दक्षिण कोरिया-जापान म छत्तीसगढ़ ल मिलिस एक नवा चिन्‍हारी: डॉ. रमन सिंह

विदेश यात्रा ले रायपुर लहुटिन मुख्यमंत्री
दूनों देश मन के निवेशक मन ‘मेक-इन-छत्तीसगढ़’ म देखईन गहिर दिलचस्पी


रायपुर 06 जून, 2017। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह दक्षिण कोरिया अउ जापान के नौ दिन के यात्रा के बाद नई दिल्ली ले आज बिहनिया रायपुर लहुट आईन। स्‍वामी विवेकानंद विमान तल (माना) मं लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, विधायक श्री श्रीचंद सुंदरानी अउ रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव संग बहुत अकन जनप्रतिनिधि मन, नागरिक मन अउ वरिष्ठ अधिकारी मन हर मुख्यमंत्री के आत्मीय स्वागत करिनस। ए अवसर म डॉ. रमन सिंह हर कहिन- उंखर ए विदेश यात्रा म छत्तीसगढ़ सरकार के बिजनेस मिशन ल दुनों देश मन म निवेशक मन के संग गोठ स्थापित करे अउ छत्तीसगढ़ के एक नवा पहिचान बनाए म अच्छा सफलता मिलीस हे। आप मन जानत हावय कि मुख्यमंत्री के रूप म डॉ. रमन सिंह के दक्षिण कोरिया अउ जापान के ये पहली यात्रा रहिस। मुख्यमंत्री हर कहिन- दुनों देश मन के बहुत अकन प्रमुख कम्पनी मन हर छत्तीसगढ़ के संभावना मन के बारे म सुनके राज्य म पूंजी निवेश अउ उद्योग लगाय म अपन गहिर दिलचस्पी देखाए हावंय। मुख्यमंत्री हर कहिन- प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व म देश म चलाए जात मेक-इन इंडिया के तर्ज म राज्य सरकार के ‘मेक-इन-छत्तीसगढ़ अभियान’ चलाय जात हे। ए अभियान के तहत दुनों देश मन के उद्योगपति मन अउ निवेशक मन ल छत्तीसगढ़ के औद्योगिक विकास म निवेश के व्यापक संभावना मन के जानकारी देना अउ ओ मन ल राज्य म आमंत्रित करना हमार ए बिजनेस मिशन के मुख्य उददेश्य रहिस।
मुख्यमंत्री हर कहिन- आज देश म प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व म चलाये जात ’मेक ए इंडिया’ अभियान के तहत भारत ह दुनिया के एक बड़े आर्थिक महाशक्ति के रूप म अपन नवा पहिचान बनाए हावय। दक्षिण कोरिया अउ जापान दुनोंच आर्थिक रूप ले सशक्त राष्ट्र हे। छत्तीसगढ़ एक नवोदित राज्य हे। डॉ. सिंह हर कहिन- ए यात्रा के समय तीन विश्वस्तरीय एसियाई शहर सियोल, टोकियो अउ ओसाका के दौरा करे गीस अउ उहां निवेशक मन के संग कई बैठक होइस। दुनोंच एसियाई देश मन के पृष्ठभूमि ल देखे म हम पाथंन कि 15 अगस्त, 1948 म जिहां दक्षिण कोरिया ल आजादी मिलीस, उन्‍हें दूसर विश्व युद्ध (1945) के समय जापान म होए बर्बादी के बाद से ए देश हर जऊन प्रकार आर्थिक महाशक्ति के रूप म अपन आप ल स्थापित करिस ओकर से हमन ल बहुत कुछ सीखे के जरूरत हावय।
डॉ. रमन सिंह हर बताइस- जापान अउ दक्षिण कोरिया पर्यटन उद्योग के दृष्टि से घलोक काफी अच्‍छा हावय। उमन पर्यटन के कई ठन क्षेत्र मन म काम करे हावंय, वोकर से हमला घलोक सीखे के प्रेरणा मिलथे। छत्तीसगढ़ के सिरपुर म पर्यटन विकास के नवा संभावना, जापान अउ दक्षिण कोरिया के दौरा ले मिले हावय। बुलेट ट्रेन जइसे आधुनिकतम ट्रेन म बइठे के सपना हर भारतीय के हावय। ओसाका ले टोक्यो तक मैं स्‍वयं बुलेट ट्रेन म यात्रा करेंव। भविष्य म प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व म होवत उदीम ले इही बुलेट ट्रेन हमार देश के घलोक पहिचान होही। डॉ. रमन सिंह हर कहिन- निवेश एक सतत् प्रक्रिया हे। हमर यात्रा ले छत्तीसगढ़ ल एक नवा पहिचान मिले हे। वो देश मन के लोगन मन ह छत्तीसगढ़ ल आपार संभावना अउ संसाधन मन ले परिपूर्ण राज्य के रूप म देखे हें अउ वो देश के लोगन मन ह छत्तीसगढ़ म भ्रमण बर अपन रूचि प्रकट करे हें। राज्य म वो देश मन से व्यापारिक गतिविधि मन ल बढ़ावा देहे के दिशा म रद्दा खुले हावय। अवइया बेरा म जापान अउ दक्षिण कोरिया म ट्रेड एसोसिएशन के माध्यम ले राज्य म निवेश अउ व्यापार ल बढ़ावा दे जाही। ए काम म जापान के व्यापारिक संघ जेट्रो (JETRO) अउ दक्षिण कोरिया के व्यापारिक संघ (KOTRA) के मदद् लेहे जाही। राज्य म निवेश अउ व्यापार ल बढ़ावा देहे बर दुनों देश मन म एक स्थानीय स्तर के प्रतिनिधि के नियुक्ति करे जाही। ये प्रतिनिधि राज्य म निवेश अउ व्यापार ल बढ़ावा देहे अउ ए काम म समन्वय करे म मदद् करही। बड़े कम्पनी मन से बात करे के संगें-संग हम छोटे कम्पनी मन से घलोक सतत् सम्पर्क बनाके उंखर से गोठ करना जरूरी रहिस। हमार संग सी.आई.आई. के डेलीगेशन घलोक ए देश मन के यात्रा म गीस। जापान के विदेश व्यापार संगठन (जापानीज एक्सटर्नल ट्रेड ऑर्गेनाईजेशन, जेट्रो) अउ दक्षिण कोरिया म ‘कोरिया व्यापार निवेश प्रोत्साहन एजेंसी’ कोरिया ट्रेड-इन्वेस्टमेंट प्रमोशन एजेंसी (कोट्रा) के संग समन्वय अउ सम्पर्क बढ़ाए म भारतीय उद्योग परिसंघ (सी.आई.आई.) के महत्वपूर्ण भूमिका रहीस। इंखर सहयोग ले जापान म ‘जेट्रो’ अउ दक्षिण कोरिया म ‘कोट्रा’ के संग निवेश ल लेके सार्थक चर्चा होइस जेखर अच्छा परिणाम हमला देखे ल मिलही।
मुख्यमंत्री हर बताइस- दक्षिण कोरिया अउ जापान दुनों देश मन म भारतीय दूतावास के संग प्रो-एक्टिव काम करे गीस। इमन हमार बर निवेशक सम्मेलन मन के बैठक आयोजित करिन अउ बेहतर वातावरण बनाए के दिशा म इंखर महत्वपूर्ण सहयोग रहिस। डॉ. सिंह हर तीन विश्वस्तरीय एसियाई शहर-सियोल, टोकियो, अउ ओसाका म निवेशक सम्मेलन मन ल संबोधित तको करिन। ए दौरान 25 ले जादा कम्पनी मन के संग छत्तीसगढ़ म निवेश ल लेके बैठक होइस। दक्षिण कोरिया अउ जापान के प्रमुख कंपनी मन म, जेमा- मोबाइल बनइया, उर्जा क्षेत्र से जुड़ी कम्पनी मन अउ आटोमोटिव, विद्युत मोटर्स, विद्युत उत्पाद, आईटी, इलेक्ट्रोनिक्स, स्मार्ट शहर, इंजीनियरिंग, रक्षा-प्रोद्योगिकी जइसे सेक्टर मन म राज्य म निवेश ल लेके संभावना के नवा रद्दा खुले हावय।

बैठक म सामिल प्रमुख कंपनी
दुनों देश मन म मुख्यमंत्री के संग जऊन कम्पनी मन के बैठक होइस, ओमां एमबीओएन कारर्पोरेशन के दोशान हेवी इंडस्ट्रीज लिमिटेड, सुंग हा टेलीकाम, दासोल ईएंडसी, एमईसीईएन आईपीसी कंपनी लिमिटेड, पर्फिक क्लीन एनर्जी, चुनबुक टेक्नोपार्क, जीआईसी होल्डिंग, आरआई्रएसटी, रिडाक्स, अंतरिक्ष समूह, सुरक्षित खाद्य निगम, विश्व प्रोटान निगम अउ सियोल एनईडीसी कारपोरेशन, डिकिन इंटरनेशनल, मुराटा मैन्युफैक्चरिंग कंपनी लिमिटेड, रजत पीक ग्लोबल, सीजीटी, एमआईआर, रोजर्स बोकी कंपनी लिमिटेड अउ ओसाका अउ सुइदा निगम म निसानानो निगम, कोनमी डिजिटल मनोरंजन कंपनी, मेकेंस आईपीसी कंपनी लिमिटेड, टोक्यो म इंटरनेशनल कारपोरेशन अउ सेनेटिव लाइन कंपनी लिमिटेड आदि कंपनी मन ह छत्तीसगढ़ म निवेश के इच्छा जताए हावय।

नवा रायपुर अउ दक्षिण कोरिया के सुंगम स्मार्ट सिटी म कई समानता
पहिली दिन (29 मई ) को दक्षिण कोरिया के राजधानी सियोल आगमन होइस। सियोल म भारत के राजदूत श्री विक्रम दोराईस्वामी अउ भारतीय दूतावास के प्रतिनिधि मन से मुलाकात होइस। सियोल के विशेषता मन अउ उहां के औद्योगिक अउ व्यावसायिक परिदृश्य म विस्तार ले चर्चा होइस। सुंगम स्मार्ट सिटी के भ्रमण करे गीस। डॉ. रमन सिंह हर बताइन कि सुंगम स्मार्ट सिटी अउ छत्तीसगढ़ के नवा रायपुर म समानताएं देखे ल मिलीस। मुख्यमंत्री हर दूसर दिन (30 मई )- सियोल म कोरिया ट्रेड - इन्वेस्टमेंट प्रमोशन एजेंसी (कोट्रा) के मुख्यालय म आयोजित निवेशक मन के सम्मेलन ल सम्बोधित करे के बाद निवेशक मन के संग अलग- अलग मुलाकात करिन। दक्षिण कोरिया के कम्पनी सुंग हा टेलीकॉम अउ छत्तीसगढ़ सरकार के बीच एमओयू करिस। सुंग हा टेलीकॉम ले छत्तीसगढ़ म मोबाइल फोन उपकरण मन के निर्माण बर 120 करोड़ रूपिया के पूंजी निवेश करत अपन उद्योग लगाही। दक्षिण कोरिया दौरा के समय उहां के प्रतिनिधि कम्पनी कोट्रा के आमंत्रण म ऊंखर मुख्यालय घलोक गईन। कम्पनी के अध्यक्ष अउ सीईओ श्री जाएहोंग किम ले मुलाकात होइस। एही कड़ी म फिनचेम आटोमोटिव कम्पनी के चेयरमेन से घलोक मुलाकात होइस। उमन छत्तीसगढ़ म निवेश के इच्छा प्रकट करिन। दोसान हेवी इंडस्ट्रीज लिमटेड के प्रतिनिधि मन घलोक छत्तीसगढ़ म वेस्ट एनर्जी अउ विंड एनर्जीवप्रोजेक्ट म निवेश करे के मंशा जताइन। मुख्यमंत्री हर दक्षिण कोरिया के राजधानी सियोल म प्रवासी छत्तीसगढ़िया मन से मुलाकात करिन।

जापान दौरा
डॉ. रमन सिंह हर 3 जून को जापान के ओसाका शहर म छत्तीसगढ़ निवेशक सम्मेलन ल संबोधित करिस। उकर आयोजन जापान विदेश व्यापार संगठन (जेट्रो) अउ भारतीय उद्योग परिसंघ (सी.आई.आई.) के सहयोग ले करे गीस। ये मां 100 ले जादा उद्योग समूह के प्रतिनिधि, एनआरआई सामिल होइन। छत्तीसगढ़ म निवेश के संभावना मन म जापान म ये पहली महत्वपूर्ण सम्मेलन रहिस। ए दौरान मुख्यमंत्री से विद्युत मोटर्स के बनइया कंपनी एनडीआईएफसी के प्रतिनिधि मंडल हर मुलाकात करके निवेश सम्बंधी विषय मन म विचार-विमर्श करिन। डॉ. सिंह हर वहां विश्व हिन्दी सम्मान प्राप्त डॉ.टोकियो मिजोकामी ल समृति चिन्ह भेंटके सम्मानित करिन। विद्युत उत्पाद मन के अग्रणी कंपनी दाइकिन के प्रतिनिधि मंडल के संग घलव निवेश ल लेके बैठक होइस।
मुख्यमंत्री हर बताइन कि जापान म सिल्वर पीक ग्लोबल के ग्रुप चेयरमैन श्री सुभा भट्टाचन के संग छत्तीसगढ़ के नर्स मन ल प्रशिक्षण दे के बारे म विस्तार से बातचीत होइस। प्रदेश के नर्स मन ल छत्तीसगढ़ अउ जापान दूनो जघा प्रशिक्षण दे जाही। प्रशिक्षण से ओ मन ल रोजगार के जादा ले जादा अवसर मिलही। ओसाका म मुराता इलेक्ट्रानिक्स के निदेशक श्री करूण मल्होत्रा के संग निवेश अवसर मन के बारे म चर्चा होइस। जापानी कंपनी रोजर्स बोकी के अध्यक्ष अउ प्रबंध निदेशक श्री शितोरु रॉय ले घलोक मुलाकात होइस। ओ मन छत्तीसगढ़ म विकसित होवत कई ठन अधोसंरचना अउ इहां के संसाधन मन के प्रचुरता के जानकारी मिले म काफी प्रभावित होइन। उमन छत्तीसगढ़ म निवेश बर अपन सहमति जताईन। जापानी कंपनी एमआईआर के प्रमुख श्री शिनिची काटो हर घलोक चर्चा के समय छत्तीसगढ़ म निवेश करे म अपन दिलचस्पी दिखाइस।
Share on Google Plus

About gurturgoth.com

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment