डॉ. रमन सिंह करहीं मुख्यमंत्री युवा स्वावलंबन योजना के परीक्षा परिनाम के घोसना


  • ‘चिप्स के फेसबुक पेज म करे जाही घोसना’
  • ‘रोजगार के अवसर मन म बढ़ोतरी बर राज्य शासन के अजब पहल’


रायपुर, 28 जून 2017। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह काल बिरसपतवार 29 जून के संझा 5 बजे छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री युवा स्वावलम्बन योजना के तहत ‘चिप्स’ के फेसबुक पेज म शैक्षणिक सत्र 2016-17 के एमकेट परीक्षा के परिणाम घोषित करहीं। आप मन ल बता दन कि एमकेट भारत सरकार ले मान्यता प्राप्त संस्था हे, जऊन स्नातक युवा मन ल कम्प्यूटर प्रशिक्षण अउ व्यक्तित्व विकास के प्रशिक्षण देथे। 
ये जानकारी छत्तीसगढ़ इन्फोटेक प्रमोशन सोसायटी (चिप्स) के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एलेक्स पॉल मेनन ह दीस। उमन बताइस कि मुख्यमंत्री युवा स्वावलम्बन योजना के तहत राज्य सरकार ह उद्योग मन के जरूरत के मुताबिक पढ़ईया लईका मन के कौशल विश्लेषण करके उंखर क्षमता मन ल विकसित करे के निर्णय लेहे हे। ए साल करीबन 30 हजार पढ़ईया लईका मन के मूल्यांकन करके 5 हजार ल प्रशिक्षण दे जाना प्रस्तावित हे। अभी हाल म ए योजना म 12 हजार इंजिनियरिंग अउ गैर-इंजिनियरिंग पढ़ईया लईका मन ल सामिल करे गए रहिस। ए प्रशिक्षण कार्यक्रम म विद्यार्थी के Employablity के आकलन करे गीस। एमकेट परीक्षा म बैंचमार्क नम्बर पवइया पहिली क्रम के पढ़ईया लईका मन ल सीधा प्रतिष्ठित कम्पनी मन म इंटरव्यू के अवसर मिलही। एखर बाद चुने गए पढ़ईया लईका मन ल ऑफर लेटर देहे जाही। बैंचमार्क नम्बर ले कम पवइया पढ़ईया लईका मन ल प्रशिक्षण ले पहिली क्रम के पढ़ईया लईका मन के जइसन कौशल प्रदान करके रोजगार पाए लइक बनाए जाही। ए अवसर म मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह State Employability Report के विमोचन घलोक करे जाही।
राज्य म बहुत अकन प्रमुख राष्ट्रीय शिक्षण संस्थान जइसे- आई.आई.टी., एम्स, एन.आई.टी., एच.एन.एल.यू., ट्रिपल आई.टी, आई.आई.एम. आदि के उपस्थिति के कारन छत्तीसगढ़ ह खुद ल देश म एजुकेशन हब के रूप म स्थापित कर लेहे हे। फेर राज्य के स्नातक पढ़ईया लईका मन अऊ रोजगार पवइया पढ़ईया लईका मन के संख्या के बीच अंतर हे। ए अंतर ल खतम करे बर राज्य शासन ह छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री युवा स्वावलंबन योजना चालू करे हे। एखर से रोजगार के अवसर मन म वृद्धि होवत हे।
ये देखे गए हे कि सूचना प्रौद्योगिकी अउ सूचना प्रौद्योगिकी समर्थित सेवा मन के क्षेत्र म नियोक्ता रोजगार देहे के पहिली छात्र मन ल अपन तकनीकी जरूरत के अनुसार कौशल देहे बर प्रशिक्षण देवत हे। इही बात ल ध्यान रखत राज्य शासन ह उद्योग मन के जरूरत के जइसे पढ़ईया लईका मन के क्षमता विकास करे के निर्णय लेहे हे। श्री मेनन ह बताइस कि मुख्यमंत्री युवा स्वावलंबन योजना के संचालन ले राज्य के प्रतिभा मन ल तकनीकी रूप ले दक्ष करत छत्तीसगढ़ के विश्वसनीयता स्थापित करे के प्रयास करे जात हे। एखर से अवइया समय म बहुत अकन कम्पनी मन रोजगार के अपन जरूरत के पूर्ति बर छत्तीसगढ़ आए म विचार करहीं। ए परियोजना के महत्त्वपूर्ण लाभ ये हे कि एखर ले राज्य म नवा स्नातक मन बर रोजगार के अवसर देहे जाही। चुने गए छात्र मन ल उद्योग मन के मांग के अनुसार प्रशिक्षण के अवसर मिलही। राज्य शासन के प्रयास हे कि प्रशिक्षण कार्यक्रम म हिस्सा लेवइया छात्र मन म ल जादा ले जादा रोजगार के अवसर देवाना होही। ए योजना के माध्यम ले प्रशिक्षित जनशक्ति देवाए ले स्थानीय आईटी/आईटीईएस उद्योग ल घलोक अऊ जादा गति मिलही। प्रशिक्षण पवइया छात्र मन ल देख के, आन पढ़ईया लईका मन ल घलोक तकनीकी कौशल बढ़ाए के प्रेरना मिलही।
Share on Google Plus

About Sanjeeva Tiwari

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment