पुरंगेल फर्जी मुठभेड़ : मृतक मन के लास के दुबारा होही पोस्टमार्टम

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ह पुरंगेल के जंगल मन म होए मुठभेड़ म बड़का फैसला देवत ऐमा मारे गे मनखे मन के लास के दुबारा पोस्टमार्टम करे के आदेश दे हावय। आप जानत होहू कि सुरक्षा बल मन ह भीमा कड़ती अउ सुखमती हेमला ल माओवादी बताके उंखर एनकाउंटर कर दे रहिन। तेखर बाद मामला म विवाद हो गइस अउ अब हाईकोर्ट ह घलोक मारे गए मनखे मन के लास मन के दुबारा पोस्टमार्टम करे आदेश दे दे हावय।
ए मामला म आम आदमी पार्टी के नेता सोनी सोरी ह मुठभेड़ म मरे मनखे मन के गांव गमपुड़ के दौरा करे रहिस अउ मृतक मन के परिवार वाले मन तीर मिले सहिस। उहां गांव वाले मन ह बताइन कि इन दुनों के दाह संस्कार तभे करबोन जब ए मामला के न्यायिक जांच के संग इंखर दुबारा पोस्टमार्टम होवय। आम आदमी पार्टी के लीगल सेल के वकील अमरनाथ पांडे, रजनी सोरेन अउ किशोर नारायण ह प्रकरण के याचिका तैयार करके भीमा अउ सुखमती के दाई उंगी कड़ती अउ भीम हेमला के तरफ ले हाईकोर्ट म 19 फ़रवरी को अर्जी दायर करे रहिन। बुधवार को होए सुनवाई के बाद जस्टिस गौतम भादुड़ी ह बिरसपतवार को दुबारा पोस्टमार्टम के आदेश जारी करिस।
ए मामला म सुरक्षा बल मन उपर आरोप हवय के उमन भीमा कड़ती अउ ओखर साली सुखमती हेमला के हत्या ये कहत कर दीन के उमन माओवादी आंय। परिवार वाले मन ह जब एकर विरोध करिनस अउ एला फर्जी मुठभेड़ बताइन तो पुलिस ह भीमा के भाई ल घलोक माओवादी घोषित करके जेल म डाल दीस। उहें सुखमती के शरीर म चोट के निशान पाए गए रहिस हे ये कारण ओखर संग बलात्कार होए के घलोक आशंका जतायी गए रहिस हे। एहू आरोप हावय कि जब बामन कड़ती ह अपन भाई अउ ओखर साली ल सुरक्षा बल मन फर्जी मुठभेड़ म मार देहे के शिकायत बड़े स्तर के पुलिस अधिकारी मन ले करे के फैसला लीन तब 31 जनवरी को पुलिस ह ओला घर से उठाके थाना बन्द म बन्द कर दीस।
Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment