छत्तीसगढ़ ल मिलीस एग्रीकल्चर लीडरशिप एवार्ड-2017

हॉर्टिकल्चर के क्षेत्र म सर्वश्रेष्ठ राज्य के पुरस्कार
छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ह हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी के हाथ पाईस पुरस्कार

रायपुर,6 सितम्‍बर 2017। छत्तीसगढ़ ल एक पईत फेर राष्ट्रीय पुरस्कार ले नवाजे गए हे। हार्टिकल्चर के क्षेत्र म छत्तीसगढ़ म होए उल्लेखनीय काम मन बर ए प्रदेश ल एग्रीकल्चर लीडरशिप एवार्ड – 2017 देहे गए हे। नई दिल्ली के ताज पैलेस होटल म आयोजित एक कार्यक्रम म पुरस्कार ल हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी के हाथ छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ह ग्रहण करिन। ए अवसर म आन राज्य मन के कृषि मंत्री संग कृषि जगत ले जुड़े विशेषज्ञगन मन घलोक उपस्थित रहिन।




ए अवसर म श्री ब्रजमोहन अग्रवाल ह कहिन कि, छत्तीसगढ़ ल बने 17 साल होए हे अऊ आज ये राज्य देश मे सबले तेज गति ले विकसित होवइया राज्य बन गए हे । उमन कहिन के हार्टिकल्चर के क्षेत्र म छत्तीसगढ़ ह क्षेत्रफल म 4 गुना अऊ उत्पादन म 5 गुना के वृद्धि करे हे। उमन बताइन कि राज्य के गठन के समय छत्तीसगढ़ म 70 हजार पॉवर पंप रहिस जऊन अब बाढ़के साढ़े चार लाख हो गये हे। हमन उत्पादन बढ़ाए बर बड़ पैमाना म माइक्रो सिंचाई ल अपनाए हवन। राज्य म 700 ले जादा एनीकट अऊ स्टॉप डैम बनाके किसान मन ल पानी देहे जात हे। श्री अग्रवाल ह कहिन कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के किसान मन के आय दुगुना करे के लक्ष्य ल पूरा करे के दिशा म छत्तीसगढ़ म बहुत अकन कदम उठाये गये हे। सरकार ह छत्तीसगढ़ म कृषि के विकास बर साल- दर साल नवा नीति मन के तरफ कार्यक्रम तैयार करे हे जेखर ले न केवल कृषि भलुक उदयानकी फ़सल मन के उत्पादन ल बढ़ावा मिले हे। श्री अग्रवाल ह कहिन कि, कृषक आत्मनिर्भर बनय एखर बर ये ज़रूरी हे कि ओ मन सब्जी उत्‍पादन, पशुपालन संग आन कृषि काम मन ले घलोक जुड़ंय। भारतीय कृषि अऊ खाद्य परिषद कोति ले आयोजित ए ग्लोबल एग्रीकल्चर लीडरशिप समिट म नीति आयोग के सदस्य प्रोफेसर रमेश चंद्र अऊ छत्तीसगढ़ के अकतहा मुख्य सचिव श्री अजय सिंह घलोक उपस्थित रहिन।