minister about the provisions made in the budget for alleviation of naxalism. Chief Minister informed him that State Government is giving top priority to infrastructure development in remote tribal areas of state. 2400-km-long roads have been constructed at the cost of Rs 10 thousand crores in Bastar and Sarguja region. In addition, the network of electricity lines, communication and information technology has also been expanded. More than 480 villages have been electrified in Bastar region. 146 new mobile towers are being installed and 800-kms long optical fiber will be laid to strengthen the communication system.

Mr. Saurabh Jaiwal asked for the information on budget provisions made for women. Chief Minister informed him that education till college level has been made free for daughters of BPL families. Moreover, nine lakh women are being provided double burner gas stove and cylinder at nominal cost of Rs 200 under Pradhan Mantri Ujjwala Yojana. He added that Police Helpline number 112 has been launched to ensure security of women.

In answer to Mr. Praveen Sharma's question about budget provision for tendupatta promotion, Chief Minister told that the wages of tendupatta collectors have been increased from Rs 1500 per standard sack to Rs 1800 per standard sack. Many other citizens also asked question about the budget, to which Dr Singh responded in detail. On the occasion, Secretary Finance Department Mr. Amitabh Jain and Secretary Public Relations Department Mr. Santosh Mishra were also present.
Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment