पंचायत राज व्यवस्था से मजबूत होवत हे लोकतंत्र के बुनियाद : श्री गौरीशंकर अग्रवाल

विधानसभा अध्यक्ष अउ पंचायत मंत्री हर सबले अच्‍छा काम करइया पंचायत मन ल करिस सम्मानित






रायपुर, 24 अप्रैल 2017। राष्ट्रीय पंचायत राज दिवस के अवसर म आज राजधानी रायपुर के इंडोर स्टेडियम म आयोजित समारोह ल संबोधित करत छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल हर कहिन कि पंचायत राज व्यवस्था ले लोकतंत्र के बुनियाद बजबूत होवत हावय। उमन कहिन 73वां संविधान संशोधन ले पंचायत मन ल खुद के अधिकार देके उनला मजबूत बनाए गीस। संगें-संग छत्तीसगढ़ म महिला मन बर 50 प्रतिशत आरक्षण देहे ले उमन म नेतृत्व क्षमता के विकास होवत हावय। समारोह म छत्तीसगढ़ विधान सभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल अउ पंचायत अउ ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चन्द्राकर हर प्रदेश म सर्वश्रेष्ठ काम करइया पंचायत मन ल पुरस्कृत करके सम्मानित करिन।
प्रदेश के पुरस्कृत संस्था मन म जिला पंचायत कांकेर ल पांच लाख रूपया अउ प्रशस्ति पत्र प्रदान करके सम्मानित करे गीस। इही प्रकार ले जनपद पंचायत लखनपुर, जिला सरगुजा ल दू लाख रूपया, जनपद पंचायत मुंगेली, जनपद पंचायत दुलदुला जिला जशपुर ल डेढ़-डेढ़ लाख रूपया के पुरस्कार अउ ग्राम पंचायत स्तर म ग्राम पंचायत उरकेला विकासखण्ड लुण्ड्रा, जिला सरगुजा ल साढे़ बारा लाख रूपया, ग्राम पंचायत दरगहन, विकासखण्ड चरामा, जिला कांकेंर, ग्राम पंचायत बेलेंडा अउ ग्राम पंचायत बंलिगा विकासखण्ड जगदलपुर, जिला बस्तर ल बारा-बारा लाख रूपया के चेक अउ प्रशस्ति पत्र देके सम्मानित करे गीस। समारोह म अतिथि मन करारोपण, स्वच्छ भारत मिशन संग पंचायत स्तर म उत्कृष्ट काम करइया पंचायत प्रतिनिधि मन ल घलोक सम्मानित करे गीस।
विधान सभा अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल हर समारोह म पुरस्कार पवईया पंचायत प्रतिनिधि मन ल बधाई देवत कहिन कि पुरस्कार ले आन पंचायत मन ल घलोक प्रोत्साहन अउ प्रेरणा मिलही। श्री अग्रवाल हर कहिन कि पंचायत राज व्यवस्था म पंच-सरपंच गांव के सेवा करइया प्रतिनिधि होथें, उमनल अपन लक्ष्य निरधारित करके शासन के योजना मन के लाभ समाज के आखरी छोर के मनखे तक पहुंचाना चाही। पंचायत पदाधिकारी जतका जादा जागरूक होहीं, ओतके तेजी ले ओ मन अपन गांव मन के विकास कर पाहीं।
पंचायत अउ ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चन्द्राकर हर कहिन कि लोकतंत्र धरातल म दिखना चाही, पंचायत राज संस्था मन अधिकार पूर्ण बनय। उमन कहिन कि दूसर वित्त आयोग हर अनुशंसा करे रहिस कि 29 विषय मन के अधिकार पंचायतीराज संस्था मन ल सउंपे जाय। पंचायत मन ल काम, क्रियान्वयन अउ वित्तीय अधिकार मिलय। पंचायती राज संस्था मन अपन कार्यक्षेत्र मं सशक्त रूप ले काम करव। उमन कहिन कि क्षेत्र अउ विविधता के हिसाब ले समस्या अलग-अलग हो सकत हावय, फेर पंचायती राज व्यवस्था अब तक फेल नइ होए हे। श्री चन्द्राकर हर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के उदाहरण देवत कहिन कि मुख्यमंत्री हर अपन सार्वजनिक जीवन के शुरूआत पार्षद पद ले करिन अउ जनसेवा करत करत आज मुख्यमंत्री के रूप म प्रदेश के सेवा करत हावंय। पंचायत प्रतिनिधि मन ल मुख्यमंत्री ले प्रेरणा लेके जनता के सेवा बर तत्पर रहना चाही। उमन कहिन कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ह लाल किला ले देश ल स्वच्छता के संदेश दीन अउ प्रदेश म मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हर स्वच्छता के कानून बनाइन। प्रदेश म पंचायत मन ले अस्वच्छता के सामाजिक बुराई ल दूर करे के काम तेजी ले करे जावत हावय। अब प्रदेश म स्वच्छता अभियान जनता के आन्दोलन बन गए हावय।
पंचायत अउर ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री एम.के. राउत हर बताइन कि प्रदेश के अंदाजन बीस हजार गांव मन म ले 14 हजार गांव, 10 हजार 971 ग्राम पंचायत मन म ले सात हजार 700 पंचायत, 62 विकासखण्ड अउ पांच जिला खुले म शौच मुक्‍त हो गे हावय। हमला स्वच्छता के निरंतरता ल बनाए रखना होही। विधान सभा अध्यक्ष अउ पंचायत मंत्री हर ए अवसर म स्टेडियम परिसर म विभागीय प्रदर्शनी के अवलोकन घलोक करिन। समारोह म पंचायत अउ ग्रामीण विकास विभाग के सचिव श्री पी.से.मिश्र, आयुक्त पंचायत श्री एस.के. जायसवाल, राज्य पंचायत अउ ग्रामीण विकास प्रशिक्षण संस्थान के संचालक श्री के.से. यादव, राज्य स्वच्छ भारत मिशन के मिशन संचालक श्री भोस्कर राव संदीपन अउ हमर छत्तीसगढ़ योजना के नोडल अधिकारी श्री सुभाष मिश्रा संग बड़ झन पंचायतीराज संस्था मन के निर्वाचित पदाधिकारी सामिल रहिन।






Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment