विदेशी टीम ले जुड़े के सवालेच नइ हे फेर बिना तनखा के काम करना मंजूर नइ हे : हरेंद्र

भाषा, नयी दिल्ली। भारत के जूनियर हाकी विश्व कप चैम्पियन बने के छै महीना के भीतरेच टीम से नाता टूटे बर ‘संवादहीनता’ ल जिम्मेदार ठहरात कोच हरेंद्र सिंह ह ए बात ले इनकार करिस कि वो ओमान के टीम ले जुड़इया हावय फेर वो ह साफ कहे हे कि बिना पारिश्रमिक के काम करना अब ओला मंजूर नइ हे। हाकी इंडिया ह हालेच म जूड फेलिक्स ल हरेंद्र के जघा जूनियर हाकी टीम के कमान सौंपे हावय । हरेंद्र ह कहिस कि वो एखर से आहत नइ हे फेर ओला दुख ए बात के हावय कि ओखर सेवा मन के उपयोग भारतीय खेल प्राधिकरण या हाकी इंडिया नइ करत हे।
Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment