छत्तीसगढ़ ल साक्षरता म चार राष्ट्रीय पुरस्कार

साक्षरता म घलोक छत्तीसगढ़ के तरक्की सराहनीय: उप राष्ट्रपति
अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस म उप राष्ट्रपति श्री नायडू ह नवाजिस

रायपुर, 08 सितम्‍बर 2017। अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के अवसर म उप राष्ट्रपति श्री वेंकैया नायडू ह आज नई दिल्ली के विज्ञान भवन म आयोजित समारोह म छत्तीसगढ़ के दू नक्सल हिंसा पीड़ित जिला मन – दंतेवाड़ा अऊ जशपुर ल राष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कार ले सम्मानित करिन। उमन छत्तीसगढ़ के दू ग्राम पंचायत – कर्माहा (जिला-सरगुजा) अऊ टेमरी (जिला रायपुर) ल घलोक अक्षर भारत राष्ट्रीय पुरस्कार ले नवाजिन। ए प्रकार छत्तीसगढ़ ल आज राष्ट्रीय स्तर के चार पुरस्कार मिलिस। आप मन जानतेच हावव कि आज के समारोह म देश के कई ठन राज्य मन ल कुल ग्यारा राष्ट्रीय पुरस्कार देहे गईस। एमां ले चार पुरस्कार छत्तीसगढ़ ल मिलिस।




श्री नायडू ह कहिन कि छत्तीसगढ़ एक नवा राज्य हे, जऊन हरेक क्षेत्र म तेजी ले तरक्की करत हे। साक्षरता के क्षेत्र म घलोक छत्तीसगढ़ के तरक्की सराहनीय हे। उमन कहिन कि पूरा देश ल साल 2022 तक शत-प्रतिशत साक्षर बनाए के लक्ष्य हे। ए लक्ष्य ल प्राप्त करे बर सबके भागीदारी बहुत जरूरी हे। ए अवसर म केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर घलोक उपस्थित रहिन। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह राष्ट्रीय स्तर के ए उपलब्धि मन बर दंतेवाड़ा अऊ जशपुर जिला के जनता, उहां के साक्षरता अभियान ले जुड़े अधिकारी-कर्मचारी मन अऊ अक्षर सैनिक मन ल अउ दुनों ग्राम पंचायत के गांव वाले मन अउ पंच-सरपंच मन ल बधाई देहे हें।




समारोह म छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिला के राष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कार जिला पंचायत दंतेवाड़ा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. गौरव सिंह ह अऊ जशपुर जिला के पुरस्कार उहां के जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री दीपक सोनी ह ग्रहण करिन। ग्राम पंचायत कर्माहा (जिला सरगुजा) के पुरस्कार उहां के जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अनुराग पाण्डेय ह अऊ ग्राम पंचायत टेमरी (जिला-रायपुर) के पुरस्कार उहां के सरपंच श्रीमती तिजिया बंजारे ह ग्रहण करिस। कार्यक्रम म छत्तीसगढ़ के चारों जिला मन के लोक शिक्षा समिति मन के परियोजना अधिकारी घलोक उपस्थित रहिन।
अधिकारी मन ह ए मौका म बताइन कि नक्सल हिंसा पीड़ित दंतेवाड़ा जिला म साक्षर भारत अभियान के तहत सर्वेक्षित 80 हजार 208 लोगन म ले 78 हजार ले जादा मनखे साक्षर हो गए हें। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. गौरव सिंह ह बताइस कि दंतेवाड़ा जिला जेल के सबो 732 कैदी घलोक ए अभियान ले जुड़के पूर्ण साक्षर हो गए हें अऊ दंतेवाड़ा जिला शत-प्रतिशत साक्षर जेल के श्रेणी म सामिल हो गए हे। जिला प्रशासन ह दंतेवाड़ा जिला के लौह अयस्क खदान क्षेत्र किरदुंल म औद्योगिक श्रमिक मन के बीच घलोक साक्षरता अभियान चलाए हे। जिला म डिजिटल साक्षरता म घलोक विशेष रूप ले बल देहे जात हे। बहुत जल्दी उहां के सबो 78 हजार ले जादा नव साक्षर मन के नाम अऊ ऊंखर फोटो अउ निवास के पता वेबसाईट म पब्लिक डोमेन म प्रदर्शित कर उि जाही। ए जिला म आखर झापी के माध्यम ले मनखे मन ल डिजिटल साक्षर बनाए के घलोक प्रयास करे जात हे। जशपुर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री दीपक सोनी ह बताइस कि मुख्यमंत्री कौशल उन्नयन योजना के तहत नव साक्षर मन ल कौशल प्रशिक्षण ले जोड़के रोजगार देवाए अऊ जिला म डिजिटल साक्षरता ल बढ़ावा देहे म जशपुर जिला ल राष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कार बर चुने गीस हे।