राज्य के आंगनबाड़ी केन्द्र मन म पूरक पोषण आहार बर 460 करोड़ रूपए के प्रावधान

रायपुर, 15 मई 2017। राज्य के आंगनबाड़ी केन्द्र मन म पूरक पोषण आहार बर आगामी वित्तीय साल 2017-18 बर 460 करोड़ बजट के प्रावधान करे गए हे। आप मन जानतमच होहू कि आंगनबाड़ी केन्द्र मन म अवइया 3 ले 6 साल उमर के सामान्य अउ गंभीर कुपोषित लइका मन ल गरम चुरे भोजन के संग मेन्यू अनुसार नाश्ता अउ हरेक मंगलवार के दिन नाश्ता अउ तिपे भोजन के संग-संग मुर्रा, लाडू देहे जात हे। हर एक सोमवार के दिन मुख्यमंत्री अमृत योजना के तहत 100 मि.ली. मिठ सुगंधित दूध घलोक दे जात हे। तिपे चुरे भोजन म चाउंर, मिक्सदाल, सोयातेल अउ साग, नाश्ता म रेडीटूईट फूड, उबले भींजे चना, देशी गुड़ अउ भुंजे मुंगफलीदाना देहे जात हे।
नाश्ता अउ तिपे चुरे भोजन महिला स्व सहायता समूह मन के माध्यम ले देहे जात हे। अभी हाल म 19707 महिला स्व सहायता समूह मन कोति ले नाश्ता अउ तिपे चुरे भोजन देहे जात हे। 6 महिना ले 3 साल उमर के सामान्य लइका मन ल 135 ग्राम अउ 6 महिना ले 3 महिना के गंभीर कुपोषित लइका मन ल 211 ग्राम रेडी टू ईट रोजे (हप्‍ता म 6 दिन) देहे जात हे। एखर अलावा सामान्य लइका मन ल 20 ग्राम मुर्रा लाडू अउ गंभीर कुपोषित लइका मन ल 40 ग्राम मुर्रा लाडू रोजे (हप्‍ता म 6 दिन) देहे जात हे। शिशुवती महिला मन ल 165 ग्राम रोज (हप्‍ता म 6 दिन) रेडी टू ईट फूड देहे जात हे। संगे संग शिशुवती महिला मन ल 40 ग्राम रोज के मान ले मुर्रा लाडू देहे जात हे। रेडी टू ईट फूड के निर्माण अउ वितरण के काम महिला स्व-सहायता समूह मन करत हें। अंदाजन 1646 महिला स्व सहायता समूह मन कोति ले रेडी टू ईट फूड देहे जात हवय। पूरक पोषण आहार कार्यक्रम के तहत 6 महिना ले 3 साल, 3 साल ले 6 साल अउ गर्भवती शिशुवती महिला मन ल मिलाके अंदाजन 24.68 लाख हितग्राही लाभान्वित होवत हें।
Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment