ब्रिटेन मं चुनाव परिणाम के बाद टेरीजा उपर बढि़स दबाव





[responsivevoice_button voice="Hindi Female" buttontext="ये खबर ला सुनव"]


भाषा, लंदन, 09 जून 2017। ब्रिटेन के मध्यावधि चुनाव म ब्रिटेन के प्रधानमंत्री टेरीजा के कंजर्वेटिव पार्टी ह बहुमत हासिल करे मं नाकाम रहे हे, जेखर कारन उखंर उपर इस्तीफा देहे के दबाव बढ़ गए हे। टेरीजा ह जटिल ब्रेग्जिट वार्ता मं अपन स्थिति मजबूत करे के प्रयास के तहत निरधारित समय ले तीन साल पहिली चुनाव कराए रहिस हे। तभो ले कंजर्वेटिव पार्टी ब्रिटेन के 650 सदस्यीय संसद बर हुए चुनाव मं सबले बड़े पार्टी बन के उभरे हे फेर जेरेमी कोर्बिन के नेतृत्व मं विपक्षी लेबर पार्टी के शानदार प्रदर्शन के बाद टेरीजा के अपन पद म बने रहई ल अपमानजनक बताए जात हे। ब्रितानी मीडिया ह ये परिणाम ल टेरीजा बर अपमानजनक बतावत हें।
ब्रेग्जिट वार्ता 19 जून के दिन शुरू होही, फेर दुनों बड़े राजनीतिक दल के भाग्य के अइसन पलटई से ए वार्ता कार्यक्रम ल लेके अनिश्चितता पैदा हो गए हे। कंजर्वेटिव पार्टी ल 314 अऊ लेबर पार्टी ल 261 सीट मिले हे। कुछ सीट मन के चुनाव परिणाम आना अभी बांचे हे। कोनो पार्टी ह बहुमत हासिल करे बर जरूरी 326 सीट के आंकड़ा ल नइ छू पाय हे। टेरीजा हर दक्षिण-पूर्व इंग्लैंड के अपन मेडनहेड सीट म भले ही 37,780 मत ले जीत हासिल कर लीस फेर संसद मं बहुमत खोए के बाद उखंर उपर इस्तीफा दे के दबाव बढ़ गए हे।
चुनाव के पहिली सबो सर्वेक्षण मन मं टेरीजा ल शानदार जीत के संग बहुमत मिले के संभावना जताए गए रहिस हे फेर कोर्बिन के नेतृत्व मं लेबर पार्टी ह उम्मीद ले अच्‍छा प्रदर्शन करिस। ए चुनाव ल ब्रेग्जिट चुनाव के तौर म देखे जात रहिस अऊ ए परिणाम ल उन 48 प्रतिशत लोगन मन बर उम्मीद के किरण समझे जात हे जिमन जून 2016 मं होए जनमत संग्रह मं यूरोपीय संघ मं बने रहे बर वोट देहे रहिन।




style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="4115359353"
data-ad-format="link">



style="display:block"
data-ad-format="autorelaxed"
data-ad-client="ca-pub-3208634751415787"
data-ad-slot="1301493753">

Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment