मुख्यमंत्री ह नक्सली हमला म शहीद सीआरपीएफ जवान के पत्नी ल दीस छत्तीसगढ़ पुलिस म एएसआई के नौकरी

शहीद के घर जाकर सौंपिन नियुक्ति पत्र
प्राथमिक स्कूल के नामकरण शहीद बनमाली यादव के नाम म करे के घोषणा






रायपुर, 01 मई 2017। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हर केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के शहीद जवान श्री बनमाली राम यादव के धर्मपत्नी श्रीमती जितेश्वरी यादव ल छत्तीसगढ़ पुलिस म सहायक उप निरीक्षक (एएसआई) के पद म नियुक्ति दे हावय। मुख्यमंत्री आज लोक सुराज अभियान के तहत जशपुर जिला के ग्राम धौरासांड म अचानक पहुंचिन अउ स्वर्गीय श्री यादव के घर जाके ऊंखर कुटुंब ले मुलाकात करिन।
डॉ. सिंह हर शहीद के पिता अउ पत्नी संग कुटुंब के जम्‍मो शोक संतप्त सदस्य मन के प्रति संवेदना प्रकट करिन। उमन श्रीमती जितेश्वरी यादव ल छत्तीसगढ़ पुलिस म नौकरी बर नियुक्ति पत्र घलोक सौपिन। डॉ. रमन सिंह हर ए अवसर म गांव के महकुल पारा स्थित शासकीय प्राथमिक स्कूल के नामकरण शहीद बनमाली यादव के नाम करे अउ ऊंखर कुटुंब ल जिला मुख्यालय जशपुर नगर म एक मकान देहे के घलोक घोषणा करिन। आप मन जानतेच होहू कि श्री बनमाली राम यादव पाछू हफ्ता (24 अप्ररेल के दिन) सुकमा जिला के बुरकापाल म नक्सली मन से लड़त शहीद हो गए रहिस।
मुख्यमंत्री हर आज उंखर धर्मपत्नी ल 28 लाख रूपया के सहायता राशि के चेक घलोक भेंट करिस। जशपुर जिला प्रशासन के अधिकारी मन ले घलोक शहीद के कुटुंब बर अपन-अपन तनखा ले अंशदान करके तीन लाख 50 हजार रूपए के सहायता राशि जमा करे गए हे। ये वाले राशि शहीद के डेढ़ साल के बेटी खुश्बू बर भारतीय स्टेट बैंक के जशपुर मुख्य शाखा म फिक्स्ड डिपाजिड कर दे गीस। मुख्यमंत्री हर श्रीमती यादव ले कहिस कि ये राशि भविष्य म लइका के पढ़ई के काम आही। खुश्बू ल दसवीं कक्षा के पढ़ाई के बाद अंदाजन दस लाख 35 हजार रूपए मिलही।
मुख्यमंत्री हर शहीद के कुटुंब ल बताइस कि स्वर्गीय श्री बनमाली राम यादव के पिता श्री रोधोराम ल खेत म सिंचाई सुविधा बर सौर सुजला योजना बर सोलर पम्प स्वीकृत कर दे गए हे। उंखर कुंआ के मरम्मत हो जाय ले वोमा सोलर पम्प लगा दे जाही। एखर अलावा शहीद के कुटुंब के आग्रह म मनरेगा के तहत ऊंखर खेत मन म जमीन सुधार अउ कुंआ मरम्मत बर दू लाख 63 हजार रूपया के धनराशि घलोक मंजूर कर दे गीस। शहीद के कुटुंब के मांग म ओ मन ल वन अधिकार मान्यता पत्र दे के प्रक्रिया घलोक शुरू करे गए हे। मुख्यमंत्री हर धौरासांड म बर पेड़ के छांव म चौपाल लगाके ग्रामीण मन से मुलाकात करिन अउ ओ मन ल कई ठन शासकीय योजना मन के क्रियान्वयन के बारे म जानकारी लीन।








Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment