डॉ. रमन सिंह

राज्य अऊ देश के विकास बर प्रधानमंत्री ह लीन कई बड़का फैसला: डॉ. रमन सिंह

रायपुर 13 जुलाई 2018। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ह कहिन के कोनो देश या राज्य के तेजी ले विकास बर बड़े निर्णय लेहे के जरूरत होथे। ये काम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ह करे हें। उमन नीति आयोग के गठन करिन। उंखर पहल म केन्द्रीय राजस्व म राज्य के हिस्सा 32 प्रतिशत ले बढ़के 42 प्रतिशत हो गीस। डॉ. रमन सिंह बीते रात इहां एक प्राईवेट टेलीविजन चैनल कोति ले आयोजित ‘राईजिंग छत्तीसगढ़’ कार्यक्रम म नागरिक मन ल सम्बोधित करत रहिन।
उमन कहिन कि केन्द्रीय राजस्व म राज्य मन के हिस्सा दस प्रतिशत बाढ़े म अऊ खनिज बहुल जिला मन म डिस्ट्रक्ट मिनरल फाउडेशन बने म छत्तीसगढ़ ल हर साल 22 सौ करोड़ रूपिया के अकतहा राशि मिलत हे। प्रधानमंत्री ह खदान नीलामी के प्रक्रिया ल परखर बनाए हे। डॉ. सिंह ह छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण अऊ विकास के अबतक के बड़े उपलब्धि मन म घलोक प्रकाश डालिन। उमन कहिन कि कनेक्टिविटी बाढ़े म ही कोनो राज्य के अर्थव्यवस्था तेजी ले बाढ़थे एला ध्यान म रखके हम रेल, सड़क, एयर अऊ टेलिकाम कनेक्टिीविटी बढाए के योजना बनाके काम करत हवन।
मुख्यमंत्री ह कहिन कि बस्तर अऊ सरगुजा के विकास तेजी ले होवत हे ये हमर प्राथमिकता म हे। बस्तर म एक नवा भिलाई के निर्माण होवत हे। बस्तर के नगरनार म स्टील प्लांट अवइया 2-3 महिना म तैयार करे के लक्ष्य हे। अइसनहे ए दुनों जिला मन म मेडिकल कालेज के स्थापना करे गए हे। ए क्षेत्र मन म सड़क मन के जाल बिछाए जात हे। बस्तर जाय बर अच्छा सड़क बन गए हे। उमन कहिन कि छत्तीसगढ़ म सरकार के लम्बा समय तक स्थिरता ले विकास बर नीति अऊ योजना मन के निर्माण अऊ ओखर क्रियान्वन अऊ मानिटरिंग ले जनता तक योजना मन ल पहुंचाए म मदद मिले हे। राज्य म 55 लाख परिवार तक सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत खाद्यान्न वितरण पूरा पारदर्शिता के संग करे जात हे। एकर सराहना पूरा देश भर म होवत हे।



उमन कहिन – राज्य म विकास ल गति दे बर प्रशासनिक विकेन्द्रीकरण करे गीस, जिला मन के संख्या 16 ले बढ़ाके 27 करे गीस। आज ये जिला विकास के केन्द्र के रूप म उभरत हे। पूरा राज्य म स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि सेक्टर म योजना बनाके हमन पाछू 15 बछर म काम करे हवन। शिक्षा के क्षेत्र म बस्तर के जवांगा म राज्य के सबले बड़का एजुकेशन हब बनाए गए हे। अइसनहे बीजापुर म अत्याधुनिक सुविधा ले लैस अस्पताल के निर्माण करे गए हे। सबो गांव मन म बिजली पहुंचाए के लक्ष्य रखे गए हे। सात लाख 40 हजार घर मन म जल्दी बिजली पहुंचाए के काम करे जात हे। अवइया 3-4 महीना म राज्य के हरेक गांव अउ हरेक घर म बिजली पहुंच जाही। अब तक 3 लाख 40 हजार घर मन म बिजली पहुंच गए हे। स्वास्थ्य के क्षेत्र म पहिली सिरिफ एक नर्सिंग कालेज रहिस वो बाढ़के 48 हो गए हे। अब छत्तीसगढ ले देश के आन क्षेत्र मन म नर्स जावत हें। कार्यक्रम के आयोजन प्राइवेट टी.व्ही चैनल न्यूज 18 (मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़) कोति ले करे गीस।



मुहाचाही:  मुख्यमंत्री अचानक पहुंचिन नक्सल प्रभावित कोण्डागांव जिला के गांव पुसापाल