अजय चन्द्राकर के अध्यक्षता म शासकीय मेडिकल कालेज मन के स्वशासी समिति के बैठक

जनहित के मुद्दा मन म लउहे काम करे बर अधिकारी मन ल दीन निर्देश रायपुर, 30 जून 2017। स्वास्थ्य, कुटुंब कल्याण अउ चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री अजय चन्द्राकर के अध्यक्षता म आज इहां ऊंखर निवास कार्यालय म शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय राजनांदगांव अउ छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान (सिम्स) बिलासपुर के स्वशासी समिति मन के बैठक होइस। श्री चन्द्राकर हर चिकित्सा सेवा म जनहित के मुद्दा मन म लउहे काम करे बर अधिकारी मन ल निर्देश दीन। उमन मौसमी अउ जलजनित बीमारी मन ल ध्यान म रखत इलाज के पुख्ता इंतजाम करे के निर्देश दीन। श्री चन्द्राकर हर उपस्थित दुनों मेडिकल कॉलेज के अधिष्ठाता मन ल कहिन कि कालेज मन म समस्या अउ जरूरत मन ल केन्द्र म रखके मरीज मन ल जल्दी ले जल्दी स्वास्थ्य सेवा मिलय एकर विशेष ध्यान रखे जाय। उमन प्रदेश के सबो शासकीय मेडिकल कॉलेज संस्थान मन ल नियमित अंकेक्षण कराए के घलोक निर्देश दीन। बैठक म स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री सुब्रत साहू, आयुक्त श्री आर. प्रसन्ना, राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के संचालक श्रीमती रानू साहू संग मेडिकल कालेज मन के अधिष्ठाता अउ अधिकक्षक उपस्थित रहिन।
श्री चन्द्राकर हर छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान (सिम्स्) बिलासपुर के स्वशासी समिति के कार्य मन के घलोक समीक्षा करिन। अधिकारी मन हर मेडिकल अस्पताल म मानव संसाधन अउ चिकित्सा उपकरन मन के जरूरत के संबंध म विस्तार ले जानकारी दीन। श्री चन्द्राकर हर शासन के नियम मन के मुताबिक आरक्षण नियम के पालने करत सेट-अप तैयार करके मानव संसाधन ल मजबूत करे म बल दीन। उमन कहिन कि चिकित्सा सेवा मानव के संवदेना ले जुड़े होथे। जेखर सेती स्वास्थ्य सेवा मन बर उपयोग म अवइया चिकित्सा उपकरण अउ दवाई मन गुणवत्ता पूर्ण होना चाही। बैठक म सिम्स के तीर के दुकान मन के सामाजिक हित के व्यवसाय मन म उपयोग करे के निर्णय लेहे गीस। आम नागरिक मन बर सस्ता दर म भोजन अउ नास्ता मिलए, एखर बर कैंटिन शुरू करे म घलोक चर्चा करे गीस। सिम्स के जुन्ना भवन म ट्रामा केयर सेन्टर स्थापित करे के घलोक सुझाव अधिकारी मन हर दीन। स्वास्थ्य मंत्री हर शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय राजनांदगांव के स्वशासी समिति के कार्य मन के प्रगति के जानकारी प्राप्त करिन। अधिकारी मन बताइन कि महाविद्यालय ल एमबीबीएस म 100 सीट बर प्रवेश के अनुमति ए साल घ्‍लो मिले हे। मेडिकल कौंसिल ऑफ इंडिया म, पंचम संत्र 2018-19 म एम.बी.बी.एस. म प्रवेश के अनुमति बर प्रक्रिया जारी हावय। चिकित्सालय म ओ.पी.डी. म मरीज मन के संख्या रोजाना 750 ले 850 के लगभग रहिथे। एखर अकतिहा केजुअल्टी म घलोक मरीज मन के जांच अउ उपचार करे जात हावय। श्री चन्द्राकर हर मेडिकल कॉलेज म प्रर्याप्त मानव संसाधन, चिकित्सा उपकरण अउ दवाई मन के उपलब्‍धता सुनिश्चित करे के निर्देश दीन।

Share on Google Plus

About Sanjeeva Tiwari

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment