डॉ. रमन सिंह

नवा लक्ष्य मन ल पाय बर नवा तरीका ले काम करे के जरूरत : श्री नरेन्द्र मोदी

प्रधानमंत्री ह करिन आयुष्मान भारत योजना के पहिली चरण के शुभारंभ
बस्तर नेट परियोजना के पहिली चरण के घलोक करिन लोकार्पण

रायपुर, 14 अपरेल 2018। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ह कहिन कि जुन्ना रद्दा म रेंगके नवा मंजिल तक नइ पहुंचे जा सकय। नवा लक्ष्य पाय बर नवा तरीका ले अऊ दुगुना मेहनत ले काम करना होही। उमन कहिन – जनता, जनप्रतिनिधि अऊ सरकारी अधिकारी-कर्मचारी सब मिलके संकल्प लेव त देश के आदिवासी बहुल बीजापुर जइसे 100 ले जादा आकांक्षी जिला महत्वाकांक्षी जिला मन के रूप म बदले के नवा मॉडल बनके उभरही। अभिलाषी बीजापुर के विकास ले अभिलाषी छत्तीसगढ़ के घलोक तेजी ले विकास होही। बीजापुर जिला म पिछड़ा अऊ कमजोर जिला के लेबल अब नइ रहिही। उमन कहिन – केन्द्र सरकार ह देश के सौ ले जादा अइसनहे जिला मन के चयन विकास के आकांक्षी जिला मन के रूप म करे गए हे, जऊन आजादी के अतीक बछर बाद घलोक पिछड़ा रहि गे रहिस। ए जिला मन के मनखे मन ल घलोक विकास म साझीदार बने के अधिकार हे।
श्री मोदी ह आज संविधान बनइया बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के जन्म जयंती के अवसर म छत्तीसगढ़ के बस्तर राजस्व संभाग के अंतर्गत ग्राम जांगला (जिला-बीजापुर) म आयुष्मान भारत योजना के पहिली चरण म पूरा देश बर हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के राष्ट्रीय कार्यक्रम के शुभारंभ करत एक विशाल जनसभा म ए आशय के विचार व्यक्त करिन। श्री मोदी ह कहिन -आयुष्मान भारत योजना के पहिली चरण म देश के करीबन डेढ़ लाख बड़े गांव मन म प्राथमिक स्वास्थ्य केन्‍द्र मन अऊ उप स्वास्थ्य केन्‍द्र मन ल हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप म विकसित करे जाही। हमर लक्ष्य बीमारी मन के इलाज ले पहिली बीमारी ल रोके के होही। ए केन्द्र मन म एखर बर जरूरी सेवाएं देहे जाही। स्वास्थ्य जांच घलोक ए केन्द्र मन म मुफ्त म करे के भरसक प्रयास करे जाही। प्रधानमंत्री ह हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर म मधुमेह, रक्तचाप अऊ कैंसर जइसे बीमारी मन के परीक्षण के सुविधा दे जाही। ए योजना के तहत हमर अवइया लक्ष्य 50 करोड़ मनखे मन ल गंभीर बीमारी मन के इलाज बर सालाना पांच लाख रूपिया तक स्वास्थ्य बीमा सुरक्षा देहे के होही। श्री मोदी ह कहिन-आयुष्मान भारत योजना गरीब, पीड़ित, वंचित, महिला मन अऊ आदिवासी मन ल ताकत देही। उमन अम्बेडकर जयंती म आज ले शुरू होत राष्ट्रव्यापी ग्राम स्वराज अभियान के घलोक उल्लेख करिन।

फैमिली डॉक्टर के रूप म काम करही हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर
श्री मोदी ह कहिन कि आयुष्मान भारत योजना म बनत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर गरीब मन बर पारिवारिक डॉक्टर (फैमिली डॉक्टर) के रूप म काम करही। श्री मोदी ह मनखे मन ले हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के सरल भाखा म नामकरण करे बर सुझाव देहे के अपील करिन। श्री मोदी ह ये घलोक बताइन कि केन्द्र सरकार ह देश के 500 ले जादा अस्पताल मन ल किडनी के मरीज मन बर डायलिसिस उपकरण मन ले सुसज्जित करे हे। करीबन ढाई लाख मरीज एकर लाभ उठावत हें। ऊंखर डायलिसिस के 25 लाख सेशन हो गे हे।

