न्‍याय पश्चिम बंगाल

वाट्सएप ले भेजे कागज ल दीस हाई कोर्ट ह मंजूरी

हाई कोर्ट ह वाट्सएप म भेजे नामांकन मन ल कानूनी माने के दीस आदेश
कलकत्ता हाई कोर्ट ह मंगल के दिन नौ निर्दलीय उम्मीदवार मन के याचिका के पक्ष म ये अभूतपूर्व आदेश दीस

कलकत्ता हाई कोर्ट ह राज्य चुनाव आयोग ल आदेश देहे हे के वो ह पंचायत चुनाव बर वाट्सएप के जरिये दायर करे नामांकन मन ल वैध मानय। कोर्ट ह कहिस के चुनाव लड़ईया अपन नामांकन ले संबंधित कागज खुद जमा नइ करा पाइस त वाट्सएप के जरिये नामांकन ले संबंधित कागज अधिकारी ल भेजे रहिन। समवार के दिन कोर्ट ह राज्‍य चुनाव आयोग ल कहे रहिस के वो ह इखंर नामांकन भरे म मदद करय अऊ कागज ल संबंधित अधिकारी के कार्यालय म जमा करवावंय। मंगल के दिन शर्मिष्ठा चौधरी नाम के एक चुनाव लड़वईया ह बताइस कि ओ मन ल कार्यालय के बाहिर इंतजार करवाए गीस अउ बाद म कुछ मनखे मन ह उखंर उपर हमला करके उंखर मेर ले नामाकंन के कागज ल झटक लीन। शर्मिष्ठा चौधरी अऊ आन चुनाव लड़वईया मन ह वाट्सएप के जरिये चुनाव आयोग के अधिकारी मन ल पेपर भेज देहे रहिन।
हाई कोर्ट के जस्टिस सुब्रत तालुकदार ह आदेश दीन के चुनाव आयोग वाट्सएप के जरिये भेजे गए नामांकन मन ल वैध मानय। ये मामला के आखरी सुनवाई नामांकन वापस लेहे के आखरी तारीक के दू दिन बाद 30 अप्रैल के दिन होही। ये फैसला ले ये बात अब आघू आगे के सरकारी साहेब मन ल वाट्सएप ले भेजे कागज, अरजी ल मान्‍यता मिल गए।