बृजमोहन अग्रवाल

पत्रकारिता के क्षेत्र म आज चुनौती जादा : सामना करे बर संघर्ष के जरूरत- श्री बृजमोहन अग्रवाल

प्रेस क्लब रायपुर म ‘छत्तीसगढ़ म हिन्दी पत्रकारिता के विकास अउ चुनौती‘ विसय म कार्यशाला पूरा

रायपुर, 30 अप्रैल 2018। कृषि मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ह कहिन के पत्रकारिता के क्षेत्र म आज पहिली के अपेक्षा जादा चुनौती हे। पत्रकारिता के मूल्य मन ल सहेजके काम करे ले ए चुनौती मन के सामना करे जा सकत हे। मूल्य मन के ह्रास होए के सेती आज पत्रकारिता म तकलीफ बाढ़ गए हे। श्री अग्रवाल प्रेस क्लब रायपुर म आज पत्रकारिता दिवस के मौका म ‘छत्तीसगढ़ म हिन्दी पत्रकारिता के विकास अउ चुनौती‘ विसय म आयोजित कार्यशाला ल मुख्य अतिथि के आसंदी ले सम्बोधित करत रहिन। श्री अग्रवाल ह ए अवसर म प्रेस क्लब कोति ले प्रकाशित दूरभाष निर्देशिका के विमोचन करिन।
श्री अग्रवाल ह कहिन कि समय, काल अऊ परिस्थिति मन के आधार म काम करे ले हर क्षेत्र म कामयाबी मिलथे। समय के मुताबिक हर मनखे ल ढलना चाही। उमन कहिन कि छत्तीसगढ़ के पत्रकारिता के स्वर्णिम इतिहास रहे हे। जुन्ना समय म छत्तीसगढ़ के पत्रकार मन ह निष्पक्ष पत्रकारिता करके राष्ट्रीय स्तर म अपन पहचान बनाए हें। साहित्य के विकास म घलोक छत्तीसगढ़ के साहित्य मनीषी मन के विशेष योगदान रहे हे। छत्तीसगढ़ म बहुत अकन अइसे पत्रकार होए हें, जेमन कभू कोनो चीज ले समझौता नइ करे हें, ए खातिर हम ओ मन ल आज घलोक श्रद्धा के संग सुरता करथन। श्री अग्रवाल ह कहिन कि अभी हाल पीढ़ी के पत्रकार मन ल छत्तीसगढ़ के जुन्ना पत्रकार मन ले सीखे के जरूरत हे। अभी हाल दौर के पत्रकार मन ल समाचार अऊ विचार म अंतर करना सीखना परही। समाचार घटना आधारित अऊ तथ्यात्मक होना चाही। समाचार मन म विचार मन के घालमेल होए ले समाचार के महत्व कम हो जाथे। विचार मन बर समाचार पत्र म अलग-अलग जघा होथे।




श्री अग्रवाल ह कहिन कि पत्रकारिता के चुनौती मन के सामना करे बर संघर्ष करे के जरूरत हे। संघर्ष म काम करे के एक अलगे मजा हे। संघर्ष ले आत्म विश्वास बाढ़थे अऊ सफलता सुनिश्चित होथे। उलटा परिस्थिति मन म सफल होए बर संघर्षशील होना चाही। अभी हाल दौर के पत्रकार मन ल अपन कमजोरी मन ल दूर करके आत्म विश्वास बढ़ाना जरूरी हे। एखर से ओ मन ल काम करे म सहूलियत होही। श्री अग्रवाल ह पत्रकारिता दिवस के मौका म आगामी एक महिना तक कई ठन कार्यक्रम आयोजित करे बर प्रेस क्लब रायपुर के पदाधिकारी मन के सराहना करिन। उमन कहिन कि बहुत अच्छा विसय म कार्यशाला के आयोजन ले पत्रकारिता दिवस के कार्यक्रम मन के अच्छा शुरूआत होए हे।
रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव, छत्तीसगढ़ औद्योगिक विकास निगम के अध्यक्ष श्री छगन मूंदड़ा, छत्तीसगढ़ हिन्दी ग्रंथ अकादमी के पहिली संचालक अउ वरिष्ठ पत्रकार श्री रमेश नैयर संग आन वरिष्ठ पत्रकार मन ह घलोक कार्यशाला म अपन विचार रखिन। प्रेस क्लब रायपुर के अध्यक्ष श्री के.के. शर्मा ह कार्यक्रम के संचालन करिन। ए अवसर म प्रेस क्लब रायपुर के पदाधिकारी अऊ सदस्य उपस्थित रहिन।


मुहाचाही:  रायपुर दक्षिण विधानसभा म बगरत हे विकास के नवा अंजोर