स्वास्थ्य मंत्री श्री अजय चन्द्राकर ह ‘65वां नेशनल कॉफ्रेंस ऑफ एनाटॉमी’ के शुभारंभ करिन

रायपुर, 01 दिसम्बर 2017। स्वास्थ्य अउ परिवार कल्याण मंत्री श्री अजय चन्द्राकर ह आज पंडित जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज सभाकक्ष म आयोजित दू दिन के ‘‘65वां नेशनल कॉफ्रेंस ऑफ एनाटॉमी (मानव शरीर संरचना)’’ के शुभारंभ करिन। स्वास्थ्य मंत्री श्री चन्द्राकर ह शुभारंभ सत्र ल संबोधित करत कहिन कि अभी हाल म देखे जात हे कि शरीर के प्रतिरोधक क्षमता म अंतर आ गए हे। उमन कहिन कि चिकित्सा सलाहकार घलोक बताथें कि खान-पान, आधुनिक चकाचौंध अऊ अनियमित दिनचर्या के सेती मानव शरीर के प्रतिरोधक क्षमता म कमी देखे ल मिलत हे। श्री चन्द्राकर ह कहिन कि हमला शारीरिक संरचना ल स्वस्थ्य अऊ मजबूज बनाए बर शुद्ध, पौष्टिक अऊ सात्विक भोजन लेना चाही। चिकित्सक मन के सलाह लेना चाही। उमन कहिन दैनिक दिनाचर्या- सोए ले लेके खान-पान म विशेष ध्यान देहे के जरूरत हे। श्री चन्द्राकर ह कहिन कि मानव शरीर संरचना म प्रतिरोधक क्षमता विकसिकत करे के सार्थक उपाय खोजना चाही। उमन देश भर ले आए प्रतिभागी मन के स्वागत करिन। ए मौका म चिकित्सा क्षे़त्र म उत्कृष्ठ काम करइया चिकित्सक मन ल सम्मानित करे गीस।
छत्तीसगढ़ म अइसन के पहिली कॉन्फ्रेंस हे। कॉन्फ्रेंस म मानव ह्दय के संरचना अउ सर्जरी, मानव घुटना (माड़ी) के एमआरआई ले जांच, हाथ के रेडियल हड्डी के टूटे, मानव अंग के प्रिजर्वेशन अऊ अनुवांशिक करण जऊन मानव शरीर के संरचना ल प्रभावित करथे के संबंध म विस्तार चर्चा करे गइस। कॉन्फेंस म स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री सुब्रत साहू, सचिव श्री अनिल साहू, संचालक चिकित्सा शिक्षा डॉ. ए.के. चन्द्राकर, अखिल भारतीय एनाटॉमी संघ के अध्यक्ष डॉ. ए.के. श्रीवास्तव, अधिष्ठाता मेडिकल कॉलेज रायपुर डॉ. आभा सिंह, विभागाध्यक्ष डॉ. माणिक चटर्जी संग देश भर ले चिकित्सा विशेषज्ञ, डाक्टर्स, शोधकर्ता अऊ विद्यार्थी सामिल होइन।