छत्तीसगढ़ संचार क्रांति योजना : प्रदेश म 55.60 लाख मनखे मन ल मुफ्त मोबाइल फोन देहे के तैयारी

राज्य शासन कोति ले अधिसूचना जारी
पहिली चरण म 50.80 लाख अऊ दूसर चरण म 4.80 लाख मोबाइल फोन बांटे के लक्ष्य
करीबन 1230 करोड़ रूपिया के खर्च अनुमानित
योजना बर मुख्य सचिव के अध्यक्षता म उच्‍च अधिकार प्राप्त समिति गठित

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के सर्वोच्च प्राथमिकता वाले छत्तीसगढ़ संचार क्रांति योजना (स्काई) के तहत राज्य म ढाई साल के भीतर 55 लाख 60 हजार मनखे मन ल निःशुल्क मोबाइल फोन दे बर एक हजार 230 करोड़ रूपिया के कार्ययोजना तैयार करे गए हे। ये मां ले 50 लाख 80 हजार हितग्राही मन ल चालू वित्तीय साल 2017-18 अऊ अवइया वित्तीय साल 2018-19 म मोबाइल फोन बांटे के लक्ष्य हे। एमां 40 हजार 10 हजार ग्रामीण हितग्राही अऊ पांच लाख 60 हजार शहरी गरीब मन संग तकनीकी अऊ गैर तकनीकी कॉलेज मन के पांच लाख 10 हजार विद्यार्थी सामिल होहीं। पहिली चरण म ए म 1128 करोड़ रूपिया के लागत आए के अनुमान हे। बांचे चार लाख 80 हजार परिवार ल वित्तीय साल 2019-20 म मोबाइल फोन दीए जाही, जऊन म अनुमानित 102 करोड़ रूपिया के लागत आही।



जऊन हितग्राही ल स्मार्ट फोन दे जाही, ओखर फोन नम्बर पूर्व आवंटित होही, ये वाले आधार अऊ बैंक खाता ले घलोक जुड़े होही, एखर से हितग्राही ल अपन फोन निरंतर रखे बर प्रोत्साहन मिलही। संचार क्रांति योजना ले छत्तीसगढ़ के ग्रामीण क्षेत्र मन म मोबाइल फोन मरम्मत अऊ रख-रखाव के काम मन म युवा मन ल स्व-रोजगार घलोक मिल सकही।
अधिसूचना के अनुसार राज्य म मोबाइल कनेक्टिविटी ले छूटे इलाका मन ल संचार क्रांति के नेटवर्क ले जोड़ना, स्मार्ट फोन के उपयोग के संग प्रदेश म आर्थिक गतिविधि मन ल बढ़ावा देना, जेण्डर सशक्तिकरण, जनधन, आधार अऊ स्मार्ट फोन के साथ सरकारी योजना मन के हितग्राही मन ल व्यापक स्तर म प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) प्रक्रिया ले उंखर राशि सीधा ऊंखर खाता म भेजना डिजिटल भुगतान अऊ पहुंच के संग बैंकिंग सेवा मन के विस्तार, सामान्य सेवा केन्द्र के संग आम जनता ल शासकीय सेवा देवाना ए योजना के मुख्य उद्देश्य हे। एखर अलावा स्मार्ट फोन के संग शासकीय अऊ निजी सेवा मन के लाभ नागरिक आसानी ले, ले सकहीं अऊ शासन म उंखर भागीदारी ल प्रोत्साहन मिल सकही, ये वाले घलोक ए योजना के उद्देश्य हे।