डॉ. रमन सिंह राजनांदगांव

छत्तीसगढ़ म शांति-सदभाव के वातावरण संत कबीर के विचार के देन : डॉ. रमन सिंह

राजनांदगांव, 28 जून 2018। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन के छत्तीसगढ़ म शांति, प्रगति अऊ सामाजिक सदभावना के जऊन वातावरण हे, वो संत कबीर के विचार के देन हे। ऊंखर विचार म अइसन जादू रहिस, जेखर से देश अऊ दुनिया के करोड़ों मनखे प्रभावित होइन अऊ आज घलोक करोड़ों मनखे ऊंखर जीवन दर्शन ल अपना के ऊंखर बताए मार्ग म चलत हें।
डॉ. सिंह आज कबीर जयंती के अवसर म राजनांदगांव जिला के ग्राम कोटराभांठा म आयोजित समारोह ल मुख्य अतिथि के आसंदी ले सम्बोधित करत रहिन। उमन आयोजक मन के तरफ ले मंच म कबीर पंथ के बहुत अकन संत अऊ विद्वान मन ल सम्मानित करिन। डॉ. सिंह ह कबीर जयंती समारोह ल सम्बोधित करत कहिन के करीबन 600 साल पहिली संत कबीर ह ओ समें के समाज म व्याप्त कुरीति, पाखण्ड अऊ विसंगति मन के खिलाफ आम जनता के सहज, सरल भाखा म अवाज उठाए रहिन। मुख्यमंत्री ह कहिन के छत्तीसगढ़ के जनजीवन म संत कबीर के जीवन दर्शन के गहरा प्रभाव रहे हे अऊ आज घलोक हे। ऊंखर विचार ल अपना के ही छत्तीसगढ़ आज पूरा देश म शांति अऊ सदभावना के चिनहा बने हे। मुख्यमंत्री ह कहिन के ये मोर सौभाग्य हे कि मोर जनम छत्तीसगढ़ के ओ जिला म होए हे, जेखर नाम म संत कबीर के नाम कबीरधाम हे। डॉ. सिंह ह कहिन के राजनांदगांव जिला के नादियामठ कबीर पंथ के लाखों मनखे मन के आस्था के प्रमुख केन्द्र हे, जऊन संत कबीर के विचार ल जन-जन तक पहुंचाए म महत्वपूर्ण योगदान देवत हें। डॉ. सिंह ह कबीर जयंती समारोह के आयोजन बर मंगल साहब अऊ प्रकाश दास साहब संग आयोजन ले जुड़े सबो मनखे मन के प्रशंसा करिन।



मुहाचाही:  विकास यात्रा 2018 : मुख्यमंत्री ह करिस 457 करोड़ के निर्माण कार्य मन के लोकार्पण-भूमिपूजन