मंदसौर मं शांति, चौहान के अनशन खतम





[responsivevoice_button voice="Hindi Female" buttontext="ये खबर ला सुनव"]


भाषा, भोपाल, 11 जून 2017। पाछू कई दिन ले किसान मन के हिंसक आंदोलन के केंद्र रहे मंदसौर मं आज शांति रहिस जेखर बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हर अपन अनिश्चितकालीन अनशन खतम कर दीस।
करजा माफी अऊ अपन उपज के उचित कीमत के मांग करत किसान मन के नाराजगी ल शांत करे बर काल ले अनशन म बइठे चौहान हर ऊंखर कल्याण बर कुछ योजना मन के ऐलान करिन फेर ‘‘आग लगाए वाले गतिविधि’’ मं लिप्त लोगन ल कड़ा चेतावनी घलोक दीन। मंदसौर शहर के सबो तीनों पुलिस थाना क्षेत्र मन मं आज दूसर दिन घलोक करफु नइ लगाए गीस फेर पूरा जिला मं आपराधिक दंड संहिता के धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा जारी रहिस जेखर तहत चार ले जादा मनखे के सकलाए म रोक रहिस। अभी, मंदसौर जिला मुख्यालय ले करीबन 15 किमी दूरिहा पिपलियामंडी पुलिस थाने मं करफु जारी रहिही जिहां छै जून के दिन पुलिस के गोलीबारी मं पांच किसान मन के मौत के बाद हिंसा अऊ आगजनी के घटनाएं होए रहिस हे अऊ मध्यप्रदेश के आन जिला मन मं घलोक फैल गए रहिस।
कलेक्टर ओ पी श्रीवास्तव अऊ एसपी मनोज सिंह हर बताइन ‘‘स्थिति शांतिपूर्ण हे अऊ अब तक हिंसा के कोनो खबर नइ हे।’’ किसान मन के आंदोलन ल लेके विपक्ष के हमला मन के केंद्र बने चौहान हर डेढ़ दिन बाद आज प्रदेश के पहिली मुख्यमंत्री कैलाश जोशी के हाथ ले नींबू पानी पी के अपन अनशन तोडि़स। अनशन खतम करे के पहिली चौहान हर कहिस ‘मप्र मं शांति बहाल हो गए हे अऊ काल अउ आज हिंसा के कोनो मामला के खबर नइ आए हे।’’ उमन कहिन ‘‘जउन राज्य मं खेती खूब फले फूले होय, उहां ये असंभव हे कि किसान ए पैमाने म हिंसा करहीं। किसान मन के हर पीड़ा अस्वीकार्य हे फेर आग लगाय के गतिविधि मन मं लिप्त लोगन के संग कठोरता ले निपटे जाही।’’




style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">



style="display:block"
data-ad-format="autorelaxed"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="1301493753">

Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment