डॉ. रमन सिंह नरेन्द्र मोदी

सबो के हिंसा के एके जवाब विकास, विकास अऊ सिरिफ विकास : श्री नरेन्द्र मोदी

  • प्रधानमंत्री ह छत्तीसगढ़ ल दीन 22 हजार करोड़ के कई ठन परियोजना मन के सौगात
  • करीबन 18500 करोड़ के लागत ले आधुनिकीकरण के परा होए परियोजना के लोकार्पण
  • भिलाई आई.आई.टी. बर करीबन ग्यारह सौ करोड़ के परिसर के शिलान्यास
  • भारत नेट परियोजना के दूसर चरण के शुभारंभ
  • रायपुर-जगदलपुर घरेलू विमानसेवा के घलोक शुरूआत

रायपुर, 14 जून 2018। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ह कहिन – सरकार के हर योजना गरीब मन अऊ वंचित मन के सशक्तिकरण बर हे। आज देश म कोनो हिंसा या कोनो साजिश के एके जवाब हे अऊ वो हे – विकास, विकास अऊ सिरिफ विकास। उमन कहिन -विकास जमो हिंसा ल खतम कर देथे। आज देश म अऊ छत्तीसगढ़ म हमन विकास के माध्यम ले विश्वास के वातावरण बनाए के प्रयास करे गए हे।
श्री मोदी आज छत्तीसगढ़ के भिलाई नगर के जयंती स्टेडियम म विशाल जनसभा ल सम्बोधित करत रहिन। ए अवसर म मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, केन्द्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेन्द्र सिंह, केन्द्रीय संचार राज्य मंत्री श्री मनोज सिन्हा, केन्द्रीय घर अउ शहरी मामला के राज्य मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी, केन्द्रीय इस्पात राज्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय, छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष श्री गौरीशंकर अग्रवाल अऊ प्रदेश सरकार के मंत्रीगण, सांसद अऊ विधायकगण घलोक मौजूद रहिन। आमसभा ल मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह अऊ केन्द्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेन्द्र सिंह ह घलोक सम्बोधित करे गीस। स्वागत भाषण प्रदेश सरकार के उच्‍च शिक्षा अऊ तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ह दीन।
प्रधानमंत्री ह ए अवसर म राज्य के विकास बर करीबन 22 हजार करोड़ के कई ठन परियोजना मन के डिजिटल लोकार्पण, भूमिपूजन अऊ शिलान्यास करिन, जेमा भिलाई इस्पात संयंत्र के आधुनिकीकरण अऊ विस्तारी करण के 18 हजार 500 करोड़ रूपिया के पूरा हो गए परियोजना घलोक सामिल हे, जेखर लोकार्पण प्रधानमंत्री के हाथ पूरा होइस। प्रधानमंत्री ह आमसभा म छत्तीसगढ़ के बांचे चार हजार 104 ग्राम पंचायत मन ल इंटरनेट कनेक्टिविटी देहे बर भारत नेट परियोजना के दूसर चरण (लागत 2066 करोड़) के शुभारंभ, केन्द्र सरकार के उड़ान योजना के तहत रायपुर-जगदलपुर-विशाखापट्नम घरेलू विमान सेवा के शुभारंभ अऊ 40 करोड़ रूपिया के लागत ले बने जगदलपुर विमानतल के लोकार्पण घलोक करिन। श्री मोदी ह एखर पहिली नवा रायपुर म स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत नागरिक सेवा मन के ऑन लाइन निगरानी बर एकीकृत कमांड अउ नियंत्रण केन्द्र के घलोक लोकार्पण करिन। श्री मोदी ह भिलाई नगर के आमसभा म एकर उल्लेख करत कहिन – देश के पहिली ग्रीन फील्ड शहर नवा रायपुर म पूरा शहर के सार्वजनिक सेवा मन के निगरानी के काम ए केन्द्र म एक छोटकुन भवन म आधुनिक टेक्नॉलाजी के जरिये करे जा सकही। ये देश के आन स्मार्ट शहर मन बर घलोक एक मिसाल बनही।

ग्राम स्वराज अभियान जनभागीदारी के बड़का माध्यम
उमन कहिन – दू महीना पहिली जब मैं छत्तीसगढ़ आए रहेंव, त इहां के धरती (ग्राम जांगला, जिला-बीजापुर) ले देश के 115 आकांक्षी जिला मन के विकास बर ग्राम स्वराज के सकारात्मक अभियान शुरू करे रहेंव। वो 14 अपरेल के तारीक रहिस अऊ आज जून महिना के 14 तारीक हे। हर गांव म हर कुटुंब के बैंक खाता होवय, बिजली अऊ रसोई गैस कनेक्शन होवय, बीमा सुरक्षा होवय अऊ घर म एलईडी बल्ब होवय, ये सब ए अभियान के जरिये गरीब मन के जीवन स्तर ल बेहतर बनाए बर हे। छत्तीसगढ़ म घलोक ग्राम स्वराज के ये अभियान जनभागीदारी के बड़का माध्यम बने हे। राज्य म जन-धन योजना के तहत एक करोड़ 30 लाख मनखे मन के खाता खुले हे। 26 लाख मनखे मन ल मुद्रा योजना के तहत कारोबार बर बिना बैंक गारंटी के करजा मिले हे अऊ 13 लाख किसान मन ल फसल बीमा योजना के लाभ मिले हे। विकास के एक नवा गाथा छत्तीसगढ़ म लिखे जात हे।

मुहाचाही:  मुख्यमंत्री ह अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक दिवस म खेल संघ मन ल दीन शुभकामना

कच्छ ले कटक अऊ कारगिल ले कन्या कुमारी तक रेल पटरी मन म छत्तीसगढ़ के लोहा
श्री मोदी ह भिलाई इस्पात संयंत्र के आधुनिकीकरण परियोजना के प्रशंसा करत कहिन -18 हजार 500 करोड़ के लागत ले एखर तहत करे काम मन के वजह ले भिलाई इस्पात संयंत्र नवा तकनीक अऊ नवा क्षमता मन ले सुसज्जित हो गए हे। श्री मोदी ह कहिन – कच्छ ले कटक तक अऊ कारगिल ले कन्या कुमारी तक देश म जऊन रेल के पटरी बिछे हे, वो देश ल छत्तीसगढ़ के इही धरती के लोहा ले अऊ इहां के मनखे मन के पसीना के प्रसाद के रूप म मिले हे। उमन कहिन भिलाई इस्पात संयंत्र ह न सिरिफ स्टील बनाये हे, भलुक मनखे मन के जिंदगी ल सजाए अऊ संवारे हे। भिलाई के ये आधुनिक संयंत्र नवा भारत के सपना ल साकार करही। प्रधानमंत्री ह कहिन भिलाई इस्पात संयंत्र के जइसे छत्तीसगढ़ के बस्तर अंचल म बनत नगरनार के इस्पात संयंत्र घलोक ओ अंचल के मनखे मन के जिन्दगी म बदलाव लाही।
श्री मोदी ह ए अवसर म कहिन के भिलाई इस्पात संयंत्र के आधुनिकीकरण अऊ विस्तारीकरण के 18 हजार 500 करोड़ के परियोजना संग छत्तीसगढ़ के चार हजार ले जादा ग्राम पंचायत मन ल इंटरनेट ले जोड़े बर छत्तीसगढ़ के विकास ल गति देहे म इहां के लौह अयस्क जइसे खनिज मन के भरपूर योगदान हे। इही सेती हमन पूरा देश के खनिज बहुल राज्य मन बर जिला खनिज निधि (डी.एम.एफ.) के प्रावधान करे हवन। खनिज उत्पादन के निश्चित हिस्सा डीएमएफ के माध्यम ले उहां के मनखे मन के विकास म खर्च करना एकर उद्देश्य हे। छत्तीसगढ़ ल करीबन तीन हजार करोड़ रूपिया के राशि मिल गए हे।

राज्य के भविष्य ल मजबूत बनाए के सोनहा पाठ
उड़ान योजना के तहत रायपुर-जगदलपुर -विशाखापट्नम विमान सेवा के शुरूआत होए म श्री मोदी ह कहिन – सरकार देश के मनखे मन ल जल, थल अऊ नभ तीनों ले जोड़े के काम करत हे। श्री मोदी ह आज शुरू करे गए परियोजना मन के उल्लेख करत कहिन – छत्तीसगढ़ के इतिहास म आज ए राज्य के भविष्य ल मजबूत बनाइया एक नवा अऊ सुनहरा अध्याय जोड़े जात हे। श्री मोदी ह जगदलपुर हवाई अड्डा के लोकार्पण अऊ रायपुर-जगदलपुर-विशाखापट्नम विमान सेवा के शुभारंभ के उल्लेख करत कहिन – देश के अइसन इलाका जिहां कभू सरकार सड़क निर्माण म पीछू रहि जात रहिस, आज उहां हवाई अड्डा बनत हे। अइसनहे एक शानदार हवाई अड्डा जगदलपुर म घलोक बनाए गए हे। हमर सरकार के ये सोच हे कि हवाई चप्पल पहनइया घलोक हवाई जहाज म यात्रा करंय। एखर सेती ले देशभर म उड़ान योजना के तहत सस्ता घरेलू विमानसेवा शुरू करे जात हे। श्री मोदी ह कहिन रायपुर ले जगदलपुर के जऊन दूरी अब तक सड़क मार्ग ले 6-7 घंटे के होत रहिस, वो सिरिफ 40 मिनट म पूरा होही। यातायात के ए नवा माध्यम ले न सिरिफ सफर के दूरी कम होही, भलुक पर्यटन अऊ रोजगार के नवा अवसर घलोक बाढ़ही। श्री मोदी ह कहिन – हवाई यात्रा सस्ता होए के सेती अब ट्रेन के वातानुकुलित डिब्बा मन के जगा हवाई जहाज मन म यात्री मन के संख्या बाढ़े लगे हे। उमन कहिन – छत्तीसगढ़ के राजधानी रायपुर के हवाई अड्डा म कोनो जमाना म दिनभर म छै उड़ान होवत रहिस, आज उहां उड़ान के संख्या 50 हो गए हे।

मुहाचाही:  राज्यपाल श्री टंडन ले मुख्यमंत्री ह करिन सौजन्य भेंट

आई.आई.टी. ले भिलाई बनही तकनीकी शिक्षा के नवा तीरथ
प्रधानमंत्री ह भिलाई नगर म भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आई.आई.टी.) के शिलान्यास म कहिन कि मेक-इन-इंडिया बर कौशल विकास बहुत जरूरी हे। भिलाई नगर ल पाछू कई दशक ले देश म एजुकेशन हब के रूप म पहचाने जात रहे हे, फेर एतका व्यवस्था मन के बाद घलोक इहां आई.आई.टी. के कमी महसूस होवत रहिस। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह लगातार कोसिस करत रहिस के भिलाई ल आई.आई.टी. मिल जाय। देश म जब हमर सरकार ह पांच नवा आई.आई.टी. मंजूर करिस त वोमा भिलाई घलोक सामिल करे गीस। ए नवा आई.आई.टी. बर करीबन ग्यारह सौ करोड़ रूपिया के लागत ले जऊन नवा कैम्पस विकसित करे जाही, वो तकनीकी शिक्षा के तीरथ बनही।

अवइया साल मार्च तक पूरा करबोन भारत नेट परियोजना के दूसर चरण
श्री मोदी ह भारत नेट परियोजना के दूसर चरण के शुभारंभ म कहिन कि केन्द्र सरकार डिजिटल इंडिया अभियान के तहत सूचना तकनीक ल जादा ले जादा मनखे मन तक पहुंचाना चाहथे। एखर बर छत्तीसगढ़ सरकार घलोक प्रयासरत हे। मैं जब दू महिना पहिली 14 अपरेल के दिन छत्तीसगढ़ आए रहेंव, त मोला बस्तर नेट परियोजना के पहिली चरण के लोकार्पण के अवसर मिलीस। आज भारत नेट परियोजना के दूसर चरण के लोकार्पण के अवसर मिले हे। उमन कहिन – ये परियोजना अगल साल मार्च तक पूरा कर ले जाही अऊ छत्तीसगढ़ के बांचे चार हजार 104 ग्राम पंचायत एखर ले जुड़ जाही। अब तक ए परियोजना म भारत संचार निगम लिमिटेड कोति ले राज्य के छै हजार ग्राम पंचायत मन ल जोड़े जा चुके हे।

देश भर म 22 हजार हाट विकसित करे जाही
प्रधानमंत्री ह केन्द्र सरकार के वनधन योजना के उल्लेख करत जनता ल बताइन – दू महीना पहिली 14 अपरेल के दिन अम्बेडकर जयंती के दिन मै ह छत्तीसगढ़ के धरती ले ही वनधन योजना के शुरूआत करे रहेंव। जंगल के उत्पाद मन के सही दाम हमार वनवासी भाई-बहिनी मन ल मिलय, ये ए योजना के उद्देश्य हे। देशभर म 22 हजार ग्रामीण हाट विकसित करे जाही। शुरूआती दौर म पांच हजार हाट विकसित करे के दिशा म काम शुरू हो गए हे। श्री मोदी ह बताइस कि गांव के पांच-छह किलोमीटर के दायरा म ही हमार वनवासी ग्रामीण भाई-बहिनी ल मंडी जइसे सुविधा देहे के प्रयास सरकार करत हे। अब किसान अपन खेत म उगाएं बांस ल घलोक आसानी ले बेच सकत हें। श्री मोदी ह आमसभा म केन्द्र अऊ राज्य सभा के कई ठन योजना मन के तहत कई हितग्राही मन ल सामान अऊ चेक आदि के वितरण करिन। उमन आमसभा म कहिन – हमर योजना मन गरीब अऊ वंचित मन के सशक्तिकरण बर हे।

मुहाचाही:  स्वच्छता बर मनखे मन के मानसिकता म बदलाव लाना बड़का काम : डॉ. रमन सिंह

श्रमवीर मन के नगरी म कर्मवीर प्रधानमंत्री के स्वागत: डॉ. रमन सिंह
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह आमसभा म प्रधानमंत्री श्री मोदी के स्वागत करत कहिन – प्रदेशवासी मन ह आज श्रमवीर मन के नगरी भिलाई म कर्मवीर प्रधानमंत्री के आत्मीय अऊ अभूतपूर्व स्वागत अऊ अभिनंदन करे हे। फौलाद बनइया भिलाई इस्पात संयंत्र म फौलादी इरादा वाले प्रधानमंत्री के स्वागत होए हे। डॉ. रमन सिंह ह कहिन – जऊन प्रकार से भिलाई इस्पात संयंत्र के धमन भट्ठी छै दशक म कभू बंद नइ होइस, वइसनहे पाछू चार साल म हमार प्रधानमंत्री ह कभू नइ थिरावइस। मुख्यमंत्री ह भिलाई नगर म आई.आई.टी. के शिलान्यास बर श्री मोदी के आभार व्यक्त करत कहिन के मैं साल 2003 ले 2013 तक भिलाई म आई.आई.टी. स्थापना बर लगातार प्रयास करेंव। श्री मोदी ह प्रधानमंत्री बने के बाद सिरिफ पांच मिनट म एखर मंजूरी दे दीन। मुख्यमंत्री ह कहिन – प्रधानमंत्री श्री मोदी ह छत्तीसगढ़ ल बहुत अकन सौगात देहे हें। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत राज्य म छै लाख 40 हजार गरीब परिवार मन ल पक्का मकान देवाए के लक्ष्य हे। प्रधानमंत्री ह साल 2022 तक किसान मन के आमदनी दुगुना करे के लक्ष्य लेके कई योजना देहे हें। श्री मोदी ह ‘आयुष्मान भारत’ योजना के शुरूआत करे हें, जऊन देश के गरीब मन ल गंभीर बीमारी मन म पांच लाख रूपिया तक इलाज के सहायता देवइया दुनिया के सबले बड़े स्वास्थ्य बीमा योजना हे।

प्रधानमंत्री के हाथ भिलाई संयंत्र के विस्तारित स्वरूप राष्ट्र ल समर्पित
मुख्यमंत्री ह कहिन – श्री मोदी ह छत्तीसगढ़ ल राष्ट्रीय राजमार्ग मन बर 350 करोड़ रूपिया के सहायता देहे हें। उज्ज्वला योजना के तहत छत्तीसगढ़ के 36 लाख गरीब परिवार मन ल रसोई गैस कनेक्शन दीए जात हे। श्री मोदी गरीब अऊ किसान मन के मसीहा के रूप म उभरे हें। मुख्यमंत्री ह कहिन -आज प्रधानमंत्री के हाथ भिलाई इस्पात संयंत्र के विस्तारित स्वरूप राष्ट्र ल समर्पित होय हे, जगदलपुर बर 40 करोड़ रूपिया के लागत ले निर्मित हवाई अड्डा के लोकार्पण होय हे अऊ उड़ान योजना के तहत राज्य के पहली घरेलू विमान सेवा के शुरूआत हो गए हे। मुख्यमंत्री ह कहिन – भिलाई नगर उच्‍च शिक्षा अऊ तकनीकी शिक्षा के केन्द्र हे। राज्य सरकार ह इहां तकनीकी विश्वविद्यालय अऊ पशु चिकित्सा बर कामधेनु विश्वविद्यालय के घलोक स्थापना करे हे।

श्री मोदी देश के आशा के चिनहा: केन्द्रीय इस्पात मंत्री ह कहिन
केन्द्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेन्द्र सिंह ह आमसभा म अपन मंत्रालय अऊ भिलाई इस्पात संयंत्र के अधिकारी मन, कर्मचारी मन अऊ श्रमिक मन के तरफ ले प्रधानमंत्री श्री मोदी के आत्मीय स्वागत करिन। श्री वीरेन्द्र सिंह ह श्री मोदी ल देश के आशा के चिनहा बताइस। उमन कहिन – श्री मोदी के नेतृत्व म केन्द्र सरकार ह पाछू चार साल म देश के इस्पात उद्योग ल कई समस्या मन ले मुक्ति देवाए हें। आज देश के इस्पात उद्योग एक नवा शक्ति के रूप म उभरे हे। भारत ह 134 प्रतिशत इस्पात के निर्यात कर कीर्तिमान बनाय हे।
छत्तीसगढ़ के उच्‍च शिक्षा अऊ तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ह अपन भाषण म छोटे भारत के धरती भिलाई म प्रधानमंत्री के स्वागत करत आई.आई.टी. के स्थापना बर ऊंखर प्रति आभार प्रकट करिन।