अजय चन्द्राकर

स्वास्थ्य मंत्री श्री चन्द्राकर ह श्रवण बाधित आदित्य अऊ मुदित ल दीस बधाई

रायपुर, 18 जून 2018। स्वास्थ्य अउ कुटुंब कल्याण मंत्री श्री अजय चन्द्राकर ले आज इहां मंत्रालय स्थित कार्यालय म श्रवण बाधित श्री आदित्य बोस अऊ मुदित देशमुख ह सौजन्य मुलाकात करिन। मंत्री श्री चन्द्राकर ह श्रवण बाधित ए दुनों लइका मन ल जेईई म उत्तीर्ण होए म ऊंखर उज्जवल भविष्य के कामना करत बधाई अउर शुभकामाना दीन। ए मौका म दूनो नइका के परिजन अउ पण्डित जवाहर लाल नेहरू स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय, रायपुर के ई.एन.टी. विभागाध्यक्ष डॉ. हंषा बंजारे अऊ विशेषज्ञ डॉ. सुनील रामनानी उपस्थित रहिन। स्वास्थ्य मंत्री श्री चन्द्राकर ल परिजन मन ह बताइन कि आदित्य जनम ले ही श्रवण बाधित रहिस। आदित्य सामन्य स्कूल म ही अपन पढ़ाई-लिखाई करत अपन ए विकलांगता उपर जीत हासिल करे हे। आदित्य पहिली श्रेणी म बारहवीं के संग जेईई मुख्य परीक्षा पास कर लेहे हे। अब ओ ह देश के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेज म पढ़ाई कर सकही।
हम आप मन ल बता देवन के बचपन ले श्रवण बाधित आदित्य के राज्य सरकार के महती योजना मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना के तहत साल 2008 म कॉकलियर इंप्लांट होय रहिस। कॉकलियर इंप्लांट के बाद समाज के मुख्य धारा म सामिल होए ले आदित्य बर आज इंजीनियर बनना आसान हो गए हे। अइसनहे भिलाई, दुर्ग निवासी मुदित देशमुख घलोक जनम ले ही श्रवण बाधित रहिस। मुख्य मंत्री बाल श्रवण योजना के तहत साल 2010 म डॉ. भीमराव अम्बेडकर स्मृति चिकित्सालय, रायपर म ओकर कॉकलियर इंप्लांट होय रहिस। एखर बाद लगभग ढेड़ बछर तक स्पीच थेरेपी होइस। एखर बाद मुदित सामान्‍य लइका मन के जइसे बोल अऊ सुन पात हे। मुदित ए साल बारहवी म पहिली श्रेणी म उत्तीर्ण होइस, उन्‍हें जेईई एडवांस म 22वां रैंक हासिल करत आईआईटी बर घलोक क्वालीफाई करके प्रदेश के मान बढ़ाए हे।



मुहाचाही:  मौसमी बीमारी मन के नियंत्रण बर करव कारगर उपाय : श्री अजय चन्द्राकर