प्रदेश के करीबन ग्यारह हजार ग्राम पंचायत मन म होही भारत माता वाहनी : श्री अमर अग्रवाल


  • मुख्यमंत्री के निर्देश म आबकारी विभाग कोति ले तैयारी सुरू
  • आबकारी मंत्री श्री अमर अग्रवाल के अध्यक्षता म विभागीय अधिकारी मन के राज्य स्तरीय बैठक
  • अवैध शराब के रोकथाम बर संचालित टोल फ्री नम्बर 14405 म अब तक 120 शिकायत 

रायपुर, 04 जुलाई 2017। नशा जइसे सामाजिक बुराई अऊ अवैध शराब के खिलाफ जनजागरण म महिला मन के भागीदारी बढ़ाए बर छत्तीसगढ़ के सबो दस हजार 971 ग्राम पंचायत मन म भारत माता वाहिनी के गठन करे जाही। अब तक सिरिफ 532 ग्राम पंचायत मन म ही भारत माता वाहनी कार्यरत हे। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के निर्देश म वाणिज्यिक-कर (आबकारी) विभाग ह हर ग्राम पंचायत म इनकर गठन बर तैयारी शुरू कर देहे हे। 
वाणिज्यिक-कर (आबकारी) मंत्री  श्री अमर अग्रवाल ह आज संझा इहां आबकारी भवन म आयोजित विभागीय अधिकारी मन के राज्य स्तरीय बैठक म ओ मन ल भारत माता वाहिनी के गठन बर हर जिला म जरूरी कार्रवाई सुनिश्चित करे के निर्देश दीन। श्री अग्रवाल ह बैठक म आए संभागीय आबकारी उपायुक्त, जिला आबकारी अधिकारी मन अऊ सहायक आबकारी आयुक्त मन ले कहिन कि ओ मन अपन-अपन जिला मन के कलेक्टर के मार्गदर्शन म हर ग्राम पंचायत म भारत माता वाहिनी के गठन करवावंय। श्री अग्रवाल ह कहा-राज्य सरकार ह अवैध शराब के कारोबार उपर अंकुश लगाय बर करीबन एक महिना पहिली टोल फ्री नम्बर 14405 घलोक शुरू कर देहे हे। ये मां अब तक 120 शिकायत मिले हे। ए नम्बर म आम नागरिक अपन शिकायत अऊ सूचना दर्ज करवा सकत हें। शराब दुकान मन ल लेके घलोक अगर कोनो शिकायत या सुझाव होही तो ए टोल फ्री टेलीफोन नम्बर म मनखे आबकारी विभाग ल सूचित कर सकत हे। नागरिक मन ले मिले शिकायत, सूचना मन ल तत्परता ले संज्ञान म लेके विभाग जरूरी कार्रवाई करही। समीक्षा बैठक म आबकारी आयुक्त श्री अशोक अग्रवाल संग आन वरिष्ठ अधिकारी घलोक उपस्थित रहिन। 
श्री अमर अग्रवाल ह सबो जिला आबकारी अधिकारी मन ल ऊंखर जिला मन के हर एक शराब दुकान म चालू जुलाई महिना के आखरी तक सीसीटीव्ही कैमरा घलोक लगवाए के निर्देश दीन। बैठक म बताए गीस कि करीबन 693 अधिकृत शराब दुकान मन म ले अब केवल 50 दुकान मन म सीसीटीव्ही कैमरा लगाना बांचे हे। वाणिज्यिक-कर (आबकारी) मंत्री ह चेतावनी दीन कि कहूं करीबन एक महीना के ए समय-सीमा म ए दुकान मन म सीसीटीव्ही कैमरा नइ लगही त संबंधित जिला आबकारी अधिकारी या सहायक आबकारी आयुक्त के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई करे जाही। श्री अग्रवाल ह ये घलोक कहिन कि हर एक शासकीय शराब दुकान ल खाद्य सुरक्षा लायसेंस घलोक अनिवार्य रूप ले लेहे ल होही। 
उमन कहिन - राज्य सरकार के नवा शराब नीति के फलस्वरूप कोचिया बंदी के अभियान घलोक काफी सफल होय हे, फेर ए दिशा म हम सबला सरलग सतर्क रहे के जरूरत हे। उमन सबो जिला आबकारी अधिकारी मन ल शराब के अवैध करोबार अऊ अवैध परिवहन के रोकथाम बर सघन अभियान चलाय के घलोक निर्देश दीन। उमन कहिन कि शराब दुकान मन अऊ बीयर बार मन के रोजाना खुले अऊ बंद होए के समय घलोक शासन कोति ले निरधारित कर दे गए हे। एकर गंभीरता ले पालन सुनिश्चित करवाए जाय। 
Share on Google Plus

About Sanjeeva Tiwari

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment