जीवन के सुरक्षा अऊ खुशहाल भविष्य बर पर्यावरण संरक्षण जरूरी: अपर मुख्य सचिव

विश्व पर्यावरण दिवस म ‘प्रकृति के संग मनखे मन ल जोड़ंय’ विसय म कार्यक्रम







[responsivevoice_button voice="Hindi Female" buttontext="ये खबर ला सुनव"]


रायपुर 05 जून 2017। छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल कोति ले विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर म आज इहां ’प्रकृति के साथ मनुष्यों को जोड़ें’ विसय म आधारित विविध कार्यक्रम के आयोजन करे गीस। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के सभागृह मं आयोजित ए कार्यक्रम मं अपर मुख्य सचिव श्री अजय सिंह हर राज्य स्तरीय निबंध प्रतियोगिता अऊ महाविद्यालयीन क्विज प्रतियोगिता मं विजयी प्रतिभागी छात्र-छात्रा मन ल पुरस्कार वितरण घलोक करिन। ए अवसर म छत्तीसगढ़ विज्ञान अउर प्रौद्योगिकी परिषद के महानिदेशक डॉ. के. सुब्रमणियम अऊ पर्यावरण संरक्षण मंडल के सदस्य सचिव श्री संजय शुक्ला उपस्थित रहिन।
अपर मुख्य सचिव श्री सिंह हर कार्यक्रम ल संबोधित करत कहिन कि प्रकृति अऊ जीवन के बीच गहरा संबंध होथे। एखर संरक्षण अउ संवर्धन मं ही जीवन के सुरक्षा अऊ हमार भविष्य के खुशहाली निर्भर हे। अभी हाल मं पर्यावरण के संरक्षण अऊ प्रदूषण म रोकथाम अतिआवश्यक हो गए हे। येमां हम सबके भागीदारी होना चाही। एखर तहत हमला दिन-प्रतिदिन के जीवन शैली मं पर्यावरण संरक्षण संबंधी उपाय मन ल बखूबी ढंग ले अपनाना होही अऊ एला आदत के रूप मं शुमार करना होही। श्री सिंह हर कहिन कि प्रकृति हमर साझा धरोहर हे। एला बचाय बर पूरा विश्व ल एकजुट होके सामूहिक प्रयास करना होही। एखर लिए हम सब्बो सजग हो जान अऊ ध्यान रखन कि अवइया दिनन मं हमर अमूल्य धरोहर धरती अऊ प्रकृति हम सबके रहे अउ जीए के लायक सुरक्षित बने रहिही।




style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">



style="display:block"
data-ad-format="autorelaxed"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="1301493753">

Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment