केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह सुकमा के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के बुरकापाल मं शहीद होए 25 जवान मन के पार्थिव शरीर ल श्रद्धांजलि अर्पित करिस

रायपुर, 25 अपैरल 2017। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह सुकमा के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के बुरकापाल मं शहीद होए 25 जवान मन के पार्थिव शरीर ल श्रद्धांजलि अर्पित करिस। केंद्रीय गृहमंत्री आज भिनसरहा अंदाजन 10:30 बजे विशेष विमान ले राजधानी के माना स्थित छत्तीसगढ़ शसस्त्र बल के चौथी बटालियन पहुंच गीन। एखर बाद उमन वीर शहीद मन के पार्थिव देह म पुष्पांजलि अर्पित करिन। घटना के बाद मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हर केंद्रीय गृहमंत्री ल फोनेच म पूरा जानकारी देहे रहिन। एखर बाद केंद्रीय गृहमंत्री हर माओवादी मन के खिलाफ अभियान मं अऊ तेजी लाय के भरोसा देवाइन।
हमला मं शहीद होए जवान मन के लास रतिहा कन रायपुर लाए गए हे। हमला के बाद मंझनियाँ 3 बजे तीर-तखार के कैंप मन ले पार्टी भेजे गइस। पहिली घायल मन ल बुरकापाल लाए गीस। संझा 4.30 बजे तक जवान मन हर घटनास्थल के तीर-तखार के सर्चिंग पूरा कर लीन अऊ शहीद 24 जवान मन के शव निकाल लीन। एक जवान के मौत इलाज बर रायपुर लात खने हो गइस। सब्बो लाश मन ल बुरकापाल लाए गीस, उहां ले हेलीकॉप्टर ले रायपुर लाए गीस। इन लाश मन ल माना के छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के चौथा बटालियन परिसर मं रखे गए हे। ये घटना उपर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ह काली कहिन कि हमला जवान मन के बहादुरी उपर गरब हे। शहीद मन के कुर्बानी बेकार नइ जाए। ऊंखर परिजन मन बर हमर संवेदना हवय। इही बारे म केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ह कहिन कि हमला मं सामिल कोनो ल बख्शे नइ जाए। सरकार हर ए हमला ल एक चुनौती के रूप मं ले हावे। इहां मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन कि सुकमा के पूरा क्षेत्र ह माओवादी मन के मुख्यालय हे। माओवादी मन ल पता हे कि ओ क्षेत्र के विकास होही तो ऊंखर पैर उखड़ जाही। हमार बर ये बड़ चुनौती हे। अइसन घटना के बाद घलव हमार जवान पीछू नइ हटने वाला।
Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment