बदले के साथ नवाचार ल अपनाना जरूरी: अजय चंद्राकर


  • एक करोड़ के लागत ले बने अटल व्यावसायिक परिसर अउ स्कूल भवन के करिन लोकार्पण


रायपुर, 19 मई 2017। पंचायत अउ ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चंद्राकर लोक सुराज अभियान के तहत कुरूद विकासखण्ड के ग्राम पंचायत कोर्रा म आयोजित समाधान शिविर म सामिल होइन। श्री चन्द्राकर हर कहिन कि ग्रामीण विकास के योजना मन ल धरातल म कारगार करे बर जरूरी बदलाव के संग नवाचार ल अपनाना जरूरी हावय, तभे गांव, समाज अउ कुटुंब समृद्ध होही। उमन ए मौका म एक करोड़ पांच लाख रूपया के लागत से बने अटल व्यावसायिक परिसर अउ स्कूल भवन के लोकार्पण करिन। जेमां आठ लाख 92 हजार रूपया के लागत ले बने अटल व्यावसायिक परिसर अउ 96 लाख रूपया के लागत ले बने हायर सेकण्डरी स्कूल के नवनिर्मित भवन सामिल हावय।
श्री चंद्राकर हर कहिन कि राज्य शासन कोति ले गरीब मन अउ जरूरतमंद लोगन ल ग्रामीण विकास योजना मन के संग उंखर आर्थिक अउ सामाजिक सुदृढ़िकरण के प्रयास करे जात हे। उमन कहिन कि प्रदेश के जनता ह कुपोषण, अस्वच्छता, नशा अउ बेरोजगारी जइसे सामाजिक बुराइ मन उपर जीत के तरफ अग्रसर होके विकास के नवा अध्याय के शुरूआत करे हन। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी अउ प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह हर सर्वहारा समाज बर बहुत अकन कल्याणकारी योजना बनाके उंखर सफल क्रियान्वयन करे हें, जऊन आज चारो कोति दिखता हवय। ए अवसर म धमतरी जिला पंचायत अध्यक्ष श्री रघुनंदन साहू, कुरूद जनपद पंचायत के अध्यक्ष श्रीमती पूर्णिमा साहू, उपाध्यक्ष श्री छत्रपाल बैस संग अड़बड़ झन गांव वाले मन उपस्थित रहिन।
श्री चन्द्राकर ह राजस्व, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, ऊर्जा, शिक्षा, पंचायत अउ ग्रामीण विकास, स्वच्छ भारत मिशन, स्वास्थ्य, कृषि, पशुधन विकास, उद्यानिकी, महिला अउ बाल विकास, श्रम अउ जल संसाधन विभाग ले आए आवेदन मन के निराकरण के समीक्षा करिन। अधिकारी मन ह बताइन कि कोर्रा क्लस्टर म कुल 1894 आवेदन आए रहिस, जेमा से 1891 आवेदन मन के निराकरण करके ओखर जानकारी आज आयोजित शिविर म देहे गीस। एमां 1860 आवेदन मांग अउ 31 शिकायत के सामिल रहिस। सबसे जादा 1266 आवेदन पंचायत अउ ग्रामीण विकास विभाग ले मिले रहिस। अइसनहे समाज कल्याण विभाग ले 218, खाद्य विभाग ले 89, स्वच्छ भारत मिशन ले 36, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी ले 24, पशु चिकित्सा विभाग ले 23 अउ विद्युत विभाग ले 21 आवेदन मिले रहिस।
Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment