‘युवा पेशेवर मन ल नौकरी ले जोड़े बर छत्तीसगढ़ शासन के अभिनव पहल‘

  • ‘मुख्यमंत्री फैलोशिप कार्यक्रम म यू-ट्यूब लाईव के माध्यम ले होही बातचीत‘
  • अधिकारी मन ले युवा मन ल गोठ के मिलही मौका
  • रायपुर, 04 अगस्त 2017। राज्य के बहुत अकन प्रशासनिक अधिकारी यू-ट्यूब लाईव के माध्यम ले काल सनिवार पांच अगस्त के दिन मंझनिया 12 बजे ले मुख्यमंत्री फैलोशिप कार्यक्रम म मनखे मन ले बातचीत करहीं। ये जानकारी देवत आज इहां छत्तीसगढ़ इंफोटेक प्रमोशन सोसायटी (चिप्स) के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एलेक्स पॉल मेनन ह बताइस कि चिप्स कोति ले संचालित बहुउद्देशीय योजना ‘मुख्यमंत्री सुशासन फेलोशिप कार्यक्रम‘ के अंतर्गत पूरा राज्य बर 42 मनखे मन के चयन के प्रक्रिया जारी हे। एमां ले 2 फैलो मुख्यमंत्री सचिवालय, 01 मुख्य सचिव कार्यालय, 12 कई ठन विभाग मन अऊ 27 फैलो राज्य के सबो जिला कलेक्टर कार्यालय मन म काम करहीं। श्री मेनन ह बताइस कि यू-ट्यूब लाईव कार्यक्रम म कबीरधाम कलेक्टर श्री नीरज बंसोड़, जशपुर कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला अउ प्रधानमंत्री ग्रामीण विकास फैलोज् कार्यक्रम के सुश्री दिव्या गुप्ता घलोक हिस्सा लेंहीं। श्री मेनन ह बताइस कि राज्य के सर्वांगीण विकास बर ए फेलोज् के चयन करे जात हे। देशभर म बहुत अकन क्षेत्र मन म अइसन उच्‍च शिक्षित अउ अनुभवी पेशेवर मौजूद हे, जऊन अपन ज्ञान, विचार अउ नवीन ऊर्जा ले शासकीय परियोजना मन के सुचारू संचालन अऊ उत्कृष्टता बर प्रेरित कर सकत हे।

    (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

    ए कार्यक्रम ल छत्तीसगढ़ शासन के यू-टयूब चैनल www.youtube.com।c।CHiPSCgGov म लाईव देखे जा सकत हे। ये कार्यक्रम 05 अगस्त 2017 के दिन मंझनिया 12 बजे ले चालू होके मंझनिया 1 बजे तक चलही। ए कार्यक्रम म युवा मन ल प्रदेश म उत्कृष्ट काम करत प्रशासनिक अधिकारी मन ले सीधा गोठ करे के अवसर मिलही।
    उल्लेखनीय हे कि फैलोशिप कार्यक्रम राज्य सरकार के उच्‍च प्राथमिकता वाले परियोजना मन के सफल संचालन विशेष रूप ले स्वास्थ्य सूचकांक, गरीबी उन्मूलन अऊ साक्षरता स्तर ल बढ़ाए वाले योजना मन के संचालन म योगदान देही। ये कार्यक्रम राज्य म विद्यमान कई ठन समस्या मन के रचनात्मक अऊ अभिनव समाधान सुझाए के काम करही। ए योजना के संग सामाजिक बदलाव के अवसर मिलही। संगेच प्रशासन अउ नीति निर्माता मन बर सलाह घलोक मिलही। ए कार्यक्रम ले शासन के हर एक पहलू म नवाचार अउ प्रौद्योगिकी ल प्रोत्साहन मिलही।

    (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});