मुहाचाही:  मुख्यमंत्री ल झांझ ले बचाए बर किसान मन ह भेंट करिन गोंदली अऊ कलिंदर

बस्‍तर नेट परियोजना के शुभरंभ
उमन ए अवसर म अंचल म इंटरनेट सुविधा मन के विस्तार बर बस्तर नेट परियोजना के पहिली चरण के घलोक शुभारंभ करिन, जेमां करीबन 400 किलोमीटर के ऑप्टिकल फाइबर केबल के जरिये दूर-दराज के गांव मन तक इंटरनेट कनेक्टिविटी देहे जा सकही। श्री मोदी ह एखर अलावा उहां जांगला के कार्यक्रम म बीजापुर अऊ भैरमगढ़ बर पेयजल आपूर्ति योजना के भूमिपूजन करिन। उमन नक्सल पीड़ित क्षेत्र मन म प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनइया 1998 किलोमीटर सड़क मन अऊ पुल मन के निर्माण बर घलोक भूमिपूजन करत इन्द्रावती अऊ मिंगाचल नदिया मन म बनइया उच्‍च स्तरीय पुल मन के घलोक शिलान्यास करिन। श्री मोदी ह जांगला म विकास केन्द्र के शुभारंभ के उल्लेख करत कहिन – मनखे मन ल पंचायत, राशन दुकान, अस्पताल अऊ स्कूल जइसे सेवा ए केन्द्र म एके जगह म मिलही। मोला ये जानके खुशी होइस के छत्तीसगढ़ म अइसनहे 14 विकास केन्द्र बनइया हे, जऊन देश के आन राज्य मन बर मॉडल बनही।
श्री मोदी ह जनसभा म हरी झंडी देखा के राज्य के उत्तर बस्तर जिला के भानुप्रतापपुर ले दल्लीराजहरा तक नवा रेल सेवा के शुभारंभ करिन। उमन कहिन – बस्तर अब रेल सेवा के जरिये रायपुर ले घलोक जुड़ जाही। अवइया दू साल के भीतर ए परियोजना के तहत जगदलपुर तक रेल लाइन पहुंच जाही। ए साल के आखरी तक बस्तर म नवा स्टील प्लांट काम करना शुरू कर देही। बस्तर संभाग के मुख्यालय जगदलपुर म नवा एयरपोर्ट घलोक अवइया कुछ महीना म शुरू हो जाही। ये परियोजना मन ए क्षेत्र के विकास ल नवा ऊंचाई तक पहुंचाही। बस्तर बहुत जल्दी आर्थिक गतिविधि मन के एक बड़का केन्द्र (इकॉनामिक हब) के रूप म पहचाने जाही। नवा भारत के संग नवा बस्तर, नवा उम्मीद मन के संग, नवा आकांक्षा अऊ नवा अभिलाषा के बस्तर होही।

प्रधानमंत्री ह करिन डॉ. रमन सिंह के तारीफ
श्री मोदी ह रमन सरकार के प्रशंसा करत कहिन कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह पाछू 14 बछर ले बड़ मेहनत के संग जन कल्याण बर योजना संचालित करत हें। केन्द्र म चार साल पहिली नवा सरकार के आए के बाद ऊंखर ए उदीम मन ल अऊ जादा ताकत मिलीस हे। डॉ. रमन सिंह ह केन्द्र अऊ राज्य के विकास योजना मन ल जनता के बेहतरी बर लागू करत विकास के नवा कीर्तिमान बनाए हे। शासन अऊ प्रशासन ल उमन जनता के नजदीक पहुंचाए हें। प्रधानमंत्री ह ए सिलसिला म बस्तर अऊ सरगुजा म विश्वविद्यालय अऊ मेडिकल कॉलेज मन के स्थापना, हर जिला म नवा स्कूल अऊ नवा कॉलेज मन के शुरूआत होए के घलोक जिक्र करिन। प्रधानमंत्री ह कहिन – बस्तर अऊ सरगुजा के युवा घलोक अब डॉक्टर अऊ इंजीनियर बनत हें, लोकसेवा आयोग अऊ संघ लोकसेवा आयोग के परीक्षा मन म सफल होके सरकारी सेवा मन म तको आवत हें।
श्री मोदी ह कहिन – छत्तीसगढ़ ह चिकित्सा शिक्षा अऊ स्वास्थ्य सेवा मन के क्षेत्र म घलोक क्रांतिकारी कदम उठाए हे। राज्य म मेडिकल कॉलेज मन के संख्या दू ले बढ़के 10 हो गए हे। बीजापुर जइसे जिला म घलोक स्वास्थ्य सेवा मन के विकास होय हे। मोला आज इहां कई डॉक्टर मिलिन जऊन तमिलनाडु अऊ उत्तर प्रदेश ले आके अपन सेवा देवत हें। केन्द्र सरकार के सौभाग्य योजना के तहत छत्तीसगढ़ म डॉ. रमन सिंह के सरकार हर घर ल बिजली पहुंचाए के काम करत हें। हजारों के संख्या म किसान मन ल सोलर सिंचाई पम्प देहे जात हे। राज्य के बस्तर अंचल म 400 किलोमीटर ले जादा नवा सड़क मन के निर्माण होय हे, जिहां जीप तक नइ पहुंच पात रहिस, उहां अब यात्री बस मन पहुंचे लगे हे।

मुहाचाही:  मुख्यमंत्री सामिल होइन नगरा गांव के समाधान शिविर म

देश के तस्वीर बदलेगी आयुष्मान भारत योजना: श्री जगतप्रकाश नड्डा
समारोह के अध्यक्षता करत केन्द्रीय स्वास्थ्य अउ परिवार कल्याण मंत्री श्री जगतप्रकाश नड्डा ह आयुष्मान भारत योजना ल स्वास्थ्य सेवा मन के दृष्टि ले देश के तस्वीर बदलइया योजना बताइस। श्री नड्डा ह मनखे मन ल सम्बोधित करत कहिन – ए योजना के श्रीगणेश प्रधानमंत्री के हाथ बीजापुर ले होवत हे। श्री मोदी जी ह जनकल्याण बर ए प्रकार के बहुत अकन योजना मन ल नवा अंजाम देहे हें अऊ नवा दृष्टि देहे हें। स्वच्छ भारत के संगें-संग स्वस्थ भारत के निर्माण उंखर लक्ष्य हे। केन्द्र सरकार के ये कोसिस हे कि कोनो मनखे रोगी झन होवय अऊ सबके काया निरोगी होवय अऊ गरीब ले गरीब मनखे घलोक इलाज ले वंचित झन होवय। श्री नड्डा ह बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के जयंती म प्रधानमंत्री के हाथ आयुष्मान भारत योजना के पहिली चरण के शुभारंभ ल बहुत महत्वपूर्ण बताइस। श्री नड्डा ह कहिन कि ए योजना ल सफल बनाए बर स्वास्थ्य मंत्रालय सबो संबंधित विभाग मन के संग मिलके पूरा ताकत के संग काम करही।

आयुष्मान भारत पूरा देश म स्वास्थ्य के क्षेत्र म क्रांति लवइया योजना: डॉ. रमन सिंह
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह जांगला के जनसभा म छत्तीसगढ़ के जनता कोति ले प्रधानमंत्री के स्वागत करत कहिन -बाबा साहब आम्बेडकर के जयंती के दिन प्रधानमंत्री ह अपन कार्यक्रम बर बीजापुर जिला के चयन करिन अऊ उमन इहां स्वास्थ्य के क्षेत्र म पूरा देश म क्रांति लवइया आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के शुरूआत करिन। मुख्यमंत्री ह कहिन – अम्बेडकर जयंती म प्रधानमंत्री श्री मोदी के आगमन ले बीजापुर जिला के संगें-संग छत्तीसगढ़ के अनुसूचित जाति अऊ जनजाति वर्ग के मनखे मन म आत्म विश्वास बाढ़े हे। आकांक्षी जिला के रूप म प्रधानमंत्री ह बीजापुर जिला के घलोक चयन करिन हें। उंखर उज्ज्वला योजना के तहत छत्तीसगढ़ म 35 लाख ले जादा गरीब परिवार ल रसोई गैस कनेक्शन देहे के काम तेजी ले चलत हे। अब तो प्रधानमंत्री ह अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के शत-प्रतिशत परिवार मन ल ए योजना ले जोरे के निर्णय लेहे हें। सौभाग्य योजना के तहत बीजापुर ले बलरामपुर तक अवइया पांच महीना म छत्तीसगढ़ के पांच लाख 40 हजार घर मन ल बिजली के कनेक्शन दे देहे जाही। मुख्यमंत्री ह कहिन – राज्य सरकार ह तेन्दूपत्ता संग्राहक मन के पारिश्रमिक 1800 रूपिया प्रति मानक बोरा ले बढ़ाके ढाई हजार रूपिया कर देहे हे, जऊन देश म सबले जादा हे। मुख्यमंत्री ह जिला खनिज न्यास निधि के स्थापना बर प्रधानमंत्री ल धन्यवाद दीन अऊ कहिन कि ए निधि ले छत्तीसगढ़ म करीबन चार हजार करोड़ रूपिया के विकास काम होवत हे। प्रधानमंत्री ह नीति आयोग के गठन करत ए आयोग के जरिये केन्द्रीय राजस्व ले राज्य मन के हिस्सेदारी 32 प्रतिशत ले बढ़ाके 42 प्रतिशत कर देहे हें, जेखर लाभ छत्तीसगढ़ ल घलोक मिलत हे। समारोह म छत्तीसगढ़ सरकार के स्कूल शिक्षा अऊ आदिम जाति विकास मंत्री श्री केदार कश्यप, राजस्व अऊ उच्‍च शिक्षा मंत्री श्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय, लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, वन मंत्री श्री महेश गागड़ा, स्वास्थ्य अऊ ग्रामीण विकास मंत्री श्री अजय चन्द्राकर, राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष श्री नंदकुमार साय बस्तर के लोकसभा सांसद श्री दिनेश कश्यप, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक अउर आन बहुत अकन वरिष्ठ जनप्रतिनिधि घलोक उपस्थित रहिन। प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव श्री अजय सिंह अऊ आन संबंधित वरिष्ठ अधिकारी घलोक समारोह म मौजूद रहिन।

मुहाचाही:  मुख्यमंत्री ले महामंडलेश्वर स्‍वामी यतीन्द्रानंद गिरि करिस मुलाकात