स्मार्ट कार्ड ले गरीब मनखे मन तक ल मिलिस इलाज के अधिकार

बलरामपुर 01 दिसम्बर 2017। स्वस्थ्य तन म स्वस्थ्य मन के वास होथे अऊ एखर बिना जीवन म खुशी के कल्पना करना निरर्थक हे। बीमारी छोटे होवय या बड़े समय म उपचार नइ करे ले बाढ़ जाथे। राज्य शासन अइसन लाखों मनखे मन के पीरा ल समझत उंखर बीमारी के ईलाज कराए के उद्देश्य ले मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के अभिनव शुरूआत करे हे।




बलरामपुर-रामानुजगंज जिला जनवरी 2012 म अपन अस्तित्व म आइस, ओ समय जिला म केवल 54896 स्मार्ट कार्ड सक्रिय रहिस। जिला बने के बाद अब तक 1 लाख 76 हजार 401 परिवार मन ल स्मार्ट कार्ड जारी करे गए हे। संगेच जिला के कुल 38 हजार 207 हितग्राही जिला अउ प्रदेश के आन पंजीकृत चिकित्सालय मन म स्मार्ट कार्ड के माध्यम ले स्वास्थ्य लाभ लेहे हें। बलरामपुर-रामानुजगंज जिला म विशेष पिछड़ी जनजाति पहाड़ी कोरवा अउ पण्डो निवासरत हें। जिंकर बर विशेष अभियान चलाके शत्-प्रतिशत स्मार्ट कार्ड बनाए के कार्यक्रम चालू करे गइस, अउ कुल 4849 परिवार मन ल स्मार्ट कार्ड देहे गीस। ओ मन अब स्मार्ट कार्ड ले अपन ईलाज करावत हें।

जिला चिकित्सालय म खुद के ईलाज करावत ग्राम खटवाबरदर के श्री प्रेमसागर अउ ग्राम दलधोवा के बालेश्वर ह बताइस कि गरीबी अउ पइसा के अभाव म ओ ह अपन ईलाज नइ करा पात रहिस। फेर आज प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना ले अपन ईलाज स्मार्ट कार्ड ले करावत हे। उमन प्रदेश के मुखिया डॉ. रमन सिंह के संग ए योजना के सराहना करत कहिन कि, स्वास्थ्य बीमा योजना नइ होए ले पहिली कई गरीब परिवार मन के बीमारी के ईलाज करात खेत-खार, माल-मत्‍ता, छेरी-पठरू, गहना-गरू सब बेंचा जात रहिस। फेर अब स्वास्थ्य स्मार्ट कार्ड के माध्यम ले शासकीय अऊ प्राईवेट चिकित्सालय म बड़े अउ छोटे बीमारी मन के ईलाज करइ सरल हो गए हे।