राजग म जाय के सवालेच नइ उठय : जदयू

फोटो : इंडियन एक्‍सप्रेस ले साभार
पटना, 22 जून (भाषा) रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के तौर म समर्थन करे के एक दिन बाद जदयू ह आज स्पष्ट करिस कि ओखर राजग म जाय के सवालेच नइ उठय अऊ वो एकजुट विपक्ष के हिस्सा बने रहिही।
जदयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता के. सी. त्यागी ह दिल्ली ले फोन म कहिन कि कोविंद जी के समर्थन के मामला अलग हे.. हम राजग म फेर से वापस नइ जान। उमन कहिन कि कोविंद ह बिहार के राज्यपाल रहत सकारात्मक भूमिका निभाए हें अऊ राज्य सरकार के संग कामकाज म कोनो टकराव के स्थिति नइ उत्पन्न होए हे। त्यागी ह कहिन कि कोविंद ह बिहार के राज्यपाल के रूप म दू साल के कार्यकाल के समय पद अउ मर्यादा के पालन करे हें अऊ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ऊंखर व्यहार अऊ कार्यशैली ले संतुष्ट रहे हें। इही कारन राष्ट्रपति पद बर उंखर उम्मीदवारी के समर्थन करे हे।
त्यागी ह कहिन कि जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार अऊ माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ह चार जून के दिन द्रमुक संस्थापक एम करूणानिधि के 94वां जन्मदिन के अवसर म पश्चिम बंगाल के पहिली राज्यपाल गोपाल कृष्ण गांधी के नाम विपक्ष के राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर म सुझाए रहिन, फेर राजग ह कोविंद के नाम के घोषणा करके हम सब ल अचंभित कर दीस। बिहार के राज्यपाल के रूप म कोविंद के व्यवहार अऊ कार्यकुशलता के कारन हम उंखर समर्थन करे ल विवश होए हन। उमन कहिन कि कोविंद के उम्मीदवारी के समर्थन करे के बाद भी हम केंद्र के नरेंद्र मोदी सरकार ल हर मोर्चा म विफल मानथन अउ विवादित मुददा जइसे समान नागरिक संहिता, अनुच्छेद 370 अऊ अयोध्या आदि म आज घलोक जदयू अऊ भाजपा के बीच मतभेद हे। त्यागी ह कालेच फलियार देहे रहिन, राष्ट्रपति उम्मीदवार ल लेके निर्णय करे ल लेके विपक्षी दल म न के आज के बैठक म उंखर पार्टी सामिल नइ होवय। 
Share on Google Plus

About Sanjeeva Tiwari

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment