Lok Suraj डॉ. रमन सिंह

छत्तीसगढ़ के ’लोक सुराज’ देश के सबले बड़े सोशल ऑडिट अभियान: डॉ. रमन सिंह

मुख्यमंत्री ह कहिन: प्रदेश सरकार के बहुत अकन योजना मन ग्राम सुराज-लोक सुराज के देन

रायपुर, 10 मार्च 2018। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन हे कि उंखर सरकार के प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान देश के सबले बड़े सोशल ऑडिट (सामाजिक अंकेक्षण) अभियान हे। सुशासन के सपना ल साकार करे बर आम जनता ले सीधा गोठ बात करना ए अभियान के मुख्य उद्देश्य हे। डॉ. सिंह काल 11 मार्च ले ए अभियान के तीसर चरण म प्रदेश के सबो 27 जिला मन के दौरा म रवाना होवत हें। अभियान के तीसर चरण 31 मार्च तक चलही।
मुख्यमंत्री जिला मन के प्रवास के बेरा 13 जिला मुख्यालय मन म रात रूकहीं अऊ ओ समें जिला के संगें-संग तीर-तखार के जिला मन के जनप्रतिनिधि मन अऊ अधिकारी मन के बैठक लेके योजना मन के समीक्षा करहीं। डॉ. सिंह अपन प्रवास के बेरा म गांव मन अऊ शहर मन के औचक दौरा घलोक करहीं। उमन आज संझा रायपुर म बताइन कि लोक सुराज अभियान के माध्यम ले छत्तीसगढ़ सरकार गांव मन अऊ शहर मन म आम जनता तक पहुंचथे। तीन चरण म चलइया ए अभियान म जहां गांव वाले मन अऊ आम नागरिक मन ले आवेदन आमंत्रित कर उंखर उचित निराकरण करे जाथे, उन्‍हें मुख्यमंत्री संग सबो मंत्रीगण अऊ मुख्य सचिव संग सबो अधिकारीगण कई ठन जिला मन के सघन दौरा करथें अऊ आम जनता के बीच चौपाल मन म अउ बैठक मन म सरकारी योजना मन अऊ विकास काम मन के जमीनी समीक्षा करे जाथे।




मुख्यमंत्री ह बताइन कि ए साल के लोक सुराज अभियान बर पहिली चरण म 12 जनवरी ले 14 जनवरी तक ग्राम पंचायत अऊ शहर मन म आवेदन प्राप्त करे बर ग्रामीण क्षेत्र मन म शिविर लगाए गए रहिस, जेमा राज्य सरकार ल 30लाख 10 हजार 612 आवेदन पत्र मिले रहिस। एमां ले 28 लाख 05 हजार 890 आवेदन ग्रामीण क्षेत्र ले अऊ एक लाख 85 हजार 778 आवेदन शहरी क्षेत्र ले मिले रहिस। ऑनलाइन मिले आवेदन मन के संख्या 19 हजार 024 हे। मुख्यमंत्री ह बताइन कि एखर बाद दूसर चरण म 15 जनवरी ले 11 मार्च तक संबंधित विभाग मन कोति ले ए आवेदन मन के निराकरण के कार्रवाई करे जात हे। करीब-करीब 50 प्रतिशत आवेदन मन के निराकरण करे जा चुके हे। तीसर चरण म सबो जिला मन म अलग-अलग ग्राम समूह मन के बीच समाधान शिविर घलोक लगाए जाही, जिहां मनखे मन ल पहिली चरण म मिले ऊंखर आवेदन मन के बारे म बताए जाही। तीसर चरण म कुल एक हजार 811 समाधान शिविर मन के आयोजन करे जात हे। एमां ले एक हजार 182 शिविर ग्रामीण क्षेत्र म ग्राम समूह मन के बीच अऊ 629 शिविर शहरी क्षेत्र म वार्ड समूह मन के बीच लगाए जाही।




मुख्यमंत्री ह कहिन कि उंखर सरकार ह सबसे पहिली साल 2005 म ग्राम सुराज अभियान के रूप म ए अभियान ल शुरू करे रहिस। एखर सफलता अऊ जनता के बीच अभियान के बाढ़त मांग ल ध्यान म रखके सरकार ह साल 2012 म नगर सुराज अभियान शुरू करिस अऊ ग्राम अउ नगर दुनों ल जोड़के साल 2015 ले लोक सुराज अभियान के रूप म एकर आयोजन करे जात हे। ए साल ये वाले चौउंथा लोक सुराज अभियान ये। उमन कहिन कि मनखे मन के बीच बइठके उंखर समस्या मन के अऊ जरूरत मन के पता लगाके राज्य सरकार ह कई नवां योजना मन के शुरूआत करे हे, जिंकर आज पूरा सफलता के संग क्रियान्वयन होवत हे। उमन बताइन कि लाखों गरीब मन बर मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना, लइका मन बर मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना, चिरायु स्वास्थ्य परीक्षण योजना अऊ मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना, तेन्दूपत्ता श्रमिक मन बर मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना, मनरेगा के श्रमिक मन बर टिफिन बॉक्स वितरण योजना जइसे कई योजना ग्राम सुराज अऊ लोक सुराज अभियान के देन ये। उमन कहिन कि प्रदेश के गरीब मन ल भोजन के अधिकार देवाए बर देश के पहली खाद्य सुरक्षा अऊ पोषण सुरक्षा कानून बनाए के विचार घलोक ग्राम सुराज अभियान के बेरा आइस। छत्तीसगढ़ सरकार ल सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) म व्यापक सुधार करे म ऐतिहासिक सफलता मिलीस।



मुहाचाही:  मुख्यमंत्री ह वयोवृद्ध पत्रकार-साहित्यकार श्री श्यामलाल चतुर्वेदी के पांव छूके लीन असीस