छत्तीसगढ़ अब विकास के रद्दा म पल्ला भागत राज्य म बदल गए हे: डॉ. रमन सिंह

स्किल अउ एन्टरप्रोन्योरशिप समिट म मुख्यमंत्री ह कहिन कि कौशल विकास म छत्तीसगढ़ देश म सबले आगू

रायपुर, 7 दिसम्बर 2017। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन कि कौशल उन्नयन योजना मन के बदौलत राईजिंग छत्तीसगढ़ अब विकास के तेज दौड़ लगइया दउड़त छत्तीसगढ़ म बदल गए हे। उमन कहिन कि कौशल विकास के अधिकार देहे वाला छत्तीसगढ़ देश के पहिली राज्य रहिस अऊ अभी हाल म हम ये मां देश म सबले आगू हवन। मुख्यमंत्री आज नवई दिल्ली म मेल टुडे समाचार पत्र कोति ले आयोजित स्किल अउ एन्टरप्रोन्योरशिप समिट ल संबोधित करत रहिन ।



मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन कि छत्तीसगढ़ म युवा मन ल रोजगार ले जोड़ना हमर मूलमंत्र हे राइट टू स्किल अऊ राइट स्किल। उमन कहिन कि हमन स्थानीय अऊ राष्ट्रीय रोजगार जरूरत मन ल ध्यान म रखके युवा मन ल कौशल प्रशिक्षण देहेन अऊ ए खातिर प्रशिक्षण के बाद ओ मन ल रोजगार मिले म आसानी होवत हे। मुख्यमंत्री ह कहिन कि हमन छत्तीसगढ़ म युवा मन ल कनेक्टिविटी प्रदान करे बर बस्तर नेट अऊ स्काई जैइसे महत्वाकांक्षी योजना चालू करे गए हे। एखर तहत हम 45 लाख युवा मन ल स्मार्ट फोन प्रदान करत हवन अऊ एखर स्मार्ट फोन ल जीपीएस सहित अइसन एप्लीकेशन ले जोड़त हवन, जेखर से मनखे आसानी ले अपन तीर तखार प्रशिक्षित युवा मन ल खोजके उंखर से काम ले सकत हे। उमन कहिन कि छत्तीसगढ़ देश के एकमात्र अइसन राज्य हे जऊन देश के बीच म स्थित हे अऊ सड़क, रेल, एयर के संग संग अब इंटरनेट कनेक्टिविटी के माध्यम म अव्वल हे।

समिट म मुख्यमंत्री ह कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षित छत्तीसगढ़ के जशपुर के कु. ललिता एक्का अऊ सीता नाग के सफलता के कहानी सुनात ओ मन ल लोगन मन से मिलवाइन। मुख्यमंत्री ह बताइन कि हमर बेटी मन फायर अऊ सेक्यूरिटी के प्रशिक्षण लेके नई दिल्ली म जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय म काम करत हे। उमन कहिन कि ये हमर कौशल विकास योजना के सफलता के विलक्षण उदाहरण हे कि आदिवासी क्षेत्र के ए लड़की मन म अतका आत्मविश्वास आ गए हे। ए अवसर म जनसंपर्क विभाग के विशेष सचिव श्री राजेश सुकुमार टोप्पो, आवासीय आयुक्त श्री संजय कुमार ओझा अऊ विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी श्री अरूण बिसेन घलोक उपस्थित रहिन ।