राज्य म चउदा बछर म नगरीय निकाय मन के माली हालत होइस अड़बड़ पोठ: श्री अमर अग्रवाल

उद्योग स्थापना अऊ निवेश बर छत्तीसगढ़ म अनुकूल वातावरण
रायपुर, 04 दिसम्बर 2017। वाणिज्य अउ उद्योग अउ नगरीय प्रशासन अउ विकास विभाग के मंत्री श्री अमर अग्रवाल ह आज इहां आयोजित प्रेसवार्ता म मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व म राज्य सरकार के चउदा साल पूरा होए म विभागीय उपलब्धि मन ले अवगत कराइन। उमन कहिन कि ए दौरान नगरीय निकाय मन के माली हालात अड़बड़ मजबूत होइस हे। साल 2003-2004 म जहां नगरीय निकाय मन म कर्मचारी मन ल सरलग रूप ले वेतन देहै म दिक्कत होवत रहिस। ये स्थिति आज खतम होइस हे। श्री अग्रवाल ह बताइस कि एक हजार करोड़ रूपिया ले जादा राशि आज विकास काम मन बर निकाय मन म जमा हे। उद्योग स्थापना अऊ निवेश बर घलोक राज्य म उत्साहजनक वातावरण के निर्माण होय हे। छत्तीसगढ़ म सार्वजनिक-निजी सहभागिता ले रेल सुविधा मन के विकास के नवा पहल करे गए हे। आजादी के बाद अब तक राज्य म सिरिफ 1196 किलोमीटर रेल लाईन के विस्तार होय हे जबकि डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व म नवा पहल करत सार्वजनिक-निजी सहभागिता (पीपीपी) के आधार म अवइया पांच साल म 1310 किलोमीटर नवा रेल लाईन बिछाए जाही।



श्री अमर अग्रवाल ह बताइस कि वित्तीय साल 2003-042004 म नगरीय प्रशासन अउ विकास विभाग के बजट केवल 331 करोड़ रहिस जऊन साल 2017-18 म बढ़कर 2 हजार 975 करोड़ रूपिया के हो गए हे। उमन कहिन कि राज्य के जम्मो 168 नगरीय निकाय भारत सरकार कोति ले खुले म शौचमुक्त (ओडीएफ) घोषित करे गए हे। भारत सरकार से निरधारित लक्ष्य ले दू साल पहिली मुख्यमंत्री जी के देहे लक्ष्य 02 अकटूबर 2017 के अंतर्गत सबो निकाय खुले म शौचमुक्त घोषित करे जा चुके हे। भारत सरकार कोति ले नियुक्त स्वतंत्र एजेंसी के देखे के बाद निकाय मन ल ओडीएफ घोषित करे के अनुशंसा करे गीस। योजना के अंतर्गत कुल 540 करोड़ के लागत ले 3 लाख 51 निजी शौचालय मन के निर्माण करे गीस।
श्री अग्रवाल ह कहिन कि शहरी क्षेत्र मन म मनखे मन ल सुविधाजनक तरीका ले आये-जाय के व्यवस्था बर सिटी बस परियोजना के संचालन एक महत्वपूरा उपलब्धि हे। एखर पहिली चरण म साल 2012 म नगर निगम रायपुर कोति ले 14 करोड़ 85 लाख के लागत ले 100 सिटी बस मन के संचालन शुरू करे गीस। दूसर चरण म राज्य शासन कोति ले प्रदेशवासी मन ल नवा, आरामदेह अउ किफायती सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था प्रदान करे बर 148 करोड़ 42 लाख के लागत ले 75 शहर मन ल 22 कलस्टर मन म बांट के 378 सिटी बस मन के संचालन 140 रूट मन म करे जात हे। हर बछर अउसत के मुताबिक ढाई करोड़ करोड़ यात्री मन सिटी बस ले यात्रा करत हे। दीनदयाल अंत्योदय योजना के अंतर्गत 19 हजार 144 महिला स्वसहायता समूह मन अउ 116 क्षेत्र स्तरीय समूह मन के गठन करे गए हे।



नगरीय प्रशासन अउ विकास मंत्री श्री अग्रवाल ह बताइस कि नागरिक मन ल निरधारित समय-सीमा म भवन अनुज्ञा प्रदान करे बर विभाग कोति ले ’’ऑनलाईन भवन अनुज्ञा परियोजना’’ चालू करे गए हे। जेमां प्रदेश के 10 बड़े शहर रायपुर, बिलासपुर, भिलाई, कोरबा, राजनांदगांव, दुर्ग, रायगढ़, जगदलपुर, अंबिकापुर अउ चिरमिरी सामिल हे।
स्मार्ट सिटी परियोजना म तीन शहर मन के चयन –
श्री अमर अग्रवाल ह कहिन कि भारत सरकार कोति ले रायपुर, बिलासपुर अउ नवा रायपुर स्मार्ट सिटी बर चुने गए हे। रायपुर बर 3939 करोड़ अउ बिलासपुर बर 3960 करोड़ के योजना स्वीकृत घलोक हो गए हे। राज्य सरकार कोति ले स्थानीय संसाधन मन के समुचित उपयोग कर नगर निगम भिलाई ल सुपर स्मार्ट सिटी, कोरबा ल सुप्रीम स्मार्ट सिटी अउ राजनांदगांव ल प्रीमियम स्मार्ट सिटी के रूप म विकसित करे के अभिनव पहल करे गए हे। प्रदेश के नगरीय निकाय मन म मिशन अन्तर्गत साल 2022 तक अनुमानित 4 लाख पक्का आवासगृह के निर्माण के लक्ष्य रखे गए हे। अब तक 226 परियोजना मैन म 59 हजार 286 घर बर कुल राशि रू. 2538 करोड़ के स्वीकृति घलोक देहे गए हे।