डॉ. रमन सिंह

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह करिस राज्य के पहिली नवाचार केंद्र के लोकार्पण

  • युवा स्टार्ट-अप उद्यमी मन ल प्रोत्साहित करत कहिन : मन लगा के काम करइया ल मिलथे सफलता
  • स्टार्ट-अप ल आघू बढ़ाए हर संभव सहयोग के भरोसा

रायपुर, 13 अपरेल 2018। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह आज इहां पंडरी स्थित सिटी सेंटर मॉल म राज्य के पहिली अऊ देश के दूसर सबले बड़े स्टार्टअप इन्क्यूबेशन सेण्टर ‘36 इंक‘ के लोकार्पण करिन। ए सेण्टर म स्टार्ट-अप उद्यमी मन बर आधुनिकतम तकनीक के एकदम नवा उपकरण देहे गए हे। करीबन 30 हजार वर्ग फीट म स्थापित ए केन्द्र म थ्री-डी प्रिंटर्स, लेज़र कटर, इलेक्ट्रॉनिक्स टेस्टिंग अऊ मल्टीमीडिया निर्माण सुविधा उद्यमी मन बर लगही। ए केन्द्र के लोकार्पण के संगेच इहां 125 स्टार्ट-अप उद्यमी मन कोति ले काम घलोक चालू कर देहे गीस।
मुख्यमंत्री ह ए अवसर म छत्तीसगढ़ के युवा स्टार्ट-अप उद्यमी मन ल प्रोत्साहित करत कहिन कि पूरा मन लगा के काम करव, सफलता खच्चित मिलही। जऊन मन ले काम करे हे, वो कभू नइ हारय। उमन युवा उद्यमी मन ल सफलता बर शुभकामना देवत कहिन कि स्टार्टअप ल आघू बढ़ाए बर राज्य शासन कोति ले हर संभव सहयोग देहे जाही।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन कि ये सेंटर राज्य शासन के अनूठा पहल हे। राज्य शासन युवा स्टार्ट-अप उद्यमी मन ल सबो जरूरी सहयोग प्रदान करही। डॉ. रमन सिंह ह कहिन कि ये देश के दूसर सबले बड़े सेण्टर ये। ए अवसर म उद्योग मंत्री श्री अमर अग्रवाल, छत्तीसगढ़ राज्य औद्योगिक विकास निगम (सी.एस.आई.डी.से.) के अध्यक्ष श्री छगन मुंदड़ा, मुख्य सचिव श्री अजय सिंह, सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख सचिव श्री अमन सिंह, अटल इनोवेशन मिशन, नीति आयोग, नई दिल्ली के मिशन डायरेक्टर श्री रमन्न रामनाथन, सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव श्री संजय शुक्ला, छत्तीसगढ़ इन्फोटेक प्रमोशन सोसायटी (चिप्स) के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एलेक्स पॉल मेनन, 36inc इन्क्यूबेशन सेण्टर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राजीव रॉय घलोक उपस्थित रहिन। मुख्यमंत्री ह इन्क्यूबेशन सेंटर के अवलोकन घलोक करिन।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह ए अवसर म युवा स्टार्ट-अप उद्यमी मन कोति ले विकसित 5 नवा प्रोडक्ट के घलोक शुभारंभ करिन। जेमा हिन्दी अउ छत्तीसगढ़ी भाखा म विकसित करे गए ‘मेडिक्लिक मोबाईल एप्प’, व्यावसायिक परामर्श बर छत्तीसगढ़ी भाखा म ‘माई अगला कदम‘, कृषि काम मन बर ‘गोवत्स‘, दिव्यांग मन बर ट्राईसाईकिल, शिक्षा क्षेत्र बर ‘स्कॉलरबज्’ अउ रायपुर बाजार प्रोडक्ट सामिल हे।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन कि राज्य म 36inc सेण्टर के स्थापना प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के विचार ल आघू बढ़ाए के दिशा म ठोस कदम हे। 36inc इन्क्यूबेशन सेण्टर ल केंद्र सरकार कोति ले अटल अभिनव केंद्र बनाए बर 3 गैर शैक्षणिक इन्क्यूबेटर मन ले एक के रूप म चुने गए हे। पूरा देश ले मिले करीबन 2000 आवेदन मन म ले राज्य 36inc इन्क्यूबेशन सेण्टर के चयन होय हे। ये एक अइसे केंद्र हे, जेमां युवा उद्यमी अपन विचार लेके आहीं अऊ वो विचार मन ल एक सफल व्यापार के रूप दिहीं।
चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री ऐलेक्स पॉल मेनन ह बताइस कि ये छत्तीसगढ़ सरकार कोति ले समर्थित राज्य के पहली कोर इन्क्यूबेशनस-कम-एक्सीलरेटर सेंटर हे। 36inc संस्थान पूरा राज्य म नेटवर्क अऊ इनक्यूबेटर-कम-एक्सीलरेटर हब के रूप म काम करही। एखर ले रायपुर जइसे नवप्रगतिशील क्षेत्र ल वैश्विक स्तर के जादा क्षमता वाले उद्यमी मन के संग मिलके काम करे के अवसर मिलही। 36inc के मुख्य उद्देश्य एक अइसे मंच के निर्माण करना हे जेमां सबो ल समान अवसर मिलय। संस्थान म हब अऊ स्पोक मॉडल लगे होही, जेखर से कई ठन महाविद्यालय मन के ई-सेल अऊ महाविद्यालय स्तर के इंक्यूबेटर ए संस्थान ले जुड़ही। सेंटर के अंतर्गत बनइया बहुत अकन लैब उद्यमी मन ल बड़का लाभ प्रदान करही। 36inc सेंटर ए खातिर तको देश म सर्वश्रेष्ठ माने जाही काबर कि ए सेंटर म रैपिड प्रोटोटाइपिंग लैब वाले मशीन घलव होही। जेखर उपयोग आईडिया ल मूर्त रूप देहे म करे जाही।

मुहाचाही:  जगदलपुर म शुरू होही शूटिंग, तीरंदाजी अऊ वाटर स्पोर्ट्स अकादमी : डॉ. रमन सिंह