राज्य के 14 जिला मन के 29 तहसील मन म अल्प वर्षा

मुख्यमंत्री के निर्देश म किसान मन के मदद बर प्रशासन होइस सक्रिय
मुख्य सचिव ह वीडियो कॉन्फ्रेसिंग ले कमिश्नर-कलेक्टर मन के बैठक लीस
खरीफ फसल मन बर नहर मन ले पानी छोड़े के निर्देश
रायपुर 31 जुलाई 2017। राज्य के 27 म ले 14 जिला मन के 29 तहसील मन म ए पइत चालू मानसून के समय अब तक बारिश तुलनात्मक रूप ले कम होए के कारन मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह प्रशासन ल किसान मन के मदद बर आपात कालीन कार्य योजना बनाए के निर्देश दिए हें। मुख्यमंत्री के निर्देश म ए सिलसिला म मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड ह आज इहां मंत्रालय (महानदी भवन) म वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के संग 14 जिला मन ले संबंधित संभागीय कमिश्नर अऊ जिला कलेक्टर मन के बैठक लीन। 
श्री ढांड ह बैठक म अल्प वर्षा प्रभावित ए तहसील मन म खरीफ फसल मन के स्थिति के समीक्षा करिन। उमन 50 ले 70 प्रतिशत कम वर्षा वाले  तहसील मन म सिंचाई जलाशय मन के नहर मन ले पानी छोड़े के निर्देश दीन। उमन कहिन कि खरीफ म धान अऊ राहेर के फसल मन ल बचाना जरूरी हे। नहर मन ले तुरते पानी खेत मन तक पहुचाए जाय। मुख्य सचिव ह कहिन कि ए क्षेत्र मन म टूयूबबेल ले सिंचाई बर विद्युत व्यवस्था सुचारू रूप ले होवय एमा विशेष ध्यान रखे जाय। उमन नहर मन के माध्यम ले पानी खेत मन तक सुचारू रूप ले पहुंचय ए खातिर पेट्रोलिंग घलोक कराए के निर्देश दीन। बैठक म कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव अऊ कृषि उत्पादन आयुक्त श्री अजय सिंह, जल संसाधन विभाग के सचिव श्री गणेश शंकर मिश्रा, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के सचिव सुश्री शहला निगार, राजस्व विभाग के श्री एन.के.खाखा, प्रबंध संचालक छत्तीसगढ़ राज्य बीज विकास निगम श्री अलोक अवस्थी, आयुक्त लोक स्वास्थ्य अउ कुटुंब कल्याण श्री आर.प्रसन्ना संग आन अधिकारी उपस्थित रहिन।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

कृषि विभाग के संचालक श्री एम.एस. केरकेट्टा ह बैठक म कलेक्टर मन ल बताइन कि खरीफ फसल बर जहां 35 दिन ले जादा थरहा (नर्सरी) धान के पौधा के हो गए हे। ओ मन ल खेत म तीन ले चार पौधा एक संग लगाय के सलाह किसान मन ल देहे जाय। अइसनहे ब्यासी न करके निदाई करे जाय अउ नमी वाले खेत मन म यूरिया के छिड़काव करे जाए। जिहां नमी नइ हे उहां यूरिया के दू प्रतिशत घोल के छिड़काव करे के सलाह किसान मन ल दे जाय। अवइया 20 अगस्त तक वर्षा नइ होए म दुसर फसल जइसे- उरिद, मूंग, तिली, अउ सरसों के फसल बर सलाह दे जा सकत हे। बैठक म रायपुर कलेक्टर कोति ले अवगत कराए गीस कि आरंग तहसील म गंगरेल जलाशय ले नहर मन के माध्यम ले खेत मन तक पानी पहुंचाए जा चुके हे। तिल्दा म घलोक पानी पहुंचाया जात हे।
मुख्य सचिव ह जलाशय मन ले पानी छोड़े बर जिला स्तरीय बैठक जल्‍दी करे के निर्देश घलोक रायपुर संभाग अउ दुर्ग संभाग के आयुक्त ल दीन। बलौदाबाजार जिला कलेक्टर ह बताइन कि पलारी, कसडोल अऊ बिलाईगढ़ म नहर मन के माध्यम ले पानी देहे जात हे। इहां किसान मन कोति ले टूयूबबेल के माध्यम ले घलोक सिंचाई करे जात हे। मुख्य सचिव ह कलेक्टर मन ल ये घलोक निर्देश दीन कि नहर मन के पानी व्यर्थ मत बोहाए पावय एकर विशेष ध्यान रखे जाय। राजनादगांव जिला कलेक्टर ह बताइस कि राजनादगांव के छुरीया राजनादगांव डोंगरगढ़ अऊ डोंगरगांव तहसील मन म घलोक किसान मन ल खेती बर जलाशय मन के माध्यम ले पानी देहे जात हे। दुर्ग जिला कलेक्टर ह बताइस कि दुर्ग पाटन धमधा म किसान मन कोति ले सिचाई पम्प मन के माध्यम ले सिंचाई करे जात हे। मुख्य सचिव ह तांदुला जलाशय ले पानी आजेच छोड़े के निर्देश दुर्ग संभाग आयुक्त अउ कलेक्टर ल दीन। उमन बेमेतरा जिला के बेरला, साजा अऊ नवागढ़ तहसील मन म होवत काम मन के समीक्षा करत कहिन कि ए तहसील मन म नहर मन अउ टूयूबबेल ले सिंचाई सुविधा देवाए जाय। उमन ट्रांसफारमर के कमी ल घलोक जल्‍दी निराकृत करे के निर्देश दीन। उमन गरियाबंद के दू तहसील मन सरलग गरियाबंद अऊ राजिम म सिंचाई बर सिकासार डेम ले पानी छोड़े जाय के निर्देश दीन। अइसनहे कांकेर के भानूप्रतापपुर, दुर्गकोंदल अऊ नरहरपुर म खरीफ फसल बर दुधावा डेम ले पानी जल्‍दी छोड़े जाय के निर्देश घलोक दीन। बिलासपुर के कोटा तहसील बर घोंघा जलाशय ले पानी देहे के निर्देश दीन। कलेक्टर बिलासपुर ह बताइस कि अभी हाल म टूयूबबेल के माध्यम ले किसान सिंचाई करत हे। महासमुंद जिला कलेक्टर ह समीक्षा के समय बताइन कि महासमुंद अऊ सरायपाली तहसील के किसान मन ल सिंचाई बर कोडार जलाशय ले पानी देहे जात हे।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

मुख्य सचिव ह धमतरी जिला के कुरूद अउ मुंगेली जिला के लोरमी, कबीरधाम जिला के बोड़ला, बालोद जिला के गुरूर तहसील मन बर घलोक नहर मन के माध्यम ले पानी देहे के निर्देश घलोक दीन। बैठक म ए सबो तहसील मन म पेयजल के स्थिति के संगेच वर्षा के समय होवइया मौसमी बीमारी मन के रोकथाम अउ बचाव बर पहिली ले करे गए तइयारी मन के जानकारी घलोक लीन। मुख्य सचिव ह मैदानी क्षेत्र मन म कार्यरत मितानिन मन ल मुख्यालय म रहे अउ ऊंखर क्षेत्र के गांव मन म नियमित रूप ले घूमें के निर्देश दीन। उमन कहिन कि मितानिन मन तीर हर समय बहुत मात्रा म दवाई रहय ये सुनिश्चित करे जाए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *