मुख्यमंत्री हर कहिन: गद्दीदार अऊ कोचिया अब नजर नइ आवंय

अवैध शराब के खिलाफ गुलाबी गैंग, महिला कमाण्डो अऊ भारतमाता वाहिनी के अभियान के करिन तारीफ





रायपुर, 12 अपरेल 2017। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हर कहे हें कि राज्य मं गद्दीदार अऊ कोचिया अब नजर नइ आवंय। शराब के अवैध कारोबार म कठोर अंकुश लगाए गए हे। कहूं अइसन मनखे अवैध रूप म शराब बेचत पाए गीन, त ऊंखर खिलाफ कड़ा कार्रवाई करे जाही। मुख्यमंत्री आज बालोद जिला के ग्राम गब्दी (विकासखंड-गुण्डरदेही) मं लोक सुराज अभियान के तहत समाधान शिविर मं जनता ल सम्बोधित करत रहिन। ए अवसर म उहां हजारों के संख्या मं मौजूद गुलाबी गैंग, महिला कमाण्डो अऊ भारतमाता वाहिनी के सदस्य महिला मन घलोक मौजूद रहिन। मुख्यमंत्री हर उंखर प्रशंसा करत करत कहिन कि बालोद जिला मं हमर ए माता अऊ बहिनी मन हर अवैध शराब के खिलाफ जऊन अभियान चलाय हावे, वो प्रदेश के आन क्षेत्र मन बर घलोक अनुकरणीय हावे। उमन कहिन कि राज्य सरकार हर चरणबद्ध ढंग ले शराबबंदी के लक्ष्य के तरफ तेजी ले आगू बढ़त हे। पहिली चरण मं
तीन हजार ले कम आबादी वाले गांव मन मं शराब के ठेका बंद कर दे गए हावे। डॉ. सिंह हर महिला कमाण्डो अऊ भारतमाता वाहिनी के महिला मन ले आग्रह करिन कि आप मन कोनों जघा अवैध कारोबार मं लिप्त कोचिया मन ल देखव या कोचिया के बारे मं जानकारी पावव, त तुरंते अपन निकटवर्ती पुलिस थाना ल सूचित करव। मुख्यमंत्री हर शिविर मं क्षेत्र के थानेदार ल मंच म बलाइस अऊ ओखर से जनता के बीच ये ऐलान करे बर कहिस कि ए इलाका मं अवैध शराब के कारोबार म पूर्ण रूप से नियंत्रण कर लिय गए हे कोचिया अब ए क्षेत्र मं नइ हे। मुख्यमंत्री हर पुलिस अऊ आबकारी अधिकारी मन ल ए दिशा मं लगातार निगाह रखे के निर्देश दीन। समाधान शिविर के विशाल जनसभा मं मुख्यमंत्री हर ग्राम गब्दी के पेयजल आवर्धन योजना के पाइप लाईन विस्तार बर बीस लाख रूपया, तालाब सौन्दर्यीकरण बर दस लाख रूपया अऊ सीमेंट कांक्रीट सड़क निर्माण बर घलोक दस लाख रूपया तुरंते मंजूर करे के घोषणा करिन। उमन उहां आयुर्वेदिक औषधालय अऊ उचित मूल्य के दुकान के घलोक निरीक्षण करिन।


style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">



style="display:block"
data-ad-format="autorelaxed"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="1301493753">

Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment